Sunday, December 15, 2019
Follow us on
Haryana

PANIPAT-सीएम ने लकड़ी, फसलों के अवशेषों से बॉयलर चलाने की दी अनुमति, आज से चलेंगी फैक्ट्रियां

November 13, 2019 05:31 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR NOV 13

सीएम ने लकड़ी, फसलों के अवशेषों से बॉयलर चलाने की दी अनुमति, आज से चलेंगी फैक्ट्रियां
17 दिन से बंद पड़ी इंडस्ट्री को शुरू कराने के लिए विधायक व सांसद के साथ सीएम से मिले उद्यमी
प्रदूषण नियंत्रण विभाग के अफसराें से चर्चा के बाद सीएम ने दिए आदेश
भास्कर न्यूज | पानीपत
शहर में बुधवार से बंद पड़ी फैक्ट्रियां चलेंगी। पानीपत के उद्यमियाें ने सांसद संजय भाटिया व विधायक प्रमाेद विज काे साथ लेकर सीएम मनाेहर लाल से मुलाकात की। मंगलवार शाम काे चंडीगढ़ पहुंचे उद्यमियाें ने सीएम से 17 दिन से बंद पड़ी फैक्ट्रियां चलाने के लिए अनुमति मांगी। सीएम ने लकड़ी, पराली, मूंगफली के छिलके समेत अन्य फसली अवशेषों से बने गुटको से बॉयलर चलाने की अनुमति दी। सीएम ने कहा कि पानीपत समेत एनसीआर क्षेत्र में स्थित कंपनियों में फैक्ट्रियों में लगे बॉयलर में ऐसे गुट के प्रयोग कर सकते हैं जब तक एनसीआर क्षेत्र में कोयला समेत अन्य दिन से बॉलर चलाने की अनुमति नहीं मिल जाती तब तक ऐसे ही गुटको का प्रयोग किया जा सकता है। उद्यमियाें ने कहा कि पानीपत की फैक्ट्रियाें की वजह से दिल्ली में प्रदूषण नहीं है।

सांसद व विधायक से मिलने पहुंचे उद्यमी प्रीतम, गोयल व अशोक गुप्ता।
विज बोले- सीएम ने दी उद्यमियों को बड़ी राहत
सीएम से मिलने वाले पहुंची प्रतिनिधि मंडल मे उद्यमी प्रीतम सिंह सचदेवा, ललित गाेयल व अशाेक गुप्ता शामिल हुए। उन्हाेंने कहा कि एनवायरमेंट पाॅल्यूशन प्रिवेंशन एंड कंट्राेल अथाॅरिटी (ईपीसीए) ने एनसीअार में 14 नवंबर की सुबह तक फैक्ट्रियां बंद रखने के निर्देश हैं। पहले की तरह यह डेट अागे भी बढ़ सकती है। एेसा उद्यमियाें काे डर सता रहा है। इसी काे लेकर उद्यमियाें का प्रतिनिधि मंडल सीएम से मुलाकात करने के लिए चंडीगढ़ पहुंचा। विधायक प्रमोद विज ने बताया कि मनोहर लाल ने 40 मिनट तो उन समेत प्रतिनिधिमंडल से बातचीत की उसके बाद संबंधित विभागों के अधिकारियों को बुलाकर उनसे भी करीब आधा घंटा तक बातचीत की तो निष्कर्ष निकलकर आया कि एनसीआर में कोयला व अन्य पेट्रोल पदार्थों से बॉयलर चलाना एनजीटी ने बंद कर रखा है लेकिन इसका विकल्प यही है कि उद्यमी फसलें के अवशेषों से बने गुटको का प्रयोग करके बॉयलर चला सकते हैं। यह उद्यमियों के लिए बहुत बड़ी राहत की बात है। विज ने कहा कि हमारा भी उद्यमियों से आग्रह है कि वह नियमों के साथ चलेें।
एक्यूआई पहुंचा 460 पर, शहर की आबोहवा फिर हुई जहरीली
दिक्कत बड़ी क्योंकि अभी बारिश की संभावना नहीं
: एनवायरमेंट पॉल्यूशन प्रिवेंशन एंड कंट्रोल अथॉरिटी ने 25 अक्टूबर से पानीपत की इंडस्ट्रियों को बंद रखने के आदेश जारी कर रखे हैं।
: सोमवार को जारी किए गए नए आदेश के मुताबिक इंडस्ट्रियां 14 नवंबर की सुबह तक बंद रहेंगी। इसको लेकर उद्यमी और श्रमिक काफी परेशान हैं।
: उधर, पानीपत ही हवा में भी सुधार नहीं आ पा रहा है। ट्रैफिक डीएसपी सतीश वत्स ने ट्रैफिक पुलिस काे डीजल वाहनों के पॉल्यूशन सर्टिफिकेट जांचने के सख्त आदेश जारी कर चुके हैं। इसके चलते ट्रैफिक पुलिस करीब 1400 चालान काट चुकी है।
: इसके बाद भी हालात जटिल बने हुए हैं। मौसम विभाग के अनुसार 14 नवंबर तक मौसम शुष्क रहने, अधिकतम और न्यूनतम तापमान में गिरावट आ सकती है लेकिन फिलहाल बारिश की संभावना नहीं है।
पानीपत | पानीपत का एक्यूआई फिर बढ़ना शुरू हो गया है। शहर की हवा फिर से अति जहरीली हो गई है। मंगलवार को एक्यूआई 460 तक पहंुच गया। मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल राहत मिलने के आसार नहीं हैं। अक्टूबर माह के अंतिम चार दिन एक्यूअाई 300 से ऊपर ही रहा। वहीं, नवंबर में यह स्तर 400 को पार कर गया है।

 
Have something to say? Post your comment