Monday, July 13, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
बीजेपी-जेजेपी का मास्टर स्ट्रोक, युवाओं के लिए खुलेंगे निजी क्षेत्र के द्वारजोधपुर हाईकोर्ट में 10 लोग आए कोरोना पॉजिटिव, 13 से 15 जुलाई तक नहीं होगा कामकाजएक्टर पार्थ समथान के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद 'कसौटी जिंदगी की' की शूटिंग रोकी गईमुंबई: BMC ने सील किए अमिताभ बच्चन के चारों बंगलेकेंद्रीय सडक़ एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल 14 जुलाई को विडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से जींद-गोहाना ग्रीनफिल्ड हाईवे का शिलान्यास करेंगे खालिस्तान रेफरेंडम 2020 में वोटिंग न करने के लिए शांडिल्य ने जताया सिख समाज का आभार राजस्थानः सभी मंत्रियों और विधायकों को जयपुर पहुंचने के निर्देश, मुख्यमंत्री ने मिलने बुलायाकानपुर कांड की होगी न्यायिक जांच, यूपी सरकार ने एक सदस्यीय जांच आयोग का किया गठन
National

डब्ल्यूएचओ ने मास्क पहनने को लेकर गाइडलाइन में किया बदलाव, सभी देशों को हिदायत जारी

June 06, 2020 03:14 PM

नई दिल्ली: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने शुक्रवार को कोरोना वायरस महामारी के दौरान फेसमास्क पहनने की गाइडलाइन को अपडेट हुए कहा है कि लोग भीड़भाड़ वाली उन जगहों पर मास्क पहनें जहां नया कोरोना वायरस काफी फैला है.चूंकि ये घातक वायरस फैलता जा रहा है, ऐसे में डब्ल्यूएचओ ने भी इस बात को लेकर अपना नजरिया बदला है कि किसे मास्क पहनना चाहिए, कब पहनना चाहिए और ये मास्क किसमटीरियल का बना होना चाहिए. डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अदनोम ने सुझाव दिया कि सरकारों को अपनी जनता को ऐसी जगहों पर मास्क पहनने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए, जहां वायरस का व्यापक संक्रमण हो और लोगों का आपस में दूरी बनाना मुश्किल हो जैसे कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट, दुकानें या फिर ऐसी दूसरी जगह जहां भीड़भाड़ वाला माहौल रहता है.डब्ल्यूएचओ के प्रमुख ने कम्युनिटी ट्रांसमिशन वाले इलाकों के लिए सलाह दी कि जो लोग 60 साल या उससे अधिक उम्र के हैं, या ऐसे लोग जिन्हें गंभीर बीमारी है, उन्हें ऐसी स्थिति में मेडिकल मास्क पहनना चाहिए, जहां लोगों से शारीरिक दूरी बनाए रखना संभव नहीं है.डब्ल्यूएचओ ने गैर-मेडिकल फैब्रिक मास्क की बनावट को लेकर भी नई गाइडलाइन जारी की है, जिसमें ये सलाह दी गई है कि मास्क में अलग- अलग मटीरियल की कम से कम तीन परतें होनी चाहिए.हालांकि डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने जोर देकर कहा कि मास्क वायरस को दूर रखने के लिए प्रभावी रणनीति का केवल एक हिस्सा है और लोग ये न समझें कि इसको पहनने से वो पूरी तरह सुरक्षित हैं.

Have something to say? Post your comment