Tuesday, November 29, 2022
Follow us on
BREAKING NEWS
गठबंधन सरकार ने बहुत सारे बड़े वादों को किया पूरा – दिग्विजय नवनिर्वाचित राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू का कल होगा उनका पहला हरियाणा का दौरा ब्रह्मसरोवर के बाद चण्डीगढ़ राजभवन में होंगी स्टेट गेस्टराष्ट्रपति के कुरुक्षेत्र दौरे को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, डीजीपी हरियाणा ने लिया सुरक्षा व्यवस्था का जायजाएम.डब्ल्यू.बी. के डेलिगेशन ने की हरियाणा सरकार के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉक्टर अमित अग्रवाल से की मुलाकातनशा तस्करों के खिलाफ हमारा बुलडोजर पूरे हरियाणा में चल रहा है, प्रदेश में अरबों की संपत्ति वाले 28 ऐसे केस क्लीयरेंस के लिए केंद्र को भेजे : गृह मंत्री अनिल विजविजय हजारे ट्रॉफी: ऋतुराज गायकवाड़ ने एक ही ओवर ठोके 43 रन, जड़े सात छक्केसूरत: आप संयोजक अरविंद केजरीवाल के रोड शो में हुआ पथरावभारत जोड़ो यात्रा के बीच आज राहुल गांधी इंदौर में 1 बजे प्रेस कांफ्रेंस करेंगे
Punjab

Ex-bureaucrats, veterans slam PM Modi’s ‘parasite’ remark

February 10, 2021 05:15 AM

COURTESY HT FEB 10

Ex-bureaucrats, veterans slam PM Modi’s ‘parasite’ remark

Retired IAS officer and ex-Punjabi University V-C Swaran Singh Boparai (centre, black turban) with others in Chandigarh. HT
HT Correspondent

letterschd@hindustantimes.com

CHANDIGARH : Retired IAS and IPS officers as well as defence veterans on Tuesday passed a resolution condemning Prime Minister Narendra Modi’s speech in the Rajya Sabha referring to the protesting farmers as ‘parjeevis’ (parasites).

Nearly 60 former officers observed two-minute silence in memory of the farmers who died during the protests at the Delhi borders since November 26 demanding repeal of the Centre’s three contentious agriculture laws.

“Please do not abuse the farmers by calling them parasites,” said Swaran Singh Boparai, a retired IAS officer and former Punjabi University vice-chancellor. The resolution also sought early solution to the farmers’ demands and appealed to the protestors to remain peaceful.

Former Punjab chief secretary Ramesh Inder Singh said the resolution would be brought into public domain in form of an open document.

Among those present were former Punjab State Electricity Regulatory Commission chairman DS Bains, former principal secretary GPS Shahi besides SR Ladhar, Kulbir Singh Sidhu, Harkesh Singh Sidhu, MPS Aulakh and Brig (retd) Harwant Singh.

The retired officers were unanimous that in countries where are such laws have been implemented farmers are given bigger subsidies than what is offered in India.

“As suggested by the farm union leaders we will build public opinion in favour of the protesting farmers,” Swaran Singh Boparai added.

 

Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
पंजाब सरकार ने 22 आईएएस और 10 पीसीएस अधिकारियों का किया तबादला
पठानकोट और अमृतसर में तीन जगह घुसपैठ की कोशिश, फायरिंग के बाद भाग निकले संदिग्ध अमृतसर: पंजाब विजिलेंस ने पूर्व डिप्टी सीएम ओम प्रकाश सोनी को भेजा समन, कल तलब किया पराली जलाने पर एनएचआरसी ने पंजाब से मांगी विस्तृत रिपोर्ट
हरजिंदर सिंह धामी शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबन्धक कमेटी के प्रधान चुने गए,धामी ने बीबी जागीर कौर को 62 वोटों से हराया
अमृतसर: पीएम मोदी ने राधा स्वामी सत्संग ब्यास प्रमुख से मुलाकात की पीएम मोदी 5 नवंबर को पंजाब स्थित राधास्वामी सत्संग ब्यास जाएंगे चिंतन शिविर में CM भगवंत मान ने अमित शाह से की अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर और फेंसिंग के बीच दूरी घटाने की मांग पंजाब विजिलेंस ब्यूरो के AIG मनमोहन शर्मा को 50 लाख रुपये से भरा बैग देते हुए पूर्व मंत्री सुंदर श्याम अरोड़ा गिरफ़्तार
पंजाब में 10 IAS अफसरों समेत 38 अधिकारियों का तबादला