Monday, November 30, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
किसान दिल्ली में जहां कहीं भी विरोध प्रदर्शन करना चाहते हैं, उन्हें अनुमति मिलेः AAPदिल्लीः किसान आंदोलन को लेकर बैठक खत्म, अमित शाह भी जेपी नड्डा के घर से निकलेकिसान आंदोलन पर सरकार एक्टिव, नड्डा के घर चल रही बैठक, शाह-राजनाथ भी मौजूदकिसान यूनियन ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा- बुराड़ी कभी नहीं जाएंगे, वो खुली जेल हैकिसान बात नहीं कर रहे इसका मतलब मकसद कुछ और है:विजदिल्लीः बुराड़ी जाने का प्रस्ताव नामंजूर, वो खुली जेलः किसान यूनियनदिल्लीः बुराड़ी ओपन जेल, वो आंदोलन की जगह नहींः किसान यूनियनदिल्लीः हमारे पास पर्याप्त राशन, 4 महीने तक रोड पर बैठ सकते हैंः किसान यूनियन
Niyalya se

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट का फैसला, सगे चाचा-ताऊ, मामा-बुआ में शादी करना गैरकानूनी

November 21, 2020 11:59 AM

आज भी कई जगहों में बच्चों के शादी अपने फर्स्ट कजन यानि की सगे चाचा-ताऊ, मामा-बुआ और मौसी के बच्चों के साथ कर देते हैं। लेकिन अब ऐसा करने पर आपको जेल भी हो सकती है। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने ऐसी शादी पर रोक लगाते हुए उसे गैरकानूनी घोषित कर दिया है।बताया जा रहा है कि पंजाब हरियाणा हाई कोर्ट ने ये फैसला एक युवक की इस याचिका पर सुनाया है जिसमें याचिकाकर्ता अपने चाचा की बेटी से शादी करना चाहता है। जबकि युवक के खिलाफ लुधियाना के खन्ना सिटी-2 थाने में आईपीसी की धारा 363 अपहरण और 366ए नाबालिग लड़की को कब्जे में रखने के तहत केस दर्ज है।युवक ने इस मामले को लेकर हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए अनुरोध किया। याचिका पर सुनवाई के दौरान पता चला की लड़की नाबालिग है। उसके माता-पिता ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी कि उसके और लड़के के पिता आपस में सगे भाई हैं।याचिका में लड़की ने अपने माता-पिता द्वारा दोनों को परेशान किए जाने की आशंका जताई थी। और अपने दोस्त के साथ रहने का फैसला लिया था। अदालत ने दोनों के सुरक्षा देने को कहा लेकिन न्यायाधीश ने यह भी स्पष्ट किया कि यह आदेश याचिकाकर्ताओं को कानून के किसी तरह के उल्लंघन की स्थिति में कानूनी कार्रवाई से नहीं बचाएगा।जस्टिस अरविंद सिंह सांगवान ने मौजूदा याचिका पर सुनवाई में कहा याचिकाकर्ता ने इस बात का जिक्र नहीं किया था कि वह लड़की का सगा चचेरा भाई है। वे दोनों हिंदू विवाह अधिनियम के तहत एक-दूसरे से विवाह नहीं कर सकते। इस कारण सहमति संबंध का भी कोई अर्थ नहीं रह जाता।

Have something to say? Post your comment