Monday, February 24, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
ताज के मुरीद हुए ट्रंप, बताया भारतीय संस्कृति की समृद्ध धरोहरताजमहल भारतीय संस्कृति की विविधतापूर्ण सुंदरताः डोनाल्ड ट्रंप दिल्ली हिंसाः जाफराबाद, बाबरपुर, गोकुलपुरी समेत 5 मेट्रो स्टेशन बंदजेजेपी की युवा फौज होगी और विशाल, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने दिए मूलमंत्रमौजपुर में CAA समर्थक और विरोधी आमने-सामने, पुलिस के सामने युवक ने की फायरिंगजस्टिस दीपक गुप्ता बोले- असहमति राष्ट्र विरोधी नहीं, सरकार को विरोध का अधिकार नहीं हैअहमदाबाद से आगरा के लिए रवाना हुए ट्रंप, शाम 5:15 बजे पर करेंगे ताजमहल का दीदारभारत और अमेरिका के बीच बढ़ा भरोसा, संबंध हो रहे मजबूत: पीएम मोदी
Haryana

FARIDABAD- न झाड़ू लगी न सीवर की हुई सफाई, नगर निगम के 5500 से अधिक कर्मचारी करते रहे प्रदर्शन

November 19, 2019 05:49 AM


COURTESY DAINIK BHASKAR NOV 19

विरोध : निगम के कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन, 20 से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की दी चेतावनी

नगर निगम के तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के करीब 5500 से अधिक कर्मचारी विभिन्न मांगों को लेकर सोमवार को निगम प्रशासन के खिलाफ मैदान में उतर आए। इन्होंने नगर निगम सफाई कर्मचारी यूनियन एवं म्युनिसिपल इंप्लाइज फेडरेशन के बैनरतले कमिश्नर कार्यालय पर प्रदर्शन कर नारेबाजी की। इन्होंने सोमवार को कोई काम नहीं किया। इससे न शहर में झाड़ू लगी और न सीवर साफ हुई। इन्होंने 20 नवंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की चेतावनी दे दी है। सफाई न होने से एनआईटी क्षेत्र में सीवर ओवरफ्लो की समस्या बनी है। बुधवार से समस्या और बढ़ने वाली है। वहीं दूसरी ओर कंगाली से जूझ रहा नगर निगम कर्मचारियों के वेतन की व्यवस्था नहीं कर पा रहा है। यहां तक कि पेंशनधारकों को पेंशन नहीं मिल रही है। आउटसोर्सिंग पर लगे कर्मचारियों में भी आक्रोश है। करीब 700 कर्मचारियों को दो महीने से वेतन नहीं मिला है।
सुबह से ही विरोध प्रदर्शन पर उतर आए नगर निगम के कर्मचारी
सोमवार सुबह से ही सफाई कर्मचारी मांगों को लेकर प्रदर्शन पर उतर आए। ओल्ड फरीदाबाद और बल्लभगढ़ जाेन के सभी कर्मचारी निगम मुख्यालय पहुंचे और प्रदर्शन में शामिल हो गए। इससे शहर के प्रमुख बाजारों में झाड़ू नहीं लगी। सीवर की समस्या से जूझ रहे एनआईटी क्षेत्र में ओवरफ्लो हो रहे सीवर की समस्या का भी निदान नहीं हो पाया। क्योंकि सफाई कर्मियों के साथ सीवरमैन भी प्रदर्शन में शामिल थे। व्यापारी एकता मंच मार्केट नंबर एक के प्रधान अजय नौनियाल के अनुसार सुबह व्यापारी खुद अपनी-अपनी दुकानों के सामने झाडू लगाया। मार्केट में कहीं झाडू नहीं लगी। बल्लभगढ़ चावला कॉलोनी के व्यापारी नेता प्रवीण कुमार और ओल्ड फरीदाबाद तालाब वाली गली के व्यापारी मनोहरलाल जुनेजा ने बताया कि सोमवार को मार्केट में कहीं भी झाडू नहीं लगी। दुकानदारों को खुद सफाई करी।
पेंशनभोगियों के पेंशन के पड़े लाले, अभी तक निगम के पास फंड की नहीं हो पाई व्यवस्था
अधिकांश एरिया में सीवर की नहीं हुई सफाई, परेशानी
एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में सीवर जाम की सबसे बड़ी समस्या है। यहां की अधिकांश गलियों में सीवर का पानी हमेशा भरा रहता है। वार्ड नंबर 9 के निगम पार्षद महेंद्र सरपंच के अनुसार उनके वार्ड में रामफल मंडी रोड, प्रधान चौक, पुरानी पुलिस चौकी के पास, प्रिंस स्कूल पॉकेट में सीवर की समस्या बनी हुई है। सोमवार को कोई सीवरमैन नजर नहीं आया। यही हाल वार्ड नंबर छह में 60 फुट रोड और नैन चौक का रहा। सारन में भी सीवर की सफाई नहीं हुई।
सिर्फ फोटो सेशन करा रहे नगर निगम के अधिकारी
नगर निगम के कर्मचारियों ने निगम प्रशासन पर फोटो सेशन करा वाहवाही लूटने का आरोप लगाया है। नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री, उपमहासचिव सुनील कुमार चिण्डालिया, संघ के जिला प्रधान गुरचरण खाण्डिया, जिला सचिव नानकचंद खैरालिया, सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने आरोप लगाते हुए कहा कि नगर निगम के टैक्स के रूप में करोड़ों रुपया बकाया है। लेकिन अधिकारियों में बकाया टैक्स वसूलने की नियत नहीं है। उन्होंने कहा कि अधिकारी सफाई कर्मचारियों को अनावश्यक रूप से गैर सफाई कार्य में लगाकर फोटो सेशन करा रहे हैं। इसे निगम कर्मचारी अब बर्दाश्त नहीं करेंगे। कर्मचारियों ने बकाया वेतन देने, सेवानिवृत्त कर्मचारियों की ग्रेज्युटी, लीव इन कैशमेंट, एडवांस पैसों का भुगतान करने आदि मांगों को लेकर निगमायुक्त की गैर मौजूदगी में उनकी पीए रवि वासुदेवा को ज्ञापन सौंपा गया और बुधवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी गई।
एनआईटी मार्केट नंबर एक में दुकानों के सामने सफाई न होने से पड़ा कूड़ा।
फरीदाबाद. नगर निगम प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करते निगम कर्मचारी।
नगर निगम कर्मचारियों की ये हैं मांगें
वर्ष 2014 की पालिसी में वंचित रह गए 157 कर्मचारियों को नियमित किया जाए।
सभी कैडरों में पदोन्नति के लिए रिक्त पदों को भरा जाए। एलटीसी, शिक्षा भत्ता एवं बकाया एरियर का भुगतान किया जाए।
निगम मुख्यालय में पार्किंग एवं कैंटीन की व्यवस्था की जाए. सभी पात्र कर्मचारियों को एसीपी स्केल का लाभ दिया जाए।
कर्मियों को तेल साबुन दिया जाए, तीनों जोन के कार्यालय, बूस्टिंग व डिस्पोजलों पर फर्नीचर की व्यवस्था की जाए और ठेकेदारी प्रथा बंद की जाए आदि।
20 से अनिश्चितकालीन आंदोलन की चेतावनी
नगर निगम में सलाहकार के पद पर कार्यरत एसएल मदान को हटाने, आउटसोर्सिंग कर्मचारियों सहित सभी कर्मचारियों को वेतन भुगतान करने सहित अन्य मांगों को लेकर निगम के तृतीय श्रेणी कर्मचारियों ने सोमवार निगम मुख्यालय पर प्रदर्शन कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। म्युनिसिपल कारपोरेशन इम्प्लाइज फेडरेशन के तत्वावधान में किए गए प्रदर्शन का नेतृत्व रमेश जागलान ने किया। उन्होंने निगम सलाहकार एसएल मदान की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए तत्काल बाहर करने की मांग की। आरोप लगाया कि निगम अधिकारियों की लापरवाही व फिजूलखर्ची के कारण निगम आज कंगाल हो गया है। इसका खामियाजा कर्मचारियों को भुगतना पड़ रहा है। कर्मचारियों को समय पर वेतन तक नहीं मिल पा रहा है। आउटसोर्सिंग पर कार्यरत कर्मचारियों को दो-तीन महीने से वेतन नहीं मिला है। आउटसोर्सिंग एजेंसी तरह-तरह की शर्तें थोपकर कर्मचारियों को बेवजह परेशान कर रही है। फेडरेशन ने चेतावनी दी है यदि निगम सलाहकार एसएल मदान को हटाने सहित उनकी अन्य मांगों को पूरा नहीं किया गया तो निगम कर्मचारी 20 नवम्बर से अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू कर देंगें।

Have something to say? Post your comment