Sunday, July 12, 2020
Follow us on
Delhi

दिल्लीः केंद्र सरकार ने कंटेनमेंट जोन में अनलॉक-2 को 31 जुलाई तक बढ़ाया

June 29, 2020 10:34 PM

अनलॉक-1 के बाद अनलॉक-2 की तस्वीर साफ हो गई है। चर्चा थी कि इंटरनेशनल फ्लाइट्स या स्कूल-कॉलेजों पर कोई फैसला हो सकता है, लेकिन सोमवार को जारी हुई अनलॉक के दूसरे फेज की गाइडलाइन में इन्हें बंद ही रखने का फैसला लिया गया है। अनलॉक-1 की गाइडलाइन 7 पन्नों की थी। इस बार संख्या कम हो गई। मुख्य आदेश 4 पन्नों का ही है।

अब सरकार के आदेश को इस नजर से देखते हैं…

क्या पूरे देश में अनलॉक-2 लागू होगा?
नहीं। कंटेनमेंट जोन में 31 जुलाई तक लॉकडाउन जारी रहेगा।

क्या बंद था, बंद है और 31 जुलाई तक बंद ही रहेगा?

  • स्कूल, कॉलेज, एजुकेशन और कोचिंग इंस्टिट्यूट बंद रहेंगे। यहां ऑनलाइन और डिस्टेंस लर्निंग को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • इंटरनेशनल एयर ट्रेवल।
  • मेट्रो रेल।
  • सिनेमा हॉल, जिम, स्वीमिंग पूल। 
  • एंटरटेनमेंट पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल।
  • सोशल, पॉलिटिकल, स्पोर्ट्स, एंटरनेटमेंट, एकेडमिक, कल्चरल जमावड़े, धार्मिक समारोह।

इस बार क्या नया अनलॉक हुआ?
1. ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट्स खुलेंगे, लेकिन सिर्फ सरकारी

  • केंद्र और राज्य सरकारों के ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट्स 15 जुलाई से खुल सकेंगे, लेकिन स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर (एसओपी) के साथ। 
  • डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल और ट्रेनिंग की तरफ से आने वाले दिनों में एसओपी जारी होगी।

2. दुकानों पर ज्यादा लोगों को इजाजत
अलग-अलग इलाकों के हिसाब से दुकानों पर एक वक्त में 5 से ज्यादा लोगों को एंट्री दी जा सकेगी। हालांकि, इसमें जगह के मुताबिक सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना होगा।

3. नाइट कर्फ्यू में एक और घंटे की ढील

  • पिछली बार रात 9 से सुबह 5 बजे तक बाहर निकलने पर पाबंदी थी। इस बार एक घंटे की ज्यादा मोहलत दी गई है। अनलॉक-2 में रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक घर से बाहर नहीं निकल सकेंगे। यानी रात को एक घंटे ज्यादा बाहर रह सकेंगे। 
  • इस बार जरूरी सेवाओं के अलावा कंपनियों में शिफ्टों में काम करने वालों, नेशनल और स्टेट हाईवे पर सामान ले जाने वाली गाड़ियों, कार्गो की लोडिंग और अनलोडिंग को नाइट कर्फ्यू में छूट दी गई है।

4. घरेलू उड़ानों और ट्रेनों में और इजाफा होगा
नई गाइडलाइन में सरकार ने कहा है कि घरेलू उड़ानों और पैसेंजर ट्रेनों को अब सीमित तरीके से चलाया जा रहा है। इनमें और इजाफा किया जाएगा।

5. बातें जो हर गाइडलाइन में कही जाती हैं...

  • 65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों, पहले से ही किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे लोगों, गर्भवती महिलाओं और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को जरूरी और मेडिकल जरूरतों को छोड़कर घर पर रहने की सलाह दी जाती है।
  • दफ्तरों और कामकाज की जगहों पर सुरक्षा के लिए इम्प्लॉयर की यह ‘श्रेष्ठ कोशिशें’ रहनी चाहिए कि सभी कर्मचारियों के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु ऐप इंस्टॉल हो।
  • कंटेनमेंट जोन में सिर्फ जरूरी सेवाओं की इजाजत दी जाएगी। 
  • राज्य सरकारें कंटेनमेंट जोन के बाहर बफर जोन की पहचान भी कर सकेंगी। ये ऐसे इलाके होंगे, जहां नए मामले आने का खतरा ज्यादा है। बफर जोन के अंदर भी प्रतिबंधों को जारी रखा जा सकता है। 
  • अपने क्षेत्रों में हालात का जायजा लेने के बाद राज्य सरकारें कंटेनमेंट जोन के बाहर कुछ गतिविधियों को बैन कर सकती हैं या जरूरी लगने पर प्रतिबंधों को लागू कर सकती हैं। 
  • पब्लिक प्लेस पर मास्क और 2 गज की दूरी जरूरी है।
  • शादियों में 50 और अंतिम संस्कार में 20 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे।
Have something to say? Post your comment
More Delhi News
दिल्ली के राज्य विश्वविद्यालयों की परीक्षा रद्द, पास किए जाएंगे सभी छात्रः मनीष सिसोदिया दिल्ली-एनसीआर में बारिश, हरियाणा के कई इलाकों में बारिश की संभावना मुख्यमंत्री मनोहर लाल की गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक खत्म,लगभग 45 मिनट तक चली मुलाकात 15 अगस्त को हरियाणा के 1000 गांवों में यह योजना शुरू होगी: मनोहर लाल हरियाणा के मुख्यमंत्री दिल्ली: कोरोना वायरस को लेकर कल मंत्री समूह की होगी बैठक दिल्ली: गैंगस्टर विकास दुबे को लेकर अलर्ट पर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल दिल्ली: कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1 लाख के पार, अब तक 100823 पॉजिटिव दिल्ली: कोरोना पॉजिटिव शख्स ने एम्स की चौथी मंजिल से कूदकर सुसाइड की कोशिश की, ICU में भर्ती दिल्ली-एनसीआर में लोगों ने महसूस किए भूकंप के तेज झटके दिल्ली: YSRCP के सांसदों ने की लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से मुलाकात