Thursday, October 29, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
निकिता मर्डर केस की जांच के लिए DCP की देखरेख में SIT का गठनप्रधानमंत्री मोदी ने फ्रांस में चर्च में हुए हमले की निंदा कीग्रेटर नोएडा वेस्ट: गौर सिटी-2 में अज्ञात युवक ने की फायरिंग, सोसाइटी में हड़कंपनिकिता के दोषियों को मिलेगी कड़ी से कड़ी सजा : ओमप्रकाश धनखड़गठबंधन का हमने एक साल पूरा किया:मनोहर लाल, हरियाणा के मुख्यमंत्रीकेरलः गोल्ड स्मगलिंग केस में ED की कार्रवाई, मुख्यमंत्री के पूर्व प्रधान सचिव शिवशंकरन गिरफ्तारदिल्लीः हिंदूराव हॉस्पिटल के डॉक्टर्स की हड़ताल खत्म, बकाया वेतन के भुगतान की थी मांगISRO सात नवंबर को लॉन्च करेगा EOS-01 सैटेलाइट, बादलों के बीच भी पृथ्वी पर रखी जा सकेगी नजर
Haryana

अफगानी छात्रों के पहले बैच की डिग्री पूरी, कहा विश्वविद्यालय में मिला घर जैसा माहौल

October 18, 2020 04:57 PM

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार में पढऩे आए अफगानिस्तान के छात्रों के पहले बैच की स्नातकोत्तर की डिग्री पूरी होने पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर समर सिंह ने विद्यार्थियों को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।

        प्रोफेसर समर सिंह ने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे अपनी डिग्री के दौरान विश्वविद्यालय से अर्जित ज्ञान को अपने देश में किसानों की भलाई के लिए अधिक से अधिक प्रयोग करें और अपने अनुभवों को अपने देश के विद्यार्थियों से भी सांझा करें। साथ ही उच्च शिक्षा के लिए इस विश्वविद्यालय में दाखिले के लिए भी प्रेरित करें।

इस दौरान विद्यार्थियों ने भी अपने अनुभव सांझा करते हुए बताया कि उन्हें विश्वविद्यालय का माहौल बहुत ही अच्छा लगा और विद्यार्थियों,प्राध्यापकों व अन्य लोगों का व्यवहार काबिलेतारीफ है जिसके चलते उन्हें अपने परिवार जैसा माहौल मिला है। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय में शिक्षण, शोध व विस्तार की सुविधाएं विश्वस्तरीय विश्वविद्यालयों की तर्ज पर उपलब्ध हैं। कोरोना महामारी के चलते कठिन परिस्थितियों में भी विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा उनका भरपूर सहयोग किया गया।

        विश्वविद्यालय की स्नातकोत्तर अधिष्ठाता व ग्रेन प्रोजेक्ट की नियंत्रण अधिकारी डॉ. आशा क्वात्रा ने बताया कि यह प्रोजेक्ट अमेरिका की मिशीगन स्टेट यूनिवर्सिटी के सहयोग से 2018 में चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार में शुरू हुआ था। अब तक स्नातकोत्तर और पीएचडी प्रोग्राम में कुल 14 अफगानी विद्यार्थियों का पंजीकरण हुआ है।

 
Have something to say? Post your comment