Saturday, February 24, 2024
Follow us on
BREAKING NEWS
अंत्योदय ही प्रदेश सरकार की भावना - मनोहर लालवोटर लिस्ट का अवलोकन कर लें नागरिक, गलती हो तो समय रहते करवाएं दुरुस्त: अनुराग अग्रवालअगर पत्रकारों के लिए निस्वार्थ समर्पित भाव से कोई संस्था नजर आई है तो वह एमडब्ल्यूबी है-कंवर पाल गुज्जरहरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने 5 लाख से ज्यादा किसानों के कर्ज की ब्याज़ और पेनल्टी माफ़ी की घोषणा की, किसान 30 सितंबर 2023 तक का कर्ज 31 मई 2024 तक जमा कराते हैं उन्हें मिलेगा लाभहरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बजट पढ़ना शुरू कियाआज पेश होगा हरियाणा बजट, मुख्यमंत्री मनोहर लाल पेश करेंगे बजटमुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सदन में की 2 बड़ी घोषणाएं,शहरी इलाके में 20 साल से मकान में रह रहे लोगों को मालिकाना हक़ दिलाने के लिए एक सप्ताह में लाई जाएगी पॉलिसी,तिगांव को सब-डिविज़न का दिया गया दर्जाहरियाणा विधानसभा में सर्वसम्मति से गिरा विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव
Haryana

किसानों के साथ बैठक बेनतीजा, कर्जमाफी और एमएसपी पर फंसा मामला, किसान आज सुबह 10 बजे दिल्ली कूच करेंगे

February 13, 2024 08:25 AM

दिल्ली की ओर कूच करने पर अड़े किसानों और सरकार के बीच 13 फरवरी यानी सोमवार को कई बैठकें बेनतीजा रहीं.  पांच घंटे तक चली बैठक के बाद भी किसान नेताओं और सरकार के बीच कोई बातचीत नहीं हो पाई.  इसके साथ ही किसानों ने दिल्ली की ओर कूच करने का ऐलान बरकरार रखा है.  बताया जा रहा है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य और कर्ज माफी को लेकर किसानों और सरकार के बीच बातचीत सफल नहीं हो पाई है.
 केंद्र सरकार की ओर से एक हाई पावर कमेटी बनाने की बात चल रही है.  किसान इसके लिए तैयार नहीं हैं.
पंजाब के किसान अब दिल्ली की ओर कूच करेंगे, इसलिए केंद्र सरकार की ओर से तैयारी कर ली गई है, बॉर्डर पर बैरिकेडिंग की जा रही है.  हरियाणा सरकार ने भी शंभू बॉर्डर सील कर दिया है और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पूरी फोर्स तैनात कर दी गई है.  केंद्र सरकार ने हरियाणा में अर्धसैनिक बलों की कंपनियां भी भेजी हैं.  हालांकि, इससे पहले ही केंद्र सरकार किसानों के साथ सुलह करना चाहती है.  इसीलिए चंडीगढ़ में पिछले तीन घंटे से केंद्रीय मंत्री और किसानों के साथ बातचीत चल रही है, जिसमें से कुछ मुद्दों पर सहमति बनती दिख रही है.

 *एमएसपी की गारंटी पर अटका हुआ है*

किसानों और केंद्र सरकार के बीच चल रही बैठक में न्यूनतम समर्थन मूल्य गारंटी का मुद्दा फंसा हुआ है, सरकार ने हाई पावर कमेटी बनाने और उसमें किसान नेताओं को शामिल करने का वादा किया है लेकिन किसान इससे इनकार कर रहे हैं.  किसानों की मांग है कि सरकार इस संबंध में कोई ठोस घोषणा करे.  केंद्र सरकार ने कहा कि दालों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी के मुद्दे पर तुरंत विचार किया जा सकता है, लेकिन अन्य फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी के लिए संशोधन करने के लिए केंद्र सरकार को कुछ समय चाहिए।

 *इन मांगों पर सहमति बनी*

 1- विद्युत अधिनियम 2020 को निरस्त किया जायेगा।

 2-लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों को मिलेगा मुआवजा.

 3- किसान आंदोलन के दौरान किसानों पर दर्ज सभी मुकदमे वापस लिए जाएंगे.  गुंडागर्दी के मामले जारी रहेंगे.

 इन दोनों मांगों पर कोई सहमति नहीं बन पाई

 1- एमएसपी गारंटी कानून पर अभी तक सहमति नहीं बनी है.

 2- किसान कर्जमाफी को लेकर सरकार और किसान नेताओं के बीच नहीं बनी सहमति.

 किसानों को रोकने के लिए हरियाणा और पंजाब की सीमा पर 5 लेयर की बैरिकेडिंग की गई है लेकिन किसानों ने ऐलान किया है कि वे हर हाल में 13 फरवरी को दिल्ली की ओर कूच करेंगे.  उधर, किसानों के राजधानी दिल्ली की ओर मार्च को लेकर दिल्ली पुलिस ने ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की है.  पुलिस ने कहा, टिकरी बॉर्डर (दिल्ली-हरियाणा) के आसपास का मार्ग बदल दिया गया है।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
अंत्योदय ही प्रदेश सरकार की भावना - मनोहर लाल
वोटर लिस्ट का अवलोकन कर लें नागरिक, गलती हो तो समय रहते करवाएं दुरुस्त: अनुराग अग्रवाल
अगर पत्रकारों के लिए निस्वार्थ समर्पित भाव से कोई संस्था नजर आई है तो वह एमडब्ल्यूबी है-कंवर पाल गुज्जर
हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने 5 लाख से ज्यादा किसानों के कर्ज की ब्याज़ और पेनल्टी माफ़ी की घोषणा की, किसान 30 सितंबर 2023 तक का कर्ज 31 मई 2024 तक जमा कराते हैं उन्हें मिलेगा लाभ
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बजट पढ़ना शुरू किया
आज पेश होगा हरियाणा बजट, मुख्यमंत्री मनोहर लाल पेश करेंगे बजट मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सदन में की 2 बड़ी घोषणाएं,शहरी इलाके में 20 साल से मकान में रह रहे लोगों को मालिकाना हक़ दिलाने के लिए एक सप्ताह में लाई जाएगी पॉलिसी,तिगांव को सब-डिविज़न का दिया गया दर्जा हरियाणा विधानसभा में सर्वसम्मति से गिरा विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव नगर निगम, पंचकूला के वार्ड-20 में गांव कोट की नंदीशाला में उद्घाटन के समय 8 नंदीं को रखा गया था:डॉ. कमल गुप्ता नारनौल में स्थापित मल संशोधन संयंत्र (एसटीपी) के कार्य के लिए राशि भी जमा करवा दी गई है और इसे एक वर्ष में पूरा करवा दिया जाएगा:डॉ. कमल गुप्ता