Saturday, June 15, 2024
Follow us on
BREAKING NEWS
कांग्रेस ने 8500 रुपये बैंकों में डालने का झूठा वादा करके मतदाताओं को ठगा : नायब सैनीNEET पेपर लीक: बिहार में EOU ने 9 परीक्षार्थियों को भेजा नोटिसछत्तीसगढ़ के नारायणपुर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 8 नक्सली ढेरबद्रीनाथ हाइवे पर यात्री वाहन अलकनंदा नदी में गिरा, कई की मौत की सूचना, 7 लोग घायल चंडीगढ़ पहुंचे मुख्यमंत्री नायब सैनी,अंबाला के कार्यक्रम के बाद पहुंचे चंडीगढ़, केंद्रीय मंत्री मनोहर लाल सीएम आवास पहुंचे मुख्यमंत्री आवास पर मुलाकात शुरूHCS (Ex br) और Allied services की 121 पोस्ट के लिए रिज़ल्ट हुआ जारी,कुल 275 उम्मीद्ववारों के आज खत्म हुए थे इंटरव्यू, HPSC की आधिकारिक वेबसाइट hpsc.gov.in पर देखा जा सकता है रिज़ल्टटी 20 विश्व कप भारत अवश्य जीतेगा - राज्यपालचैतन्य करियर कंसल्टेंट्स कुरुक्षेत्र में शुरू करेगा ईटीएस टेस्ट सेंटर
Haryana

महात्मा गांधी ग्रामीण बस्ती योजना के तहत 7500 से अधिक लाभार्थियों को वितरित किए 100-100 वर्ग गज के प्लॉट कब्ज़ा आवंटन पत्र

June 10, 2024 06:15 PM

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री नायब सिंह ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में केन्द्र व हरियाणा सरकार ने अंत्योदय की भावना को धरातल पर उतारा है। हमारी डबल इंजन की सरकार सही मायने में गरीब हितैषी है और गरीब को मजबूत व सशक्त बनाने की दिशा में लगातार कार्य कर रही है। पिछले 10 वर्षों में श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जितने कार्य गरीब के हित में किए गए उतने कार्य पिछले 60 वर्षों में कांग्रेस सरकार नहीं कर पाई। कांग्रेस ने गरीबों को झूठ बोलकर गुमराह कर वोट लेकर शोषण किया है। चुनावों में विपक्ष ने जनता को गुमराह किया कि संविधान और आरक्षण को ख़त्म कर दिया जाएगा जो कि झूठ था। संविधान और आरक्षण को इस देश में कोई ख़त्म नहीं कर सकता।

मुख्यमंत्री आज जिला सोनीपत में दीनबंधू छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मुरथल के सभागार में आयोजित राज्य स्तरीय महात्मा गांधी ग्रामीण बस्ती योजना के तहत 100-100 वर्ग गज के प्लॉट कब्ज़ा आवंटन पत्र वितरण समारोह में बतौर मुख्यतिथि संबोधित कर रहे थे। सोनीपत के अलावा 10 जगहों- भिवानी, चरखी दादरी, पलवल, गुरुग्राम, हिसार, जींद, यमुनानगर, महेन्द्रगढ़, झज्जर और सिरसा में भी कार्यक्रम आयोजित किये गए, जहां पर हरियाणा सरकार के मंत्रियों व विधायकों द्वारा लाभार्थियों को प्लाट कब्ज़ा आवंटन पत्र वितरित किये गए। आज के समारोह में 7500 से अधिक लोगों को प्लाट क़ब्जा आवंटन पत्र दिए गए।

उन्होंने कहा कि जिन गांवों में प्लाट के लिए जमीन उपलब्ध नहीं है वहां लाभार्थियों को प्लाट खरीदने के लिए एक-एक लाख रुपये की वित्तिय सहायता दी जाएगी। इसके अलावा, अन्य गरीब लाभार्थियों के लिए भी प्लॉट देने के लिए सरकार ने योजना बनाई है और अधिकारियों को पोर्टल तैयार करने के लिए आदेश दे दिए गए हैं। इस पोर्टल पर ऐसे परिवार अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि चुनाव आचार संहिता के दौरान उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे फाईल को दुरूस्त कर लाभार्थियों को प्लाट कब्ज़ा आवंटन पत्र दे दिए जाए और आज इस कार्य को पूरा कर लिया गया है।

कांग्रेस ने महात्मा गांधी का नाम लेकर लोगों को गुमराह किया

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने डेढ दशक पहले केवल प्लॉट देने की बात कही थी, लेकिन लोगों को मालिकाना हक़ नहीं दिया गया। लोग मालिकाना हक पाने के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर काट रहे थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने तो योजना का नाम महात्मा गांधी के नाम पर रखा था और महात्मा गांधी का नाम लेकर लोगों को गुमराह किया, लेकिन लोगों को 2008 से 2014 तक कोई फायदा नहीं पहुचायां।

मुख्यमंत्री शहरी आवास योजना के तहत दिए जाएंगे 15 हजार प्लॉट

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने मुख्यमंत्री शहरी आवास योजना के अंतर्गत बीपीएल परिवारों को छत मुहैया करवाने के लिए 14 शहरों की योजना तैयार की है, जिसके तहत 15 हजार प्लॉट दिए जाएंगे। इनकी वैरिफिकेशन के बाद सूची तैयार कर ली गई है। इस योजना को अति शीघ्र ही अमलीजामा पहना दिया जाएगा।

डॉ भीमराव अंबेडकर आवास नवीनीकरण योजना के तहत घर की मरम्मत के लिए दिए जा रहे 80 हज़ार रुपये

श्री नायब सिंह ने कहा कि प्रदेश में बीआर अम्बेडकर आवास नवीनीकरण योजना के तहत मकानों की मरम्मत के लिए 80 हजार रुपये की वित्तिय सहायता दी जाती है और योजना के तहत 66 हजार लाभार्थियों को 370 करोड़ रुपये देकर लाभ पहुंचाया गया। उन्होंने कहा कि गरीब को आर्थिक और सामाजिक रूप से मजबूत करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण व शहरी लागू की है, जिसके तहत पिछले 10 वर्षों में डबल इंजन सरकार ने 522 करोड रुपये खर्च किए है। योजना के तहत 67 हजार 649 आवेदन मिले, जिनमें से 14 हजार 939 गरीबों को उनके मकानों की चाबी सौंप दी गई। इसके अलावा 15 हजार 356 नए मकान बनने को तैयार हैं, जिनको दो माह में पात्रों को सौंप दिया जाएगा।

इसी प्रकार प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत 29440 आवेदन प्राप्त हुए जिनमें से 26318 मकानों के निर्माण पर 376 करोड़ रुपये की राशि खर्च की गई। पुराने 2138 मकानों की मरम्मत पर 32 करोड़ रुपये की राशि खर्च की गई।

एससी-बीसी वर्ग की चौपालों की मरम्मत पर खर्च होंगे 100 करोड़ रुपये

श्री नायब सिंह ने कहा कि गरीब आदमी शादी व अन्य समारोह के लिए चौपालों का इस्तेमाल करते हैं। इसी बात को ध्यान में रखकर हरियाणा सरकार ने एससी व बीसी वर्ग की चौपालों की मरम्मत के लिए 100 करोड़ रुपये खर्च करने का बजट जारी किया है। जल्द ही इन चौपालों की मरम्मत होने से लोगों को समारोह आदि के आयोजन के लिए बेहतर स्‍थल उपलब्‍ध होगा।

श्री नायब सिंह ने कहा कि सरकार ने गरीब हित के लिए दयालू योजना के नाम से नई योजना शुरू की है, जिसके तहत परिवार के कमाने वाले सदस्य की मृत्यू हो जाने पर पीड़ित परिवार को पांच लाख रूपये की आर्थिक सहायता मुहैया करवाई जाती है। अब तक प्रदेश में 8 हजार परिवारों को 370 करोड़ रूपये की राशि दी गई है। निरोगी हरियाणा योजना के तहत 2 करोड़ 71 लाख लोगों की मुफ्त स्वास्थ्य जांच की गई है।

उन्होंने कहा कि लोगों को आधार कार्ड, राशन कार्ड, परिवार पहचान पत्र व अन्य दस्तावेजों की त्रुटियों को ठीक करवाने के लिए जो परेशानी हो रही थी। इन समस्याओं के समाधान के लिए प्रदेश में समाधान शिविर के नाम से एक नया कार्यक्रम शुरू किया गया है। इसके लिए मुख्य सचिव के कार्यालय में समाधान प्रकोष्ठ का गठन किया गया है। डीसी व तहसील स्तर पर एसडीएम कार्य दिवस के तहत हर रोज सुबह 09 से 11 लोगों की समस्याएं सुननेंगे और इसकी रिपोर्ट मुख्य सचिव कार्यालय भेजेंगे और वे स्वयं (मुख्यमंत्री) इसकी मोटिरिंग करेंगे ताकि लोगों की समस्याओं का समाधान अति शीघ्र हो सके।

हरियाणा सरकार का संकल्प अंत्योदय का उत्‍थान- विकास एवं पंचायत मंत्री महिपाल ढांडा

विकास एवं पंचायत मंत्री श्री महिपाल ढांडा ने अपने संबोधन में कहा कि गरीब का दर्द गरीब समझ सकता है और श्री नायब सिंह गरीबी से जूझ कर इस मुकाम तक पहुंचे है। इसलिए 100—100 गज के प्लाटों वाला झगड़ा खत्म करके गरीबों को उनका हक दिलवाया है। उन्होंने कहा कि सरकार नींव का पत्थर बनकर कार्य करेगी। नींव मजबूत होगी तो मकान मजबूत होगा। अन्त्योदय का संकल्प है कि अंतिम से अंतिम व्यक्ति तक केन्द्र व हरियाणा सरकार की कल्याणकारी नीतियों को पहुचंना। इस कार्य को सरकार ने बखूबी पूरा किया है।

मुख्यमंत्री की सोच है कि गरीब को सबसे पहले योजनाओं का लाभ मिले- डॉ अमित अग्रवाल

मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव तथा विकास एवं पंचायत विभाग के आयुक्त एवं सचिव डॉ अमित अग्रवाल ने कहा कि जब श्री नायब सिंह ने मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी तो उन्होंने सभी अधिकारियों को चंडीगढ़ में बुलाया था और एक ही बात हमसे कही थी कि उनका सिर्फ एक ही उद्देश्य है, जो समाज का सबसे वंचित वर्ग है, सबसे गरीब वर्ग है, उसकी सबसे पहले चिंता करनी है। उससे संबंधित योजनाओं को सबसे आगे बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि बजट घोषणा के अनुसार सितंबर 2024 तक लाभार्थियों को प्लॉट का कब्जा आवंटन पत्र देने की समय सीमा तय की गई थी, लेकिन हमने मुख्यमंत्री के मार्गदर्शन में जून माह में ही इसे पूरा करके दिखाया है।

कार्यक्रम में विधायक श्री मोहन लाल बड़ौली, श्री सत्यप्रकाश जरावता ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। इनके अलावा, विधायक श्री हरविंद्र कल्याण, श्रीमती निर्मल चौधरी, पूर्व मंत्री श्रीमती कविता जैन, सोनीपत के उपायुक्त श्री मनोज कुमार सहित प्रशासनिक अधिकारी व बड़ी संख्या में लाभार्थी उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
कांग्रेस ने 8500 रुपये बैंकों में डालने का झूठा वादा करके मतदाताओं को ठगा : नायब सैनी
चंडीगढ़ पहुंचे मुख्यमंत्री नायब सैनी,अंबाला के कार्यक्रम के बाद पहुंचे चंडीगढ़, केंद्रीय मंत्री मनोहर लाल सीएम आवास पहुंचे मुख्यमंत्री आवास पर मुलाकात शुरू HCS (Ex br) और Allied services की 121 पोस्ट के लिए रिज़ल्ट हुआ जारी,कुल 275 उम्मीद्ववारों के आज खत्म हुए थे इंटरव्यू, HPSC की आधिकारिक वेबसाइट hpsc.gov.in पर देखा जा सकता है रिज़ल्ट
टी 20 विश्व कप भारत अवश्य जीतेगा - राज्यपाल
चैतन्य करियर कंसल्टेंट्स कुरुक्षेत्र में शुरू करेगा ईटीएस टेस्ट सेंटर
एपीएससीएम आशिमा बराड़ को करनाल जिले का इंचार्ज लगाया गया
स्वैच्छिक रक्तदान के लिए ज्यादा से ज्यादा संख्या में आगे आएं युवा- राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय
केन्द्र में हरियाणा से तीन मंत्री बनने से हरियाणा के विकास को मिलेगी तेजी -केन्द्रीय मंत्री मनोहर लाल
केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने नपा चेयरमैन की पत्नी कांता देवी के निधन पर जताया शोक
तकनीक और कौशल देश के विकास के लिए जरूरी -दत्तात्रेय श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय में "तकनीकी और कौशल शिक्षा की परिवर्तनकारी गतिशीलता" पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित