Monday, March 30, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा केबिनेट की अहम बैठक कल, सीएम की अध्यक्षता में होगी बैठकबीजेपी का हर कार्यकर्ता पीएम केयर फंड में देगा कम से कम 100 रुपये: जेपी नड्डाबॉलीवुड गायिका कनिका कपूर की आई चौथी रिपोर्ट, चौथी रिपोर्ट भी निकली कोरोना पॉजिटिवहरियाणा से राहत की खबर,गुरुग्राम का एक ओर कोरोना वायरस पीड़ित मरीज स्वस्थ हुआपी.सी. मीणा ने राज्य के सभी जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे भ्रामक खबरों पर अंकुश लगाएं और स्थिति को नियंत्रण में रखें ताकि लोगों में अफवाहें न फैलेराज्य की मण्डियों में आने वाली रबी फसल की पैदावार की खरीद को सुनिश्चित करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए:डॉ. बनवारी लाल प्रत्येक गांव स्तर पर 14 अप्रैल, 2020 तक एक मॉनिटरिंग कमेटी का गठन करें:दुष्यंत चौटालालॉकडाउन के दौरान अपने-अपने संस्थानों में कार्यरत श्रमिकों को जबरन अवकाश पर न भेजे:दुष्यंत चौटाला
Haryana

कुमारी शैलजा ने कोरोना के चलते हुए हरियाणा के सीएम मनोहर लाल को लिखा पत्र

March 25, 2020 04:17 PM

25 मार्च, 2020

 

 

 

प्रिय श्री मनोहर लाल जी,

 

         जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हमारा देश और विश्व एक स्वास्थ्य संकट से गुजर रहा है,जिससे केवल आपसी सहयोग और सक्रिय योजना के माध्यम से ही निपटा जा सकता है। कोविड़ 19 महामारी का न केवल स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ेगा, बल्कि यह हमारी राष्ट्रीय और राज्य की अर्थव्यवस्था को भी प्रभावित कर रही है। इस संकट की घड़ी में हम सभी को अपने महान राष्ट्र और इसके लोगों की सेवा के लिए सामूहिक प्रयास करने होंगे।

 

         हरियाणा कांग्रेस अगले 21 दिनों के लिए भारत और हरियाणा के पूर्ण लॉकडाउन का स्वागत करती है। ये आदेश हमारी पार्टी की अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी द्वारा की गई अपील के बिल्कुल अनुरूप है।  

 

         हमें यह जानकर भी प्रसन्नता हो रही है कि आपने हरियाणा के असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के हमारे अनुरोध को स्वीकार किया है।

 

         मेरा मानना है कि यह राजनीति का समय नहीं है, लेकिन मुझे यह भी लगता है कि वक़्त रहते ही हमें इस महामारी से निपटने के लिए कई और एहतियाती कदम उठाने होंगे ताकि नागरिकों के जीवन पर होने वाले घातक प्रभाव को कम किया जा सके।

 

         हमारे नागरिकों के कल्याण के लिए, मैं निम्नलिखित सुझावों पर विचार करने के लिए आपसे से अपील करती हूं:

 

         1) हम उस घोषणा का स्वागत करते हैं,जिसमें हरियाणा सरकार ने असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए 1200 करोड़ रुपये/ 4500रुपए प्रति माह की वित्तीय मदद देने का फैसला किया है। यह सुनिश्चित करने के लिए कि एक परिवार में सभी को मदद मिले, हम प्रति श्रमिक राहत राशि 10,000 रुपये प्रति माह तक बढ़ाने का भी अनुरोध करते हैं।

 

 

         2) हम राज्य सरकार से अनुरोध करते हैं कि हमारे किसानों, बेरोजगार युवाओं, गृहिणियों,अनुबंधित श्रमिकों, निःशक्तजन व दिव्यांग, बेघर,गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले सभी लोगों को इस तरह की आर्थिक मदद का एलान करना चाहिए। 

 

         3) राज्य में चल रही पेंशन योजनाओं समेत अन्य योजनाओं की मासिक किस्त लोगों को समय पर दी जाएं और सभी लाभार्थियों तक लाभ पहुंचने के लिए एक पारदर्शी प्रक्रिया का पालन किया जाए।

 

         4) सरकार स्पष्ट दिशा-निर्देश जारी करें कि लॉकडाउन की परिस्थिति में 'हरियाणा कोविड आर्थिक पैकेज’ के लिए 'जरूरतमंद निवासी’ कैसे पंजीकृत होंगे।   

 

         5) छोटे और मध्यम व्यवसायों के लिए एक अलग वित्तीय पैकेज की घोषणा की जाए,ताकि इस तरह के कारोबारी कार्य करना जारी रखें और सभी कर्मचारियों को यह आश्वासन दिया जाना चाहिए कि लॉकडाउन के दौरान और उसके बाद भी कोई छंटनी नहीं होगी। राज्य माल और सेवा कर (एस.जी.एस.टी) में शामिल सभी परिवर्तनों को अगले तीन महीनों के लिए माफ किया जाए। आवश्यक वस्तुओं की कीमतों को कम करके निवासियों को यह लाभ प्रदान करें।

 

         6) हमारे राज्य में परीक्षण किट, आईसीयू,वेंटिलेटर, एन 95 मास्क की भारी कमी है। हम अनुरोध करते हैं कि राज्य सरकार 10,000 से ज्यादा आईसीयू बेड अस्पतालों में स्थापित करे ताकि अधिकतम मरीजों का समय पर इलाज हो सके।

 

         7) एक टोल फ्री नंबर की स्थापना और स्वयंसेवकों/वाहनों की एक टास्क फोर्स की व्यवस्था करें, ताकि समाज के सबसे ज़रूरतमंद लोगों तक आवश्यक वस्तुएं उनके घर द्वार तक पहुंचाई जा सके।  इसके अंतर्गत राशन की डिलीवरी घर-घर हो सके, अलगाव में रहने वाले बुजुर्गों को दवाएं मिल सकें, बीमार लोग जो यात्रा करने में सक्षम नहीं हैं, छोटे बच्चों वाले परिवार,गर्भवती महिलाएं, विधवाएं, निशक्तजन व दिव्यांग और आपातकालीन सेवाओं में कार्य करने वालो के परिवारों को मदद दी जा सके।

 

         8) हम अनुरोध करते हैं कि शहरी सामुदायिक केंद्रों को अस्थायी अस्पताल और क्वारंटीन क्षेत्र बनाया जाये। सभी निवासियों को मुफ्त मास्क, सैनिटाइज़र, साबुन, दवाएं और जागरूकता सामग्री देने के लिए भी सामुदायिक केंद्रों का उपयोग किया जाए।

 

         9) इस महामारी के कारण राज्य ने 10 वीं, 12 वीं की बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है। इन छात्रों में से कुछ ने इस साल मई या जून में मेडिकल व इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में उपस्थित होना है। हम राज्य सरकार से अपील करते हैं कि निम्नलिखित कदम उठाकर इन छात्रों को राहत प्रदान करें:

 

         क. 9 वीं कक्षा से नीचे के सभी विद्यर्थियों को अगले स्कूली सत्र में अगली कक्षा में दाखिला दिया जाए।

 

         ख . 10 वीं और 12 वीं बोर्ड परीक्षाओं के बारे में सरकार योजना स्पष्ट करे, ताकि छात्र अपनी आगामी राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी समय से कर सकें।

 

         10) सरकार प्रदेश के गांवों में लॉकडाउन मोड सुनिश्चित करने के लिए ग्राम पंचायतों और सरपंचों को इसके कार्य में लगाए। इसके अलावा,अगर गांवों में कोई अनुपयोगी भवन हैं, जैसे बंद स्कूल, सामुदायिक केंद्र, तो कृप्या स्वास्थ्य अधिकारियों को इन भवनों का उपयोग आश्रयों,क्वारंटीन वार्ड या अस्थायी अस्पतालों के रूप में करने के लिए प्रोत्साहित करें, ताकि स्वास्थ्य सेवाएं राज्य के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुँच सकें।

 

         11) सरपंच यह भी सुनिश्चित करें कि कोई भी सामाजिक सम्मेलन, हुक्का, ताश खेलने की गतिविधियाँ गाँवों में न हों। सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए सभी को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

 

         12) जैसा कि हम सभी जानते हैं, गेहूं की फसल लगभग कटाई के लिए तैयार है। कृप्या हमारे किसानों को इस संकट की घड़ी में मदद मुहैया करवाने के लिए तत्काल कदम उठाए जाएं, ताकि उनकी फसलों को समय पर सुरक्षित रूप से काटा जा सके, तथा खरीद और भुगतान प्रक्रिया में कोई देरी न हो। कटाई का कार्य करने के लिए मशीनों का अधिकतम उपयोग हो। राज्य में किसानों और गरीब वर्ग के ऋणों को पूरी तरह से माफ करने पर विचार किया जाए। 

 

         13) ऐसी खबरें आई हैं कि राष्ट्रीय राजधानी में कर्फ्यू के कारण, आवश्यक वस्तुओं के मुख्य वितरक अपने वितरण कार्यों को कम कर सकते हैं, इससे राज्य के भीतर माल का स्टॉक प्रभावित हो सकता है। कृप्या सुनिश्चित करें कि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति श्रृंखला,दवाओं की आपूर्ति बाधित ना हो। कृप्या आवश्यक वस्तुओं के जमाखोरों पर सख्त कार्यवाही करें।

 

14) कृप्या यह सुनिश्चित करें कि जरूरतमंद वर्गों के लिए सरकारी राशन की दुकानें खुली रहें और सबसे ज़रूरतमंद लोगों के लिए भोजन की आपूर्ति जारी रहे।

 

         15) कृप्या सुनिश्चित करें कि हमारी आपातकालीन सेवाओं के नायक जैसे डॉक्टर,नर्सिंग स्टाफ, अस्पताल प्रशासन, कर्मचारी,सरकारी अधिकारी, स्वच्छता कर्मचारी, पुलिस बल, स्वयंसेवको, मीडियाकर्मियों को आर्थिक और सुरक्षा उपकरणों की दृष्टि से कोई कमी ना हो।

 

         16) कृप्या सभी आपातकालीन कर्मचारियों को अपने और अपने परिवार की वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए बीमा पॉलिसी स्थापित करें। इस तरह का बीमा सभी आपातकालीन कर्मचारियों को एक करोड़ रुपये तक का कवर दे।

 

         17) लॉकडाउन के निर्देश को और स्पष्ट करें क्योंकि इसके बाद भी किराने की दुकानों,दूध,अस्पतालों के बाहर भीड़ जमा हो रही है,जिससे इस वायरस के फैलने का खतरा और भी पैदा हो रहा है। सरकार लोगों के लिए ऐसे सामानों की घर पर ही डिलीवरी को सुविधा प्रदान करे। गांवों, शहरों में प्रिंट मीडिया, वीडियो संदेशों, घोषणाओं के माध्यम से 'सोशल डिस्टेंसिंग' के संबंध में सभी को और ज्यादा शिक्षित किया जाना चाहिए।

 

         मैं स्थानीय लोगों, पार्टी कार्यकर्ताओं,सरकार के अधिकारियों के साथ सुझाव,फीडबैक लेना जारी रखूंगी, जो इस महामारी को और फैलने से रोकने के लिए उपयोगी हो सकते हैं।

 

 

         मैं इस कठिन समय के दौरान भी अपनी और हमारी पार्टी की सेवाओं की पेशकश करूंगी। हम संकट की इस घड़ी में किसी भी समय आवश्यक समर्थन और मदद के लिए उपलब्ध रहेंगे।

 

         सादर

 

                                          भवदीया,  

 (कुमारी सैलजा)

श्री मनोहर लाल

मुख्यमंत्री, हरियाणा

हरियाणा सिविल सचिवालय,

चौथी मंजिल, सेक्टर 1,

चंडीगढ़।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
हरियाणा केबिनेट की अहम बैठक कल, सीएम की अध्यक्षता में होगी बैठक
हरियाणा से राहत की खबर,गुरुग्राम का एक ओर कोरोना वायरस पीड़ित मरीज स्वस्थ हुआ पी.सी. मीणा ने राज्य के सभी जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे भ्रामक खबरों पर अंकुश लगाएं और स्थिति को नियंत्रण में रखें ताकि लोगों में अफवाहें न फैले राज्य की मण्डियों में आने वाली रबी फसल की पैदावार की खरीद को सुनिश्चित करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए:डॉ. बनवारी लाल प्रत्येक गांव स्तर पर 14 अप्रैल, 2020 तक एक मॉनिटरिंग कमेटी का गठन करें:दुष्यंत चौटाला लॉकडाउन के दौरान अपने-अपने संस्थानों में कार्यरत श्रमिकों को जबरन अवकाश पर न भेजे:दुष्यंत चौटाला हरियाणा सरकार ने वर्तमान में उत्पन्न कोविड-19 की स्थिति के मद्देनजर विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारियों, जो 31 मार्च, 2020 को सेवानिवृत्त होने जा रहे हैं, की सेवाओं को एक महीने की अवधि के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश, बिहार और उडीसा के प्रवासी मजदूरों की सूची तैयार कर संबंधित उपायुक्तों को सौंपी गई: केशनी आनंद अरोड़ा
हरियाणा बिजली विभाग की पैसेनर्स वेलफेयर एसोसिएशन से जुड़े सभी 43 हजार सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने अपनी एक दिन की कोरोना पेंशन फण्ड में देने का निर्णय लिया
ज़रुरतमंद लोगों की मदद के लिए आगे आए समाज और क्षमता अनुसार रिलीफ फण्ड में मदद करे - हुड्डा