Thursday, September 24, 2020
Follow us on
Rajasthan

14,700 कराेड़ का घाेटाला, अादर्श क्रेडिट साेसाइटी के संचालक की बेटी की सैलरी अंबानी से भी ज्यादा

January 15, 2020 06:20 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR JAN 15

मां मीनाक्षी व बेटी प्रियंका के खाते में गए 795 करोड़, एसओजी ने किया आर्थिक अपराध का पर्दाफाश

बाबूलाल शर्मा/राजेंद्र गौतम | जयपुर
बंदूक दिखाकर तो एक साथ 3-4 लोगों को ही लूटा जा सकता है। लेकिन सपने दिखाकर लाखों को लूटा जा सकता है। यही काम राजस्थान में क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटियां भी कर रही हैं। आदर्श क्रेडिट सोसायटी ने 8 साल में 20 लाख लोगों से 14,682 करोड़ निवेश करवाए। संचालक मुकेश मोदी की पत्नी मीनाक्षी व बेटी प्रियंका के खातों में बतौर सैलरी-कमीशन के 795 करोड़ रु. ट्रांसफर हुए। पूरे परिवार की बात करें तो 990 करोड़ रु. आपस में बांटे गए। हैरानी वाली बात यह है कि प्रियंका को 3 साल में 75 करोड़ रु. सैलरी दी गई। यानी हर माह करीब दो करोड़ रु., जबकि देश के सबसे अमीर रिलायंस ग्रुप के प्रमुख मुकेश अंबानी को हर माह करीब 1.25 करोड़ रु. मिलते हैं। एसओजी ने ऐसी तीन क्रेडिट सोसाइटियों आदर्श, संजीवनी व नवजीवन क्रेडिट सोसायटी के खिलाफ चार्जशीट पेश की है। भास्कर टीम ने करीब 17,000 करोड़ का घोटाला करने वाली इन तीन सोसाइटियों के खिलाफ दायर कुल 96 हजार पेज की चार्जशीट खंगाली तो पता चला कि कैसे जनता का पैसा हड़पने के लिए चालें चलीं।
भास्कर खुलासा : राजस्थान की तीन क्रेडिट सोसाइटियों में कुल 16,282 करोड़ रुपए का फ्रॉड...
आदर्श क्रेडिट सोसायटी : 8 साल में 20 लाख लोगों से 14,682 करोड़ निवेश करवाए...रिश्तेदारों के नाम से 45 फर्जी कंपनियां बनाकर 12,414 करोड़ इन्हीं को लोन दे दिया
आदर्श क्रेडिट सोसायटी ने 28 राज्यों में 806 शाखाएं खोलीं, इनमें से 309 राजस्थान में थीं। लोगों को झांसा दिया कि उनकी निवेश की हुई रकम कंपनियों व लोगों को 22% की ऊंची ब्याज दर पर लोन के रूप में दिया जा रहा है। इस झांसे में आकर 8 साल में 20 लाख लोगों ने 14,800 करोड़ रुपए का निवेश सोसाइटी में किया। सोसाइटी के संचालकों ने रिश्तेदारों के नाम पर ही 45 फर्जी कंपनियां खोलीं और सोसाइटी में निवेश की गई रकम में से 12,414 करोड़ रुपए इन्हीं फर्जी कंपनियों को बतौर लोन देना दर्शा दिया। सोसाइटी में लगे लोगों के पैसे से संचालकों ने पूरे देश में संपत्ति खरीदी।
आदर्श क्रेडिट सोसायटी: 20 लाख निवेशक
40
हजार पेज की चार्जशीट
संजीवनी क्रेडिट सोसायटी: 2 लाख निवेशक
37
हजार पेज की चार्जशीट
नवजीवन क्रेडिट सोसायटी: 1.9 लाख निवेशक
19
हजार पेज की चार्जशीट
मुकेश मोदी
विक्रम सिंह
गिरधर सिंह
राहुल मोदी
किशन सिंह
रावत सिंह
14682
करोड़ का घोटाला
1100
करोड़ का घोटाला
500
करोड़ का घोटाला
आदर्श के निदेशकों को 270 करोड़ दिए
रिलायंस के प्रमुख मुकेश अंबानी ने अपनी सालाना सैलरी 15 करोड़ है। जबकि आदर्श क्रेडिट सोसायटी में काम कर रही संचालक मुकेश मोदी की पुत्री प्रियंका को तीन साल में 75 करोड़ रुपए बतौर तनख्वाह दिए गए। वहीं मुकेश के बेटों व अन्य निदेशकों को 3 साल में बतौर तनख्वाह 270 करोड़ रु. दिए गए। मीनाक्षी को लोन के कस्टमर लाने पर बतौर कमीशन 720 करोड़ दिए गए।
सबसे बड़ा को-ऑपरेटिव क्राइम
अादर्श क्रेडिट साेसायटी घोटाले में 20 लाख निवेशकों के साथ धोखाधड़ी हुई है। यह देश का सबसे बड़ा को-ऑपरेटिव क्राइम है। चिंताजनक यह है कि संचालक, उसकी पत्नी और बेटी के खातों ने 45 फर्जी कंपनियां बनाकर घाेटाला किया गया।
-सत्यपाल मिड्‌ढा, एसओजी की अपराध शाखा के प्रमुख
75 करोड़
रुपए 3 साल में प्रियंका लोढ़ा को सैलरी मिली

Have something to say? Post your comment
More Rajasthan News
राजस्थान के DGP भूपेंद्र सिंह भी लेंगे VRS, CM गहलोत से की मुलाकात राजस्थान: चंबल नदी में नाव पलटने से अब तक 6 लोगों की मौत, बाकी लोगों की तलाश जारी राजस्थान: चंबल नदी में नाव डूबी, नाव पर 30 लोग थे सवार राजस्थान: कांग्रेस विधायक ने अपनी सरकार के मंत्री के खिलाफ खोला मोर्चा, भ्रष्ट बताया राजस्थानः टोंक सवाई माधोपुर से बीजेपी सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया कोरोना पॉजिटिव राजस्थान सरकार ने बाहर ऑक्सीजन सप्लाई पर लगाई रोक, बढ़ते कोरोना के मद्देनजर लिया फैसला राजस्थानः पंचायत चुनावों का ऐलान, चार चरणों में होगा मतदान राजस्थान के कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास कोरोना वायरस से संक्रमित राजस्थानः भारी बारिश के बाद माही बांध से पानी छोड़ा, बांसवाड़ा के कई इलाकों में बाढ़ राजस्थान हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश इंद्रजीत महंती कोरोना पॉजिटिव