Thursday, November 14, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
हरियाणा सरकार ने मुख्यमंत्री,उपमुख्यमंत्री और अन्य सभी मंत्रियों को अलॉट किए गए विभागों की अधिसूचना जारी कीबीजेपी नेता विनय कटियार कल रामलला के दर्शन करने जाएंगे अयोध्याशिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने कहा- जनता को न्याय दिलाने के लिए बना रहे सरकारमहाराष्ट्र में बैठक के बाद शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस में साझा कार्यक्रम तयहरियाणा: वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री अनिल विज को गृह, स्वास्थ्य सहित सात विभागों का कार्यभार सौंपा गयारणदीप सुरजेवाला होंगे झारखंड चुनाव के लिए कांग्रेस स्टार प्रचारकइंदौर टेस्ट: भारत को पहला झटका, रोहित शर्मा 6 रन बनाकर आउटअफगानिस्तानः फायजाबाद के साउथईस्ट इलाके में भूकंप के झटके, तीव्रता 5.3 मापी गई
 
Haryana

उसी अंदाज में चला हनीप्रीत का काफिला जैसे डेरा मुखी का चलता था, 20 किमी में 3 से 30 हुईं गाड़ियां

November 07, 2019 04:18 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR NOV 7
उसी अंदाज में चला हनीप्रीत का काफिला जैसे डेरा मुखी का चलता था, 20 किमी में 3 से 30 हुईं गाड़ियां
अम्बाला सेंट्रल जेल में 24 महीने 24 दिन रहने के बाद जमानत पर छूटी

बुधवार शाम करीब 4.30 बजे अम्बाला की सेंट्रल जेल में हनीप्रीत उर्फ प्रियंका तनेजा की पंचकूला कोर्ट से हुई जमानत के आदेश पहुंच गए थे। करीब आधे घंटे बाद हनीप्रीत की मां व भाई-भाभी पहुंच गए। रिकॉर्ड में उसे भाई साहिल तनेजा के सुपुर्द किया गया। 5:40 बजे सेंट्रल जेल के छोटे गेट से जब हनीप्रीत बाहर निकली तो पीला सूट पहना हुआ था। चेहरे पर पुरानी चमक और होठों पर मुस्कान थी। परिजनों के गले मिलने के एक मिनट में ही फॉरच्यूनर (पीबी-10-ईडी-0041) में बैठ गई। सभी परिजन इसी गाड़ी में बैठे। यह गाड़ी लुधियाना में राजदीप सिंह के नाम पंजीकृत है। जेल सूत्रों के मुताबिक जब से हनीप्रीत के ऊपर से देशद्रोह की धारा हटी थी, तभी से वह खुश चल रही थी। दो दिन से वह सभी के साथ मुस्कुरा कर बात कर रही थी। 24 महीने जेल में रहने वाली हनीप्रीत के चेहरे में ज्यादा बदलाव नहीं आया। वह वैसे ही लग रही थी जैसी जेल जाने से पहले थी। वह मेडिकली भी फिट थी।
जेल से पुलिस की एक गाड़ी आगे और एक पीछे चली। अम्बाला कैंट फ्लाईओवर निकलते ही और गाड़ियां हनी प्रीत के काफिले में शामिल होती गईं। 20 किलोमीटर दूर शाहाबाद तक काफिले में गाड़ियों की संख्या 30 तक पहुंच गई। इनमें ज्यादातर इनेवो-फॉर्च्यूनर जैसी एसयूवी गाड़ियां थीं। एक होंडा सिटी भी काफिले में रही। सूत्रों के मुताबिक शाहाबाद के पास हनीप्रीत ने गाड़ी बदली। उल्लेखनीय है डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के काफिले की फॉर्मेशन भी लगभग ऐसी ही रहती थी। छत्रपति मर्डर केस में फैसले के दिन जब डेरा मुखी को पंचकूला कोर्ट ले जाया जा रहा था, तब भी रास्ते में उनका काफिला ऐसे ही बढ़ता गया था। यही नहीं रास्ते में डेरा मुखी ने गाड़ी भी बदली थी। जेल प्रशासन, पुलिस या परिजनों ने यह खुलासा नहीं किया कि हनीप्रीत कहां गई है।
अम्बाला से सीधे सिरसा डेरे में पहुंचा हनीप्रीत का काफिला
अम्बाला | कोर्ट से जमानत मिलने के बाद अम्बाला सेंट्रल से सिरसा डेरे में पहुंचा हनीप्रीत का काफिला।
2017 से जेल में थी हनीप्रीत
डेरा मुखी को सीबीआई कोर्ट द्वारा सजा सुनाए जाने के बाद हनी प्रीत डेरा मुखी के साथ ही प्लेन से रोहतक गई थी। उसके बाद वह गायब हो गई थी। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उसे 9 दिन के रिमांड पर लिया था। 13 अक्टूबर 2017 के बाद से वह अम्बाला की सेंट्रल जेल में बंद थी। पिछले साल नवंबर में उसे रोहतक की सुनारिया जेल में शिफ्ट होने की अर्जी लगाई थी। जहां डेरा मुखी बंद हैं। हालांकि उसकी यह मांग पूरी नहीं हुई। तीन दिन पहले ही हनी प्रीत पर लगी देशद्रोह की धारा हट गई थी, उसके बाद से उसकी जमानत का रास्ता साफ हो गया था। डेरा मुखी की खास राजदार हनीप्रीत, जिसे बाबा अपनी मुंह बोली बेटी कहता था, का असली नाम प्रियंका तनेजा है। पिता का नाम रामानंद व मां का नाम आशा तनेजा है। भाई साहिल व बहन नीशु है। तनेजा परिवार मूलरूप से फतेहाबाद जिले का रहने वाला है। प्रियंका 1996 में पहली बार डेरे के कॉलेज में 11वीं क्लास में पढ़ने के लिए आई थी। उसे नाचने, गाने और अभिनय का बहुत शौक था। उसी साल डेरा मुखी लड़कियों को आशीर्वाद देने के बहाने स्कूल में आया, तभी उसकी नजर प्रियंका पर पड़ी। फिर उसका नया नामकरण किया और वह हनी प्रीत बनी। हनी प्रीत और विश्वास गुप्ता की शादी 14 फरवरी 1999 को डेरा प्रमुख ने ही कराई थी। हालांकि दोनों की शादी ज्यादा दिन नहीं चल सकी। हनीप्रीत की गिनती डेरा प्रमुख के करीबियों में होती थी। कई महत्वपूर्ण फैसलों में उसकी चलती थी। डेरा प्रमुख की फि‍ल्मों को भी डायरेक्ट कर चुकी है। उसने 'MSG: द वॉरियर लॉयन हार्ट' का निर्देशन किया

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
हरियाणा सरकार ने मुख्यमंत्री,उपमुख्यमंत्री और अन्य सभी मंत्रियों को अलॉट किए गए विभागों की अधिसूचना जारी की हरियाणा: वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री अनिल विज को गृह, स्वास्थ्य सहित सात विभागों का कार्यभार सौंपा गया
हरियाणा के नए मंत्रियों को सचिवालय में कार्यालय हुए अलॉट
हरियाण:संदीप सिंह ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
हरियाण:अनूप धानक ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
हरियाणा:श्रीमति कमलेश ढांडा ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
हरियाणा:ओम प्रकाश यादव ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
हरियाणा:डॉ बनवारी लाल ने मंत्रिमंडल मंत्री पद की शपथ ली
हरियाणा:जय प्रकाश दलाल ने मंत्रिमंडल मंत्री पैड की शपथ ली
हरियाणा:रंजीत सिंह ने मंत्रिमंडल मंत्री की शपथ ली