Friday, December 06, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
India vs West Indies: 30 रन पर भारत को पहला झटका, रोहित शर्मा 8 रन बनाकर आउटअपने धन्यवादी दौरे के दौरान बोली विधायक नैना सिंह चौटालारोहतक की जिला कोर्ट ने जाट आरक्षण आंदोलन में देशद्रोह की धाराओं के आरोपी कांग्रेस नेता प्रो. वीरेंद्र सिंह और उनके दो साथियों को बड़ी राहत दीलालू यादव को झारखंड हाईकोर्ट से बड़ा झटका, जमानत याचिका खारिजआज पंजाब के स्पीकर केपीएस राणा से मिलने का मौका मिला:ज्ञान चंद गुप्ता दिशा रेप-मर्डर केस के चारों आरोपी मुठभेड़ में ढेर: हैदराबाद पुलिस पोस्टमॉर्टम के बाद परिवार को सौंप देंगे आरोपियों के शव: हैदराबाद पुलिसछात्रा परिवहन सुरक्षा योजना’ के अन्तर्गत राज्य के पांच जिलों में पायलट आधार पर ‘महिला स्पेशल बस’ चलाई जाएगी:मनोहर लाल
Haryana

HARYANAगृह विभाग पर काका की तीसरी आंख

December 02, 2019 06:23 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR DEC 2
मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव खुल्लर को गृह विभाग दिए जाने से सियासी हलकों में चर्चाएं तेज हो गई हैं। कोई इसे बाबा पर काका की नजर से जोड़ रहा है तो कोई इसे बाबा के अधिकार सीमित रखना बता रहा है, क्योंकि 24 साल बाद प्रदेश में अलग गृहमंत्री बना है और यह डिपार्टमेंट बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। इसलिए सियासी हलकों में चर्चा है कि भले ही काका के पास यह विभाग अब नहीं है, लेकिन वह अपने दफ्तर के अफसरों के जरिए नजर जरूर रखना चाहेंगे।
काका-बाबा-चाचा के निशाने पर ब्यूरोक्रेट्स
जब से सरकार बनी है तब से मंत्रियों से लेकर मुख्यमंत्री तक के निशाने पर अफसर लॉबी है। कोई इनकी खाट खड़ी करने की बात कर रहा है तो कोई काम न करने पर विभाग और इलाका छोड़ने की चेतावनी दे रहा है। काका ने एक दिन पहले ही कहा कि एक सप्ताह में काम नहीं किया तो खाट खड़ी कर दूंगा। तो इससे पहले बाबा और डिप्टी साहब के मंत्री चाचा भी अफसरों को चेतावनी दे चुके हैं। काम भले ही हो या न हो, लेकिन लोगों तक यह संदेश तो पहुंच ही जाता है कि अफसरों को मंत्रियों ने फटकार लगा दी है।
अब कौनसे खुलासे के करीब थे खेमका
अपने ट्वीट और अलग कार्यशैली की वजह से हमेशा चर्चा में रहने वाले सीनियर आईएएस खेमका एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं। उनका 53वां तबादला जो हुआ है। ब्यूरोक्रेट्स से लेकर बुद्धिजिवियों में तबादले होने पर सिर्फ खेमका का ही नाम है। सभी को एक वजह जाननी है कि खेमका का तबादला कैसे हो गया। अब कौनसे घोटाले के करीब पहुंच गए थे, जो उनका तबादला हो गया। हालांकि खेमका ने ट्वीट कर अपना दर्द जरूर बयां किया। परंतु वजह उसमें भी नहीं बताई।
कॉमन मिनिमम से घोषणाएं होंगी मिनिमाइज
गठबंधन सरकार बनने पर दोनों दलों की 72 घोषणाएं समान होने का दावा किया गया, लेकिन जब कॉमन मिनिमम प्रोग्राम की पहली बैठक हुई तो यह और मिनिमाइज हो गई। समान घोषणाएं सिर्फ 33 ही सामने आईं। कई बड़ी घोषणाओं पर चर्चा ही नहीं हुई, क्योंकि उन पर पेंच तो फंसना है। अब सबकुछ वित्त विभाग के हवाले कर दिया है। वह तय करेगा कि ज्यादा घोषणा भाजपा के चुनावी मेनिफेस्टो की लागू होंगी या जजपा के घोषणा पत्र की। राजनीति विश्लेषक अभी से दाेनों की घोषणाओं की संख्या का गुणा-भाग करने में जुट गए हैं।
चौधर के लिए कुंडू पर नेताओं का वीटो
निर्दलीय पांच विधायकों को सत्ता सुख मिल गया है। परंतु इनके लिए दबाव बनाने वाले कुंडु को किनारे लगा दिया है। यह तो सरकार ही बता सकती है कि ऐसा क्यों किया गया, लेकिन चर्चाएं यही हैं कि रोहतक के दो नेताओं ने कुंडू के लिए अपना वीटो इस्तेमाल कर लिया। कुंडू को पद मिल जाता तो इन नेताओं की चौधर पर ग्रहण लग सकता था। अब कुंडू शांत है। सभी को उनके अगले कदम का इंतजार जरूर रहेगा।
-ओएसडी

 
Have something to say? Post your comment
 
 
More Haryana News
अपने धन्यवादी दौरे के दौरान बोली विधायक नैना सिंह चौटाला
आज पंजाब के स्पीकर केपीएस राणा से मिलने का मौका मिला:ज्ञान चंद गुप्ता
छात्रा परिवहन सुरक्षा योजना’ के अन्तर्गत राज्य के पांच जिलों में पायलट आधार पर ‘महिला स्पेशल बस’ चलाई जाएगी:मनोहर लाल
आज हमने झड़ा दिवस मनाया है देश के फौजियों और सीएम मनोहर लाल को बधाई दी है:ओ पी यादव, हरियाणा के सामाजिक न्याय मंत्री
चंडीगढ़:हैदराबाद पुलिस ने जो किया वो सही किया:ओ पी यादव हरियाणा के सामाजिक न्याय मंत्री
हरियाणा:रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करके भाजपा-जजपा पर निशाना साधा हरियाणा:डिप्टी सीएम दुष्यन्त चौटाला का बड़ा बयान मंत्री ने पूछा - किसानों काे 10 घंटे बिजली मिल रही है या नहीं HARYANA-साल भर में 150 दिन तक कार्यालयों में नहीं रहेंगे कर्मचारी HARYANA- प्रदेश के थर्मलों पर एनजीटी ने 5 करोड़ तक का हर्जाना लगाया सेंट्रल के लिए राख नहीं उठाने पर कार्रवाई