Friday, February 21, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
रिटायर्ड IAS अफसर अमरजीत सिन्हा और भास्कर खुल्बे को बनाया गया पीएम मोदी का सलाहकारदिल्ली के हर मोहल्ले में तैनात किए जाएंगे मार्शलः केजरीवाल सरकारदिल्लीः पीएम मोदी के बाद सोनिया गांधी से मिले महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरेCM केजरीवाल बोले- शिक्षा में सुधार के लिए महाराष्ट्र सरकार की पूरी मदद करेंगेकश्मीर मुक्ति-मुस्लिम मुक्ति के नारे लगाने वाली लड़की 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजी गईमहिला टी-20 वर्ल्ड कप: भारत ने चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हरायाबीजेपी सांसद गौतम गंभीर बोले- गोली मारो वाले नारे को नहीं करता समर्थनमहाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे ने पीएम मोदी से मुलाकात की
Haryana

हैफेड के सभी गोदामों एवं कार्यालयों में पारदर्शिता के उद्देश्य व अनियमितताओं को रोकने हेतू आगामी 31 मार्च, 2020 तक सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएंगे:सुभाष चंद्र कत्याल

January 29, 2020 06:02 PM

हैफेड के चेयरमैन श्री सुभाष चंद्र कत्याल ने कहा कि हैफेड के सभी गोदामों एवं कार्यालयों में पारदर्शिता के उद्देश्य व अनियमितताओं को रोकने हेतू आगामी 31 मार्च, 2020 तक सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएंगे। हैफेड के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए 31 मार्च, 2020 तक बायोमैट्रिक उपस्थिति प्रणाली भी सभी गोदामों एवं कार्यालयों में शुरू की जाएगी। हैफेड द्वारा वीटा व खादी बोर्ड के उत्पादों की बिक्री को भी बढ़ाया जाएगा।

श्री कत्याल आज कैथल के हैफेड कार्यालय में अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ हैफेड द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने जिला प्रबंधक के कार्यालय में तैनात अधिकारियों एवं कर्मचारियों की उपस्थिति की जांच की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चाहते हैं कि हैफेड के माध्यम से सहकारी संस्थाओं वीटा व खादी बोर्ड आदि के उत्पादों की बिक्री को ज्यादा से ज्यादा बढ़ाया जाए। उन्होंने हैफेड बिक्री केंद्र के वर्तमान वित्त वर्ष के लक्ष्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि वर्तमान वित्त वर्ष के दौरान जिला कैथल में इस केंद्र का लक्ष्य 2 करोड़ 76 लाख रुपये निर्धारित किया गया है तथा इस केंद्र द्वारा अभी तक 2 करोड़ 8 लाख की बिक्री की गई है। उन्होंने जिला प्रबंधक को निर्देश दिए कि वे इस बिक्री के ंद्र के लक्ष्य को साढ़े 3 करोड़ तक पहंचाएं। उन्होंने कहा कि हैफेड द्वारा गुणवत्ता के उत्पाद आम जनता तक पहुंचाए जाते हैं। हैफेड का लक्ष्य लोगों में सहकारी संस्थाओं के प्रति विश्वास को बढ़ाना है।

श्री सुभाष चंद्र कत्याल ने कहा कि हैफेड एक सरकारी खरीद एजैंसी है, जो न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों की फसलों की खरीद करती है। सरकार द्वारा हैफेड के गेहूं खरीद के शेयर को 40 प्रतिशत से बढ़ाकर 45 प्रतिशत किया गया है। हैफेड द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरसों व बाजरा की खरीद भी की जाती है।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
आप सभी को महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं:हरियाणा के सीएम मनोहर लाल आप सभी को महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं:दुष्यन्त चौटाला हरियाणा के उप मुख्यमंत्री ‘जस्ट ट्रांसफर्ड-द अनटोल्ड स्टोरी ऑफ अशोक खेमका’ GURGAON-8 गांवों में 242 एकड़ में उजाड़ डाली अरावली RTI: ₹60L penalty imposed on state officials for laxity Country liquor, premium IMFL to cost more in Haryana, beer to be cheaper HARYANA-60 दिनों में अवैध खनन और ओवरलोडिंग में लगे 2 हजार वाहन पकड़े, पुलिस थानों में जगह नहीं पानीपत की मेयर के पिता भूपेंद्र सिंह एटीपी का गिरेबां पकड़ भीड़ में ले गए, लाेगों ने मारे थप्पड़एटीपी का आरोप कोरोना वायरस: पंचकूला में अब तक 16 लोगों को घरों में ही निगरानी में रखा HARYANA सीएम की तस्वीर लगा बेच रहे हैं फार्म हाऊस