Thursday, July 16, 2020
Follow us on
Haryana

PANIPAT- उद्यमियों ने डीसी काे ज्ञापन साैंपा, 24 घंटे का िदया वक्त : शाम को ईपीसीए के दिल्ली ऑफिस से इंडस्ट्रीय बंद 3 दिन और बढ़ाई

November 12, 2019 05:23 AM


COURTESY DAINIK BHASKAR NOV 12

भास्कर न्यूज. पानीपत
एनवायरमेंट पाॅल्यूशन प्रिवेंशन एंड कंट्रोल अथॉरिटी(ईपीसीए) ने आदेश पर 15 दिन से बंद चल रहीं इंडस्ट्रियाें काे खुलवाने की मांग काे लेकर साेमवार काे उद्यमियाें ने करीब 10 हजार श्रमिकाें के साथ 5 किमी का शांति मार्च निकाला। उद्यमियाें ने काली पट्टी बांध ताे श्रमिकाें ने बैनर-पाेस्टर के माध्यम से राेष व्यक्त किया और लघु सचिवालय में पहुंच धरने पर बैठ गए। प्रदेश सरकार अाैर प्रदूषण बाेर्ड के खिलाफ नारेबाजी की। सभी की जुबां पर एक ही नारा था कि दिल्ली के प्रदूषण की सजा पानीपत की इंडस्ट्रियाें काे क्याें दी जा रही है। अाैद्याेगिक अाैर व्यापारिक संगठनाें ने डीसी सुमेधा कटारिया काे ज्ञापन साैंप प्रदेश सरकार तक अपने दर्द काे पहुंचाने की मांग की। 24 घंटे का वक्त दिया। वहीं, इन्वायरमेंट पाॅल्यूशन प्रिवेंशन एंड कंट्राेल अथाॅरिटी(ईपीसीए) ने साेमवार शाम काे नए अादेश जारी कर 14 नवंबर की सुबह तक इंडस्ट्री बंद रखने का फरमान सुना दिया है। मंगलवार काे सभी संगठन बैठक कर अागे की रूपरेखा बनाएंगे। अाैद्याेगिक नगरी के नाम से प्रसिद्ध पानीपत शहर की इंडस्ट्रियां 25 अक्टूबर से बंद हैं। इसकाे लेकर उद्यमियाें में अाक्राेश बढ़ता ही जा रहा है। रविवार काे सेक्टर-29 पार्ट टू डायर्स एसाेसिएशन के अाह्वान पर सभी अाैद्याेगिक अाैर व्यापारिक संगठन एकजुट हाे गए। साेमवार सुबह 10.30 बजे सभी एसाेसिएशन सेक्टर-25 स्थित हरियाणा स्टेट पाॅल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड के बाहर जुट गईं। उनके साथ सभी इंडस्ट्रियाें में काम करने वाले श्रमिक भी शामिल हाे गए। जिनकी संख्या करीब 10 हजार थी। उद्यमियाें ने हाथाें पर काली पट्टी बांध ली अाैर श्रमिकाें ने बैनर-पाेस्टर संभाल लिए। पाॅल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड के अाॅफिस से वह पैदल-पैदल नारेबाजी करते हुए शांतिपूर्वक तरीके से लघु सचिवालय के लिए रवाना हाे गए।
फैक्ट्री तुरंत खुलवाने के लिए दिन में श्रमिकाें संग सड़क पर उतरे उद्यमी, राहत के बजाए शाम को 14 तक बढ़ गई बंदी

Have something to say? Post your comment