Tuesday, August 04, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने राज्य में फसल अवशेष प्रबंधन के लिए 1,304.95 करोड़ रुपये की एक व्यापक योजना स्वीकृति प्रदान की मंडियों में नहीं रहेगी बारदाने की कमी : दुष्यंत चौटालाआडवाणी, जोशी, कल्याण सिंह राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में नहीं होंगे शामिल: स्वामी गोविंद गिरीराम मंदिर निर्माण शुभारंभ कार्यक्रम में कुल 175 लोगों को भेजा निमंत्रण: श्री राम जन्मभूमि ट्रस्टसुशांत सिंह राजपूत केस में पिता का बड़ा आरोप, कहा- मुंबई पुलिस को फरवरी में ही किया था आगाहसुशांत सिंह राजपूत केस में पिता से मुंबई पुलिस का सवाल, किस थाने में दी थी शिकायत?सुशांत सिंह राजपूत के पारिवारिक सूत्रों ने कहा- पूजा-पाठ के नाम पर अकाउंट से निकाले गए पैसेगुजरात के भरूच जिले में महसूस किए गए भूकंप के झटके
Punjab

कही बीज घोटाला हुआ तो कहीं नाजायज शराब का काम हुआ:बिक्रम मजीठिया

June 30, 2020 04:34 PM

चंडीगढ़:बिक्रम मजीठिया ने कहा कि महामारी के समय मे कांग्रेस के मंत्रियों ने बीमारी की आड़ में जिस तरह आम लोग परेशान है तो वही मंत्री दोनों हाथों से लूट रहे हैं।

मजीठिया ने कहा कि कही बीज घोटाला हुआ तो कहीं नाजायज शराब का काम हुआ जिसमें रेवन्यू लॉस हुआ वहीं माइनिंग माफिया को करीब 300 करोड़ का फायदा पहुंचाया है।

मजीठिया ने कहा कि एक तरफ खजाना खाली की बात है यो दूसरी तरफ उसे लूटने में लगे हुए हैं जिसमे कांग्रेस सांसद ने कहां है कि पीपीई किट में जो घोटाला हुआ उसकी जांच के लिए पंजाब सरकार से विश्वाश नही जताया।

मजीठिया ने कहा कि मंत्री ने किया क्या वह जनता फैसला करे हम मामला सामने रख रहे हैं।

बिक्रम मजीठिया ने कहा कि नियमो को ताक पर रखते हुए सिंगल बिड पर बड़ा फैसला कर लिया जो जायज नही था।

मजीठिया ने कहा कि कैबिनेट में फैसला लिया था कि 50 लाख रु दिए जाएंगे अगर किसी सरकारी कर्मी की मौत होती है जिसमे अभी तक 2 मौत हो चुकी है लेकिन असलियत यह है कि कानूगो व अनिल कोहली को पैसे दिए है जोकि राशि दी गई है वह प्रधानमंत्री गरीब कलियान रिलीफ फंड से दी जा सकती है। ऐसे में इंश्योरेंस कंपनी को जिमेदारी कियूं दी गई या कम्पनी किउ हायर की गई है यह बड़ा सवाल है कि आखिर पहले खजाने पर बोझ बढ़ाया गया।

मंत्री सुखजिंदर रंधावा पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह इंश्योरेंस अपने विभागों को करवाई जिसमे सिर्फ जेल विभाग रंधावा ने छोड़ा है।

मजीठिया ने सिद्ध आरोप मंत्री रंधावा पर लगाते हुए कहा कि जब केंद्र सरकार स्कीम दे रही थी तो फिर अलग से इंश्योरेंस किउ की गई जिसमें आरोप लगाया कि खुद फायदा लेने के लिए यह इंश्योरेंस करवाई।

इंश्योरेंस कम्पनिनपर सवाल खड़े करते मजीठिया ने कहा कि यह वो कम्पनी है जिसे कोई अच्छे से जानता नही है और इसका दफ्तर भी नही ढूंढना पड़ेगा।मजीठिया ने कहा कि यह कम्पनी आईआरडीए से प्रमाणित होनी चाहिए जोकि नही है।

Have something to say? Post your comment