Tuesday, August 04, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने राज्य में फसल अवशेष प्रबंधन के लिए 1,304.95 करोड़ रुपये की एक व्यापक योजना स्वीकृति प्रदान की मंडियों में नहीं रहेगी बारदाने की कमी : दुष्यंत चौटालाआडवाणी, जोशी, कल्याण सिंह राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में नहीं होंगे शामिल: स्वामी गोविंद गिरीराम मंदिर निर्माण शुभारंभ कार्यक्रम में कुल 175 लोगों को भेजा निमंत्रण: श्री राम जन्मभूमि ट्रस्टसुशांत सिंह राजपूत केस में पिता का बड़ा आरोप, कहा- मुंबई पुलिस को फरवरी में ही किया था आगाहसुशांत सिंह राजपूत केस में पिता से मुंबई पुलिस का सवाल, किस थाने में दी थी शिकायत?सुशांत सिंह राजपूत के पारिवारिक सूत्रों ने कहा- पूजा-पाठ के नाम पर अकाउंट से निकाले गए पैसेगुजरात के भरूच जिले में महसूस किए गए भूकंप के झटके
Uttrakhand

स्वामी रामदेव ने किया ऐलान- पतंजलि ने बना ली कोरोना पर दवाई

June 23, 2020 12:23 PM

कोरोना वायरस की महामारी ने दुनियाभर में तबाही मचाई हुई है. लेकिन अबतक इसका तोड़ निकालने वाली कोई दवाई नहीं बनी है. अब योगगुरु बाबा रामदेव की पतंजलि कंपनी का दावा है कि उन्होंने इसकी दवा तैयार कर ली है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में रामदेव ने कहा कि दुनिया इसका इंतजार कर रही थी कि कोरोना वायरस की कोई दवाई निकले, आज हमें गर्व है कि कोरोना वायरस की पहली आयुर्वेदिक दवाई को हमने तैयार कर लिया है. इस आयुर्वेदिक दवाई का नाम कोरोनिल है.

रामदेव बोले कि आज ऐलोपैथिक सिस्टम मेडिसन को लीड कर रहा है, हमने कोरोनिल बनाई है. जिसमें हमने क्लीनिकल कंट्रोल स्टडी की, सौ लोगों पर इसका टेस्ट किया गया. तीन दिन के अंदर 65 फीसदी रोगी पॉजिटिव से नेगेटिव हो गए.

योगगुरु रामदेव ने कहा कि सात दिन में सौ फीसदी लोग ठीक हो गए, हमने पूरी रिसर्च के साथ इसे तैयार किया है. हमारी दवाई का सौ फीसदी रिकवरी रेट है और शून्य फीसदी डेथ रेट है. रामदेव ने कहा कि भले ही लोग अभी हमसे इस दावे पर प्रश्न करें, हमारे पास हर सवाल का जवाब है. हमने सभी वैज्ञानिक नियमों का पालन किया है.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में योगगुरु रामदेव बोले कि इस दवाई को बनाने में सिर्फ देसी सामान का इस्तेमाल किया गया है, जिसमें मुलैठी-काढ़ा समेत कई चीज़ों को डाला गया है.

अगले एक हफ्ते में स्टोर में और फिर आएगी ऐप

प्रेस कॉन्फ्रेंस में योगगुरु रामदेव बोले कि इस दवाई को बनाने में सिर्फ देसी सामान का इस्तेमाल किया गया है, जिसमें मुलैठी-काढ़ा समेत कई चीज़ों को डाला गया है. साथ ही गिलोय, अश्वगंधा, तुलसी, श्वासरि का भी इस्तेमाल किया गया.रामदेव ने कहा कि आयुर्वेद से बनी इस दवाई को अगले सात दिनों में पतंजलि के स्टोर पर मिलेगी, इसके अलावा सोमवार को एक ऐप लॉन्च किया जाएगा जिसकी मदद से घर पर ये दवाई पहुंचाई जाएगी.

पतंजलि का दावा है कि कोरोना वायरस को मात देने वाली ये दवाई आयुर्वेदिक है, इसका नाम कोरोनिल दिया गया है.पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण ने दावा किया कि पतंजलि ने आर्युवेद की मदद से कोरोना वायरस को मात देने वाली दवा बना ली है. कोरोना की बीमारी जब से आई थी हम तभी से इस दवाई को लेकर प्रयास कर रहे थे, अब ये हमारा प्रयास सफल हो गया पतंजलि का दावा है कि यह शोध संयुक्त रूप से पतंजलि रिसर्च इंस्टीट्यूट (PRI), हरिद्वार एंड नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (NIMS), जयपुर द्वारा किया गया है. दवा का निर्माण दिव्य फार्मेसी, हरिद्वार और पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड, हरिद्वार के द्वारा किया जा रहा है.।

Have something to say? Post your comment
More Uttrakhand News
उत्तराखंड: बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर बड़ा हादसा, अनियंत्रित आर्मी ट्रक गहरी खाई में गिरा उत्तराखंडः देहरादून, टिहरी और पौढ़ी में अगले 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी उत्तराखंड में भारी बारिश का अनुमान, 5 जिलों के लिए अलर्ट जारी
हरिद्वार:हर की पौड़ी पीडब्ल्यूडी के काम चलते दीवार गिरी,पौड़ी तहस-नहस हुई
उत्तराखंड: भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन के कारण लामबगड़ में बद्रीनाथ हाईवे ब्लॉक देहरादून: 06 जुलाई से शुरू हो रही कांवड़ यात्रा स्थगित- उत्तराखंड पुलिस उत्तराखंड के पहाड़ी जिलों में 3/4/5 जुलाई को भारी बारिश का अलर्ट उत्तराखंड: 3 वरिष्ठ IPS अधिकारियों का तबादला, अभिनव कुमार होंगे गढ़वाल रेंज के नए IG उत्तराखंड: बागेश्वर, नैनीताल, रुद्रप्रयाग, देहरादून, पिथौरागढ़ में भारी बारिश का अलर्ट कोविड-19 इफेक्ट: उत्तराखंड में नई भर्तियों और इंक्रीमेंट पर सरकार ने लगाया ब्रेक