Tuesday, August 04, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने राज्य में फसल अवशेष प्रबंधन के लिए 1,304.95 करोड़ रुपये की एक व्यापक योजना स्वीकृति प्रदान की मंडियों में नहीं रहेगी बारदाने की कमी : दुष्यंत चौटालाआडवाणी, जोशी, कल्याण सिंह राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में नहीं होंगे शामिल: स्वामी गोविंद गिरीराम मंदिर निर्माण शुभारंभ कार्यक्रम में कुल 175 लोगों को भेजा निमंत्रण: श्री राम जन्मभूमि ट्रस्टसुशांत सिंह राजपूत केस में पिता का बड़ा आरोप, कहा- मुंबई पुलिस को फरवरी में ही किया था आगाहसुशांत सिंह राजपूत केस में पिता से मुंबई पुलिस का सवाल, किस थाने में दी थी शिकायत?सुशांत सिंह राजपूत के पारिवारिक सूत्रों ने कहा- पूजा-पाठ के नाम पर अकाउंट से निकाले गए पैसेगुजरात के भरूच जिले में महसूस किए गए भूकंप के झटके
Uttar Pradesh

कानपुरः हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के घर दबिश देने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, CO समेत 8 शहीद

July 03, 2020 07:35 AM

कानपुर देहात में एक हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने गोलियां बरसा दी. इसमें एक क्षेत्राधिकारी यानी डिप्टी एसपी समेत आठ पुलिस कर्मी शहीद हुए हैं. हमले में सात पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. कानपुर देहात के शिवली थाना इलाके में पुलिस ने बिकरू गांव में दबिश दी थी. पुलिस यहां हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने गई थी.

दबिश के दौरान बदमाशों ने पुलिस को घेरकर फायरिंग कर दी. इसमें आठ पुलिसवाले शहीद हो गए. विकास दुबे वही अपराधी है, जिसने 2001 में राजनाथ सिंह सरकार में मंत्री का दर्जा पाए संतोष शुक्ला की थाने में घुसकर हत्या की थी. वारदात पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने डीजीपी और अपर मुख्य सचिव गृह से बात की है.

आठ पुलिसकर्मी शहीद

बताया जा रहा है कि बिल्हौर के सीओ देवेंद्र मिश्र, शिवराजपुर के एसओ महेश यादव, दो सब इंस्पेक्टर और 4 सिपाही शहीद हो गए. इसके अलावा सात पुलिसकर्मी घायल हुए हैं, जिनमें कई की हालत गंभीर है. पुलिस हत्या के प्रयास के केस में शातिर विकास दुबे को अरेस्ट करने गई थी. विकास के खिलाफ 60 केस दर्ज हैं.

मुठभेड़ में शहीद हुए पुलिसकर्मियों के नाम

1-देवेंद्र कुमार मिश्र,सीओ बिल्हौर

2-महेश यादव,एसओ शिवराजपुर

3-अनूप कुमार,चौकी इंचार्ज मंधना

4-नेबूलाल, सब इंस्पेक्टर शिवराजपुर

5-सुल्तान सिंह कांस्टेबल थाना चौबेपुर

6-राहुल ,कांस्टेबल बिठूर

7-जितेंद्र,कांस्टेबल बिठूर

8-बबलू कांस्टेबल बिठूर

कैसे हुई वारदात

उत्तर प्रदेश के डीजीपी एचसी अवस्थी ने कहा कि विकास दुबे के खिलाफ कुछ दिन पहले हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया गया था. पुलिस विकास दुबे को गिरफ्तार करने गई थी. जैसे ही फोर्स गांव के बाहर पहुंची तो वहां जेसीबी लगा दी गई. इस वजह से फोर्स की गाड़ी गांव के अंदर नहीं जा सकी.

डीजीपी एचसी अवस्थी ने बताया कि गाड़ी अंदर नहीं जाने के कारण पुलिसकर्मी गांव के बाहर ही उतरे. तभी पहले से घात लगाए बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी. पुलिस की ओर से भी जवाबी फायरिंग की गई. बदमाश ऊंचाई पर थे. इस वजह से पुलिसकर्मियों को गोलियां लगी है. 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं.

मौके पर पुलिस अफसर रवाना

डीजीपी एचसी अवस्थी ने कहा कि सीओ, तीन सब इंस्पेक्टर और चार पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं. सात पुलिसकर्मी घायल हैं. मौके पर एडीजी कानून व्यवस्था समेत कई अफसर पहुंच गए हैं. साथ ही फॉरसिंक विभाग की टीम भी पहुंच गई है. इसके साथ ही एसटीएफ को भी मौके पर रवाना किया गया है.

डीजीपी एचसी अवस्थी ने कहा कि अभी हमारा फोकस सभी घायल पुलिसकर्मियों का बेहतर इलाज कराने की व्यवस्था करने के साथ ही विकास दुबे के खिलाफ ऑपरेशन को भी जारी रखना है, ताकि विकास दुबे और उसके साथियों को पकड़ा जा सके. वारदात में इस्तेमाल हथियारों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने की भी कोशिश की जा रही है.

Have something to say? Post your comment
More Uttar Pradesh News
आडवाणी, जोशी, कल्याण सिंह राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में नहीं होंगे शामिल: स्वामी गोविंद गिरी राम मंदिर निर्माण शुभारंभ कार्यक्रम में कुल 175 लोगों को भेजा निमंत्रण: श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट अयोध्या: बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी करेंगे पीएम मोदी का स्वागत उत्तर प्रदेश: गाजियाबाद में डकैतों की गैंग से पुलिस की मुठभेड़, 6 गिरफ्तार Diwali bonanza comes early for Ayodhya potters Residents pitch in to bedeck Ayodhya for its ‘biggest day’ अयोध्या: शिवसेना ने मंदिर निर्माण के लिए राम जन्मभूमि ट्रस्ट को दान किए पांच करोड़ रुपये सीएम योगी सोमवार को करेंगे अयोध्या का दौरा, भूमि पूजन से पहले की तैयारियों का लेंगे जायजा श्रीमती कमल वरुण के निधन से बहुत दुखी, समाज को समर्पित रहा उनका जीवन- पीएम मोदी अयोध्याः राम मंदिर भूमिपूजन के लिए महंत नरेंद्र गिरी महाराज को मिला न्योता