Saturday, August 08, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा के छोरे भारतीय स्पिनर युजवेंद्र चहल ने धनश्री वर्मा से की सगाईदिल्ली में 9-12 अगस्त के बीच आंधी तूफान के साथ बारिश की संभावनाजम्मू-कश्मीर: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने 25000 रुपये के स्पेशल यात्रा भत्ते को दी मंजूरीअशोक गहलोत के पास अपनी सरकार बचाने के लिए नंबर नहीं: सतीश पूनियाहरिद्वार, देहरादून समेत उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बारिश का अलर्टऐ - मेरे भोले किसान अपनी फसल बेचना सीख ले, मोदी ने राह दिखा दी -धनखड़केरल विमान हादसा: मृतकों के परिजनों को 10 लाख, गंभीर रूप से घायलों को 2 लाख सहायता राशिदिल्ली: राजस्थान की पूर्व CM वसुंधरा राजे ने राक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से की मुलाकात
Haryana

ये सरकार नहीं गिरोह है, आज प्रदेश का हर वर्ग सरकार से दुखी: अभय चौटाला

July 03, 2020 06:12 PM

लॉकडाउन खत्म होने के बाद इनेलो नेता चौधरी अभय सिंह चौटाला ने शुक्रवार से अपने जिलास्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन की शुरुआत अम्बाला, यमुनानगर व कुरुक्षेत्र से की। वहां पहुंचने पर कार्यकर्ताओं ने इनेलो नेता पर फूलों की वर्षा कर जोरदार स्वागत किया। अभय चौटाला भी अपने कार्यकर्ताओं में जोश देखकर गदगद दिखे। जिला पदाधिकारियों की मौजूदगी में अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए इनेलो नेता ने कहा कि हमारी बड़ी जिम्मेदारी बनती है कि हमें आपस में जातियों में बंटने की बजाय किसान को इक_ा करना पड़ेगा। अगर किसान इक_ा होकर अपनी लड़ाई नहीं लड़ेगा तो ये सरकार इन्हें मारने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। 
इनेलो नेता ने कहा कि अमेरिका जैसे देशों में इस महामारी से लडऩे के लिए सरकार अपने नागरिकों के खाते में दो हजार डॉलर डालकर उनकी मदद कर रही है और यहां प्रदेश की गठबंधन सरकार नागरिकों से ही पैसे मांग रही है। सन् 1987 में चौधरी देवी लाल ने प्रोत्साहन स्वरूप गरीब के बच्चे को एक रुपया देने का काम किया था ताकि बच्चा अच्छी शिक्षा लेकर नौकर लग सके। पर विडंबना है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री बच्चों से पांच-पांच रुपए व किसानों से पांच किलो गेहूं कोरोना महामारी से लडऩे के लिए मांग रहे हैं।
उन्होंने कहा कि बरोदा उप-चुनाव भी आने वाला है, सभी कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि जिन-जिन की रिश्तेदारियां या जान-पहचान इस हलके में है, वो उनसे संपर्क कर इस सरकार की पोल खोलने का काम करें व इनेलो उम्मीदवार को जिताने में भरपूर सहयोग करें। इस पर जनसमूह ने हाथ खड़ा कर सहमति जताई। 
इनेलो नेता ने कहा कि कुछ स्वार्थी व लालची लोगों के बहकावे में आकर जो साथी जजपा में चले गए थे आज वो सबसे ज्यादा परेशान हैं, वो फिर हमारे साथ आना चाहते हैं, इसलिए आप उनसे बातचीत करके चौधरी ओमप्रकाश चौटाला जी से मिलवाने का काम करें, इनेलो सुप्रीमो उनकी नई जिम्मेदारियां लगाएंगे जिससे संगठन और ज्यादा मजबूत होगा। 
शुक्रवार को भी अन्य दलों से आए कार्यकर्ताओं का इनेलो में शामिल होने का सिलसिला जारी रहा। नरेंद्र चौधरी, छत्तर पाल, एडवोकेट रविंद्र, अश्वनी शर्मा, जिया लाल, रमेश बक्षी, मुकेश वर्मा, प्रीतम व प्रवीण देश के सबसे मजबूत कहे जाने वाले संगठन आरएसएस से मोहभंग करके इनेलो में शामिल हुए। यमुनानगर से प्रजापति समाज के प्रधान गोविंद इनेलो में आस्था जताते हुए शामिल हुए। हलका अम्बाला कैंट से बीसी सैल के प्रधान अमरजीत जांगड़ा व युवा हलकाध्यक्ष रोहित राणा अपने साथियों सहित जजपा छोडक़र इनेलो में शामिल हुए। हलका नारायणगढ़ से सचिन खेडक़ी, मनीष खेडक़ी, रोहित आम्बली, रामबीर, रमन व सूरज कुमार शामिल हुए। हलका अम्बाला से आगम शर्मा, प्रवीण शास्त्री, अमनजोत सिंह चोपड़ा, एकम दुग्गल, अमन, सूरज शर्मा, जतिन शर्मा, विशाल गौतम, इंद्रपाल सिंह, गुरनूर सिंह, राकेश शर्मा, विशाल ओबराय और हलका मुलाना से सैंकी सिंह, सोनू, विकास, रोहित, सौरभ, विद्या सिंह व जीवन सिंह जजपा छोड़ इनेलो में शामिल हुए साथ ही भाजपा छोडक़र पूर्व युवा हलका प्रधान जितेंद्र तुरकड़ा ने घरवापसी की। इस दौरान बीएसपी को छोडक़र सैकड़ों की तादाद में स्थानीय कार्यकर्ता इनेलो सुप्रीमो में आस्था जताते हुए पार्टी में शामिल हुए।

Have something to say? Post your comment