Sunday, January 17, 2021
Follow us on
Haryana

बरोदा में झूठे वादे करके लोगों को बरगलाने में जुटी हैं गठबंधन सरकारः भूपेंद्र सिंह हुड्डा

August 12, 2020 06:41 PM

सोनीपतः पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने बीजेपी-जेजेपी सरकार को आड़े हाथों लिया है। उनका कहना है कि गठबंधन की दोनों पार्टियां आज बरोदा में झूठे वादों का पुलिंदा लेकर घूम रही हैं। 6 साल तक हलके की अनदेखी करने वाली सरकार उपचुनाव में वोट बटोरने के लिए लोगों को बरगलाने में लगी है। जबकि बरोदा की जनता को पता है कि बेमेल गठबंधन की इस सरकार का कोई भविष्य नहीं है। बरोदा के नतीजों के साथ इस सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी।

हुड्डा ने बताया कि बरोदा के 8 गांवों रिंढ़ाना, धनाना, बनवासा, घढ़वाल, भावड़, कहल्पा और कथूरा में जलभराव का मामला विधानसभा की याचिका कमेटी में पहुंच गया है। विधायक जगबीर मलिक, गीता भुक्कल और शकुंतला खटक ने सरपंचों की मांग के बाद ये मुद्दा कमेटी के सामने रखा। इसपर अधिकारियों से जवाब-तलब किया जा रहा है। कांग्रेस की मांग है कि सरकार फौरन गांववालों को साढ़े 4 हज़ार एकड़ में हुए नुकसान का मुआवज़ा दे। समस्या के स्थाई समाधान के लिए ड्रेन बनवाई जाए।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि बरोदा को बता है कि गठबंधन के नेता भरोसे लायक नहीं हैं। जो लोग पिछले चुनाव में एक-दूसरे को कोस रहे थे, वहीं आज एक दूसरे की तारीफ़ में कसीदे पढ़ रहे हैं। जनता ऐसे लोगों का भरोसा नहीं करती जो हर चुनाव में अपनी बात से पलट जाते हैं। इसलिए इस उपचुनाव में लोग बरोदा ही नहीं पूरे हरियाणा में हो घपले घोटालों का हिसाब गठबंधन सरकार से लेंगे। क्योंकि 6 साल से लगातार इस सरकार में एक के बाद एक घोटाले हो रहे हैं। घोटाले इतने बड़े हैं कि लाख कोशिशों के बावजूद सरकार इन्हें दबा नहीं पाई। शराब घोटाले की बात करें तो पूरा प्रदेश इसका गवाह है। लेकिन सरकार ने इसकी जांच हाई कोर्ट के सिटिंग जज, सीबीआई या जेपीसी की तरह विधानसभा की कमेटी से ना करवाकर एसईटी से करवाई है। एसईटी को भी सरकार ने कोई पावर नहीं दी। बुधवार को कांग्रेस ऐसे घोटालों के खिलाफ सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करेगी।

नेता प्रतिपक्ष ने घोटालों की लंबी लिस्ट मीडिया के सामने रखी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में यमुना से लेकर अरावली तक माइनिंग घोटाला हो रहा है। ओवर लॉडिंग घोटाले का आलम ये है कि खनन माफिया तय करते हैं कि उनका ट्रक किस सड़क, गांव या शहर से होकर गुज़रेगा, वो भी बिना किसी कागज़ या परमिशन के। सोनीपत ज़िला इस घोटाले का प्रत्यक्षदर्शी है। रजिस्ट्री घोटाले का ज़िक्र करते हुए हुड्डा ने कहा कि मौजूदा सरकार में कई साल से अवैध कॉलोनियां बसाना का गोरखधंधा चल रहा है। लॉकडाउन के दौरान भी 32 शहरों में करीब 30,000 रजिस्ट्रिओं में धांधली के खेल का ख़ुलासा हुआ है। इतना ही नहीं लॉकडाउन में सरसों और चावल ख़रीद में धांधली सामने आई है। जींद के बीजेपी विधायक ने तो ख़ुद मान लिया है जींद में हर ईंट पर भ्रष्टाचार की मोहर लगी है। वहां 4 साल में बीजेपी नेता ने जमकर घोटाले किए। जींद में भी बीजेपी ने उपचुनाव के दौरान लोगों से झूठे वादे करके वोट बटोरे थे।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मौजूदा सरकार नौकरियां देने की बजाए, नौकरियां छीनने में लगी है। पहले 1983 पीटीआई और अब खेल कोटे से ग्रुप डी में भर्ती हुए 1500 कर्मचारियों को भी नौकरी से निकालने की तैयारी है। लेकिन कांग्रेस कर्मचारियों के साथ खड़ी है और पीटीआई की बहाली के लिए विधानसभा के मॉनसून सत्र में प्राइवेट मेंबर बिल लेकर आएगी। इसकी ज़िम्मेदारी रोहतक से विधायक भारत भूषण बतरा को सौंपी गई है। हुड्डा ने कहा कि आज प्रदेश के करीब एक लाख HTET पास युवा जेबीटी भर्ती का इंतज़ार कर रहे हैं। लेकिन इस सरकार ने एक भी भर्ती नहीं निकाली। जबकि हमारी सरकार में 20 हज़ार से ज्यादा भर्तियां निकाली गई थीं।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि मौजूदा सरकार ने हमारे कार्यकाल के दौरान खिलाड़ियों के लिए बनाई गई ‘पदक लाओ, पद पाओ नीति’ को ‘भेदभाव नीति’ बना दिया है। तमाम खिलाड़ी सवाल कर रहे हैं कि उन्हें नियुक्तियां क्यों नहीं दी जा रही। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का नाम रोशन करने वाले बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक, मंजीत चहल, अमित पंघाल, नीरज चोपड़ा, बॉक्सर मनोज, विनेश फोगाट, एकता भ्यान और अमित सरोहा जैसे खिलाड़ी आज भी पद से वंचित हैं।

हुड्डा ने कहा कि किसानों से बिना पूछे फसल बीमा योजना की किश्त खातों से काटी जा रही है। कोरोना और मंदी के दौर में सरकार ने बीमा की किश्त में करीब 3 गुणा बढ़ोत्तरी कर दी। पहले किसान को कपास बीमा के लिए 620 रुपये देने पड़ते थे, उसे बढ़ाकर 1650 रुपये कर दिया है।


सोनीपत दौरे के दौरान नेता प्रतिपक्ष के साथ पूर्व प्रदेशाध्यक्ष धर्मपाल मलिक, पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा, विधायक जगबीर मलिक, बीबी बतरा, जयवीर वाल्मीकि, गीता भुक्कल, शकुंतला खटक, धर्म सिंह छोक्कर, बलबीर वाल्मीकि, सुरेंद्र पंवार, सुभाष गांगोली, कुलदीप वत्स, राजेंद्र जून, पूर्व विधायक जयतीर्थ दहिया, सुखबीर फरमाणा, वरिष्ठ नेता प्रो. विरेंद्र सिंह, सुरेंद्र शर्मा, प्रदीप सांगवान, सुरेंद्र दहिया, कर्नल रोहित चौधरी, इंदूराज नरवाल, जोगेंद्र दहिया, प्रदीप गौतम, मनोज रिढ़ाऊ, अशोक छाबड़ा, प्रमोद भगत, धर्मेंद्र सिंह ढुल, सुरेश गोयत, रोहित दलाल, कमल हसीजा, मुकेश तायल, सुदामा, विक्की दहिया, जगबीर, सतीश कोशिक, कुलबीर सरोहा, हवासिंह ठेकेदार, दिनेश अंतिल, निखिल मदान, नीलकंठ मुखिजा, कृष्ण मलिक, बिजेंद्र गर्ग, अमित आर्य भी मुख्य तौर पर मौजूद थे।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
Oppn expresses shock over Haryana govt going against guv Protesting farmers disrupt drive at Kaithal 5,907 people vaccinated in Haryana on Day 1 मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में हुई हरियाणा राज्य सूखा राहत एवं बाढ़ नियंत्रण बोर्ड की 52वीं बैठक
हरियाणा के जेल मंत्री रणजीत सिंह ने आज पानीपत की जिला जेल में राज्य के पहले जेल रेडियो की शुरुआत की
पेपर लीक मामले की हाईकोर्ट के दो सिटिंग जजों का स्पेशल ज्यूडिशियल कमीशन बनाकर हो जांच:सुरजेवाला
कुमारी सैलजा ने कालका में काली माता मंदिर पहुंचकर काली माता के दर्शन किए और सभी के जीवन में सुख, शांति व समृद्धि के लिए प्रार्थना की
प्रधानमंत्री ने काले कृषि कानून अ बानी व अडानी के लिए बनाए हैं: अभय सिंह चौटाला
रामकथा के दौरान विधायक नीरज शर्मा ने रावण की तुलना सरकार से कहा, जनता को न्याय दे
करनाल के बसताड़ा टोल प्लाजा पर धरनारत किसानों के बीच पहुंचे भूपेंद्र सिंह हुड्डा