Thursday, December 01, 2022
Follow us on
BREAKING NEWS
मुख्यमंत्री मनोहर लाल का बयान,MBBS छात्र डेलीगेशन के साथ लंबी वार्ता हुई है, आज तीसरे दौर की वार्ता हुई हरियाणा में मिलेगा भारत जोड़ो यात्रा को ऐतिहासिक समर्थन, लोग बेसब्री से कर रहे हैं इंतजार- हुड्डा निरोगी हरियाणा" योजना के प्रथम चरण में 24,75,380 अंतोदय परिवारों के 98,13,214 सदस्यों का होगा निशुल्क सघन स्वास्थ्य परीक्षण- स्वास्थ्य मंत्री अनिल विजलोगों के आकर्षण का केंद्र बनी अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में लगी राज्य स्तरीय प्रदर्शनी, जन-जन तक पहुंच रहा श्रीमद्भगवद्गीता का संदेश1.80 लाख रूपए से कम सालाना आय वालों का ऑटोमेटिक बन जाएगा बीपीएल कार्ड - डिप्टी सीएम हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय व मुख्यमंत्री मनोहर लाल बुधवार को चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर भारत की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को विदाई देते हुए lचिरायु कार्ड बनाने में मदद करेंगे ग्राम संरक्षक , तीन दिसंबर को शपथ भी दिलाएंगे पंच-सरपंचों को , मुख्यमंत्री ने ‘ग्राम सरंक्षक संवाद कार्यक्रम’ में दिए निर्देशगीता महोत्सव में 4 दिसंबर को 18 हजार दीपकों से प्रकाशमय होगा सन्निहित सरोवर का तट
Haryana

क्राइम ब्रांच ने अलग अलग केस में बचाये साढ़े 6 लाख से ज़्यादा

November 23, 2022 05:11 PM

आजकल कैश की बजाय ऑनलाइन और कार्ड पेमेंट का चलन है। लोग बैंकों से पैसे निकालने की झंझट और समय से बचने के लिए डायरेक्ट कार्ड के जरिए पेमेंट करते हैं। लोगों की जेब में अब कैश की बजाय क्रेडिट और डेबिट कार्ड मौजूद होते हैं। लेकिन कार्ड पेमेंट के तरीके बढ़ने के साथ-साथ कार्ड से जुड़े फ्रॉड भी बढ़ रहे हैं। पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि आजकल क्रेडिट कार्ड की बढ़ती ज़रूरतों के कारण लोग सुविधाओं के लिए गूगल पर चले जाते है और ऑनलाइन अधिकतर उपलब्ध नंबर फ्रॉड होते हैं । उन्ही के चंगुल में फंस कर लाखों रूपए गँवा बैठते हैं ।
जानकारी देते हुए बताया की पहले केस में गुरुग्राम निवासी अनंत अग्रवाल ने क्रेडिट कार्ड के रिवॉर्ड को कैश में बदलवाने के लिए अनजान नंबर से कॉल आई। ठगों की बातों में आकर अनंत ने क्रेडिट कार्ड से जुडी सभी जानकारी ठगों को उपलब्ध करवा दी जिसके कारण ठगों ने तक़रीबन 2,63,195 की धोखाधड़ी को अंजाम दिया। जैसे ही पीड़ित को ठगी का एहसास हुआ, पीड़ित ने तुरंत अपनी शिकायत साइबर हेल्पलाइन 1930 पर दी।  पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पीड़ित के 82,199 बचाये और पीड़ित को वापस दिलवाये। पुलिस ने केस दर्ज कर आगे कार्रवाई शुरू कर दी है।  
वहीँ दूसरे केस में अम्बाला में गुलशन कुमार क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़वाने के चक्कर में आ गए। अनजान कॉल पर भरोसा करने की गलती की और 75000 की धोखाधड़ी की गई। जैसे ही उपरोक्त केस में शिकायत 1930 पर दी गई तो पुलिस ने पूरी पेमेंट बचाकर पीड़ित को वापस दिलवाये।  ऐसे ही एक अन्य केस में भिवानी के मनोज के साथ 48 हज़ार की धोखाधड़ी हुई जहाँ पीड़ित को क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ाने का लालच दिया गया था। 1930 पर शिकायत देने के बाद पुलिस ने धोखाधड़ी की सारी रकम फ्रीज़ की और पीड़ित को पेमेंट वापस दिलवाई।  
 
सोशल मिडिया का इस्तेमाल कर रहे हैं ठग, कभी न्यूड कॉल पर ब्लैकमेल तो कभी पैसे दुगने करने का देते है लालच
पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि साइबर टीम को 1930 पर एक शिकायत प्राप्त हुई। पानीपत के मोहित ने बताया कि उसने सोशल मिडिया एप्लीकेशन इंस्टाग्राम पर एक एड देखी जहाँ ऑनलाइन बेटिंग का ऑफर दिया गया था। उक्त ऑफर में पैसे दुगने करने को कहा गया था , जिस पर भरोसा कर पीड़ित ने 50000 रूपए निवेश कर दिए। लेकिन कुछ समय बाद जैसे ही मोहित का ठगी का एहसास हुआ, उसने तुरंत 1930 पर अपनी शिकायत दी। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए खाता फ्रीज़ कर, पीड़ित को उसके पैसे तुरंत रिफंड करवाए। ऐसे ही एक अन्य केस में 1930 पर शिकायत प्राप्त हुई कि किसी ने जींद निवासी शिकायतकर्ता की व्हाट्सप्प द्वारा अश्लील वीडियो बना ली है और उसे ब्लैकमेल करके तक़रीबन 1.57 लाख की ठगी को अंजाम दिया। शिकायतकर्ता की शिकायत पर काम करते हुए पुलिस ने तुरंत 1.40 लाख बचाये और केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। आगे जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया की ऐसे ही एक अन्य केस में साइबर हेल्पलाइन को शिकायत प्राप्त हुई कि गुरुग्राम निवासी महिला ने लोन लेने के लिए गूगल पर नंबर ढूंढा और लोन लेने लिए ठगों कि बातों में आ गई। पीड़िता से प्रोसेसिंग फ़ीस और रजिस्ट्रेशन के नाम पर तक़रीबन 1.54 लाख की ठगी की गई, जिस पर शिकायत प्राप्त होते ही सारे पैसे तुरंत पीड़िता को वापस करवाए गए।  

जल्दी डिलीवरी के नाम पर ठगे 1.40 लाख, पुलिस ने बचाये 1.35 लाख

पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया की आजकल साइबर ठग नए नए तरीकों से साइबर ठगी को अंजाम दे रहे है।  ऐसी ही एक नई मोडस ऑपरेंडी में साइबर ठगों ने डिलीवरी कंपनियों के नाम पर फ्रॉड शुरू किये है। आजकल लोग समय की कमी होने के कारण ऑनलाइन शॉपिंग को पसंद करते है। जैसे ही डिलीवरी का मैसेज आता है लोग डिलीवरी कम्पनी का नंबर गूगल पर ढूंढने की कोशिश करते है, जिसके कारण वो साइबर ठगी में फंस जाते है।  साइबर हेल्पलाइन को दी गई शिकायत में सोनीपत निवासी महिला ने बताया की उसने एक प्रोडक्ट अमेज़न से मंगवाया था।  जिसकी जल्दी डिलीवरी के लिए उसने गूगल पर नंबर ढूंढा और ठगों से संपर्क कर लिया।  ठगों की बातों में आकर पीड़िता ने अपने फ़ोन में एनीडेस्क एप्लीकेशन इंसटाल कर ली और अपने फ़ोन की सभी संवेदनशील जानकारी ठगों को दे दी।  इसी का फायदा उठाते हुए ठगों ने पीड़िता के खाते से 1 लाख का फ्रॉड कर दिया।  पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने तुरंत 95 हज़ार वापस दिलवाने में सफलता हासिल की।  ऐसे ही एक अन्य केस में रोहतक के बलराम दांगी जल्दी कूरियर मंगवाने के चक्कर में साइबर ठगों के चंगुल में जा फंसे। जैसे ही बलराम ने अपनी जानकारी ठगों को दी, उसके साथ तक़रीबन 40 हज़ार की ठगी की गई , जिसपर पुलिस ने तुरंत कार्रवाई कर, पीड़ित के सारे रूपए वापस दिलवाये।  

क्रेडिट कार्ड की जानकारी ना करें साझा और ना ही गूगल पर ढूंढे कस्टमर केयर नंबर : अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, क्राइम ब्रांच
अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह आईपीएस ने बताया की क्रेडिट कार्ड हो या डेबिट कार्ड, इन दोनों की डिटेल चुराकर ठगी होना अब आम बात हो गई है। आजकल हम कहीं भी मार्केट में शॉपिंग करने जाते हैं या फिर ऑनलाइन कहीं पेमेंट करते हैं, इन सभी जगहों से हमारे कार्ड की डिटेल चोरी होने का खतरा हमेशा बना रहता है। इसके अलावा भी हमारे कार्ड की डिटेल आजकल साइबर ठगों के पास पहुँच जाती है। इनसे बचाव का एक ही तरीका है और वो यह है कि हमें किसी भी कीमत पर उन्हें ओटीपी और पासवर्ड किसी को ना बताएं और ना ही गूगल पर कस्टमर केयर का नंबर ढूंढे। कस्टमर केयर का नंबर क्रेडिट कार्ड के पीछे लिखा होता है, सिर्फ वही संपर्क करें।  इसके अलावा सोशल मिडिया पर भी सतर्क रहे। कई बार आर्थिक लाभ के चक्कर में साइबर ठगी हो जाती है। किसी भी जगह पैसे इन्वेस्ट करने से पहले अच्छी तरह जांच पड़ताल अवश्य करें।  किसी भी प्रकार का साइबर अपराध होने की स्थिति में तुरंत साइबर हेल्पलाइन 1930 पर शिकायत दर्ज करवाएं।  

क्रेडिट व डेबिट कार्ड सम्बन्धी अपराधों में हुआ है इज़ाफ़ा, ज़रूरत है सतर्क रहने की।
कार्ड स्कीमिंग, कार्ड क्लोनिंग जैसे फ्रॉड अक्सर कार्ड स्वैपिंग के वक़्त ही होते हैं। चालाक किस्म के दुकानदार स्वैप मशीन से अटैच सिस्टम में की-लॉगर इनस्टॉल करके रखते हैं। ऐसे में जब यूजर बिल पे करने के लिए कार्ड स्वैप करता है तो की-लॉगर में उसका पासवर्ड और कार्ड से जुड़ी जानकारी जैसे सीवीवी नंबर और एक्सपायरी डेट सेव हो जाती है।  इसके अलावा डेबिट कार्ड स्वाइप करने के दौरान कार्ड की मैगनेटिक स्ट्रिप पर मौजूद सारा डाटा दूसरे कंप्यूटर या लैपटॉप में फीड हो जाता है। इसके लिए अपराधी अक्सर कार्ड मशीन में ‘स्कीमर डिवाइस’ का उपयोग करते हैं ।  इसके अलावा भी हैकर्स पेमेंट कार्ड की डिटेल को बल्क में खरीदते हैं और उसके द्वारा साइबर अपराध करते हैं ।

डेबिट-क्रेडिट कार्ड फ्रॉड से बचने के लिए आजमाएं ये टिप्स
कई बार लोगों को फर्जी फोन कॉल आते हैं, सामने वाला खुद को बैंक मैनेजर बताता है, आपके अकाउंट को सिक्योर रखने की बात करता है और बदले में आपका कार्ड पिन पूछता है। ऐसे में गलती से भी अपनी पिन डिटेल्स शेयर न करें और तुरंत फोन कॉल की रिपोर्ट करे।  
गलती से भी अपना डेबिट/क्रेडिट कार्ड किसी को न दे। कई लोग कार्ड के ऊपर पासवर्ड भी लिख देते हैं, जिससे चोरों का काम और आसान हो जाता है। इसके अलावा अपने बैंक से लिंक फोन नंबर को इस्तेमाल में रखें और अपडेट करते रहें। इसके अलावा आजकल बहुत सी फिशिंग वेबसाइट आ रही हैं जो कम कीमत में सामान बेचने का दावा करती हैं। अक्सर सस्ते के चक्कर में लोग इन वेबसाइट के जरिए हो रही लूट का शिकार हो जाते हैं। होटल, पेट्रोल पंप, दुकान जैसी जगहों पर कार्ड क्लोनिंग के मामले जोर पकड़ते हैं, इसलिए सावधानी बरतें ।
क्रमांक 2022

इस बार व्यापार मेले का थीम- ‘वोकल फॉर लोकल, लोकल टू ग्लोबल‘ रखा गया है जो कि बहुत ही सराहनीय है:दत्तात्रेय


चण्डीगढ़ 23 नवम्बर- हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने आज नई दिल्ली में आयोजित भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में स्टालों पर उपलब्ध उत्पाद निर्माताओं तथा स्टार्ट अप से बातचीत करते हुए कहा कि  इस दौरान हरियाणा मंडप का दौरा कर वहां लगाए गए सभी 25 स्टॉल को पूरी रूचि से देखा।

राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि भारत अंतर्राष्ट्रीय गुणवत्ता के उत्पाद बनाने का प्रमुख स्थल बने। उन्होंने उत्पाद निर्माताओं से बातचीत करते हुए कहा कि हरियाणा के लोकल उत्पादों की गुणवत्ता अंतर्राष्ट्रीय स्तर की अर्थात ग्लोबल जैसी हो ताकि अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में हमारे उत्पादों की मांग बढ़े। हरियाणा क्षेत्रफल में छोटा राज्य होते हुए भी देश के प्रमुख राज्यों में गिना जाता है। हरियाणा ने कई उपलब्धियां अपने नाम की है, जहां हरियाणा खेलों में अग्रणी राज्य में है, वही स्वास्थ्य मानकों के सुधारीकरण के मामले में हरियाणा देश में प्रथम स्थान पर है। ऊर्जा दक्षता में सन 2019 में हरियाणा देश में अव्वल रहा है और परिवार पहचान पत्र जैसी अनूठी पहल देश में पहली बार हरियाणा में शुरू की गई है जिसके माध्यम से प्रदेश वासियों को सरकार की ओर से दी जाने वाली सेवाएं और सुविधाएं सरलता से उनके घर द्वार पर पहुंचाई जा रही हैं। यही नहीं, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस और एमएसएमई में हरियाणा देश में टॉप अचीवर्स में है।

उन्होंने कहा कि शैक्षणिक, औद्योगिक, सूचना प्रौद्योगिकी, खेलो आदि क्षेत्रों में हरियाणा देश का अग्रणी राज्य है और इनके साथ साथ सांस्कृतिक धरोहर को सहेजने विशेषकर कुरुक्षेत्र की देश ही नहीं विश्व में भी बड़ी पहचान है जहां से भगवान श्री कृष्ण ने पूरी मानवता को गीता का दिव्य संदेश देते हुए सभी को अपना कर्म इमानदारी से करने की सीख दी है।

इस बार भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले के हॉल नंबर 5 में लगाए गए हरियाणा मंडप में जहां एक ओर गुरुग्राम का आईटी उद्योग प्रदर्शित किया गया है, वहीं दूसरी ओर यह दर्शाया गया है कि हरियाणा किस प्रकार से निवेश के लिए उत्तम स्थान है।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
मुख्यमंत्री मनोहर लाल का बयान,MBBS छात्र डेलीगेशन के साथ लंबी वार्ता हुई है, आज तीसरे दौर की वार्ता हुई निरोगी हरियाणा" योजना के प्रथम चरण में 24,75,380 अंतोदय परिवारों के 98,13,214 सदस्यों का होगा निशुल्क सघन स्वास्थ्य परीक्षण- स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में लगी राज्य स्तरीय प्रदर्शनी, जन-जन तक पहुंच रहा श्रीमद्भगवद्गीता का संदेश 1.80 लाख रूपए से कम सालाना आय वालों का ऑटोमेटिक बन जाएगा बीपीएल कार्ड - डिप्टी सीएम
हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय व मुख्यमंत्री मनोहर लाल बुधवार को चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर भारत की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को विदाई देते हुए l
चिरायु कार्ड बनाने में मदद करेंगे ग्राम संरक्षक , तीन दिसंबर को शपथ भी दिलाएंगे पंच-सरपंचों को , मुख्यमंत्री ने ‘ग्राम सरंक्षक संवाद कार्यक्रम’ में दिए निर्देश गीता महोत्सव में 4 दिसंबर को 18 हजार दीपकों से प्रकाशमय होगा सन्निहित सरोवर का तट
कांग्रेस ने अपने अंदर रावण को छुपा कर रखा हुआ है’’- अनिल विज
महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के हरियाणा दौरे का दूसरा दिन, हरियाणा राजभवन में आज आशा वर्कर, महिला खिलाड़ियों और ग्रामीण महिलाओं से कर रही हैं संवाद चंडीगढ़ - हड़ताली MBBS छात्रों से मुख्यमंत्री की मुलाकात