Wednesday, January 29, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा सरकार 49 एचसीएस अफसरों का किया तबादलाहरियाणा पुलिस की अपराध जांच एजेंसी द्वारा रोहतक जिले से 100 ग्राम हेरोइन रखने के आरोप में एक नशा तस्कर को गिरफ्तार किया गया हैफेड के सभी गोदामों एवं कार्यालयों में पारदर्शिता के उद्देश्य व अनियमितताओं को रोकने हेतू आगामी 31 मार्च, 2020 तक सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएंगे:सुभाष चंद्र कत्याल महापुरुष किसी एक समाज विशेष के नहीं बल्कि पूरे समाज और राष्ट्र की धरोहर होते हैं:रणबीर गंगवाएकमाह में ही एक लाख 44 हजार से अधिक उपभोक्ताओं को नियमित कनेक्शन जारी करने का कीर्तिमान स्थापित किया कोरोना वायरस पर स्वास्थ्य मंत्रालय की एडवाइजरी, चीन यात्रा से करें परहेजनिर्भया के दोषियों की फिर टल सकती है फांसी, विनय ने दाखिल की दया याचिकाIND vs NZ: सुपर ओवर में जीता भारत, न्यूजीलैंड को हराया तीसरा टी-20 मैच
Haryana

हरियाणा में कैबिनेट विस्तार 9-10 को होने की संभावना अनिल विज, कंवरपाल का मंत्री बनना तय

November 08, 2019 05:10 AM


COURTESY DAINIK BHASKAR NOV 8
भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा
हरियाणा में भाजपा-जेजेपी सरकार में मंत्रियों को शामिल करने को लेकर नई दिल्ली में दो दिनों से मंथन चल रहा है। सीएम मनोहर लाल विधानसभा के विशेष सत्र के मंत्रियों के नामों पर मंथन करने के लिए नई दिल्ली पहुंचे हैं। सूत्रों का कहना है कि सीएम मनोहर लाल व डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने मंत्रालयों व मंत्रियों के नामों पर सहमति लगभग कर ली है, भाजपा आला कमान को आखिरी निर्णय लेना है। भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और संगठन महामंत्री बीएल संतोष से पार्टी मुख्यालय में मंत्रिमंडल के आकार और विधायकों के नाम को लेकर चर्चा हुई। अब पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मुहर के बाद हरियाणा कैबिनेट के विस्तार की तारीख तय कर दी जाएगी। सूत्रों का कहना है कि नौ या 10 नवंबर को कैबिनेट विस्तार हो सकता है। 10 नवंबर को विस्तार की अधिक संभावना है। यदि फिर भी किसी तरह की रूकावट होती है तो विस्तार को टाला भी जा सकता है, क्योंकि आला कमान महाराष्ट्र मामले में व्यस्त है।
मंत्रियों के नामों को लेकर यूं तो खाका पूरी तरह से तैयार हो चुका है। लेकिन इसके लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पीएम नरेंद्र मोदी कोई आखिरी निर्णय लेंगे। सीएम नई दिल्ली में हैं और अमित शाह से भी मुलाकात होनी है। जबकि नौ नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी व सीएम मनोहर लाल पंजाब में होने वाले धार्मिक कार्यक्रम में एक साथ हांेगे। सूत्रों का कहना है कि दोनों के बीच इस संदर्भ में वार्ता हो सकती है। ऐसे में नौ नवंबर की बजाए 10 नवंबर को मंत्रिमंडल का विस्तार होने की प्रबल संभावना है।
सीएम मनोहर लाल ने गुरुवार देर शाम नई दिल्ली में हरियाणा भाजपा संगठन के नेताओं के साथ भी मंत्रियों के नामों को लेकर गहन विचार विमर्श किया। बैठक में पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला के अलावा अन्य पदाधिकारी भी मौजूद थे। बताया जा रहा है कि कई नए मंत्रिमंडल में जातीय व क्षेत्री संतुलन को साधकर नाम तय किए गए हैं।
नई दिल्ली में सीएम की भाजपा के आला नेताओं के साथ बैठक, मंत्रिमंडल पर अमित शाह लगाएंगे अंतिम मुहर
इनके नामों पर गहन चर्चा : भाजपा के पुराने गढ़ माने जाने वाले जीटी बेल्ट में अम्बाला से छठी बार जीतकर आए अनिल विज, जगाधरी के कंवरपाल गुर्जर का मंत्री बनना लगभग तय माना जा रहा है। अभय सिंह यादव, डॉ.बनवारी लाल, पलवल के विधायक दीपक मंगला, फरीदाबाद के विधायक नरेंद्र गुप्ता, बल्लभगढ़ के विधायक मूलचंद शर्मा, तिगांव के विधायक राजेश नागर, बड़खल विधायक सीमा त्रिखा के नामों पर गहन विचार हुआ है। जेजेपी की ओर से नारनौंद के विधायक रामकुमार गौतम और अनूप धानक को मंत्री बनाया जा सकता है। हिसार से विधायक कमल गुप्ता, गन्नौर विधायक निर्मल, घरौंडा से दूसरी बार जीते हरविंद्र कल्याण और कलायत से विधायक कमलेश ढांडा को भी मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है। जेपी दलाल या घनश्याम सर्राफ को भी मंत्री पद मिल सकता है

 
Have something to say? Post your comment
 
 
More Haryana News
हरियाणा सरकार 49 एचसीएस अफसरों का किया तबादला हैफेड के सभी गोदामों एवं कार्यालयों में पारदर्शिता के उद्देश्य व अनियमितताओं को रोकने हेतू आगामी 31 मार्च, 2020 तक सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएंगे:सुभाष चंद्र कत्याल महापुरुष किसी एक समाज विशेष के नहीं बल्कि पूरे समाज और राष्ट्र की धरोहर होते हैं:रणबीर गंगवा एकमाह में ही एक लाख 44 हजार से अधिक उपभोक्ताओं को नियमित कनेक्शन जारी करने का कीर्तिमान स्थापित किया
चंडीगढ़:अभय चौटाला अपने निवास पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए
देवेंद्र बबली ने सुभाष बराला पर खोला मोर्चा HARYANA State attorneys seek elevation as HC judges पूर्व सीएम चौटाला को रिहाई तक नहीं िमलेगी पेरोल-फरलो, परिजनों से एक माह मुलाकात पर भी रोक 3 साल पेरोल-फरलो पर लगी रोक, पर दिसंबर में पूरी होगी सजा 2014 की तुलना में भाजपा का खर्च 81%, कांग्रेस का 74% बढ़ा-2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा को हर जीती हुई सीट 4 करोड़ रुपए में, जबकि कांग्रेस को 15 करोड़ रुपए में पड़ी शक्ति को सम्मान : कुम्हार समाज ने घोड़ी पर निकाला बेटियों का बनवाड़ा