Monday, April 06, 2020
Follow us on
Haryana

अफसर के सामने महिला को पीछे कर युवक ने जबरन डाला वोट इलेक्शन कंट्रोवर्सी रिटोली में बूथ नं. 94 पर सरेआम धक्केशाही

October 22, 2019 06:19 AM

COURTESY DAINIK BHASKR OCT 22

अफसर के सामने महिला को पीछे कर युवक ने जबरन डाला वोट
इलेक्शन कंट्रोवर्सी
रिटोली में बूथ नं. 94 पर सरेआम धक्केशाही
लड़के ने बटन दबाया

पीठासीन अधिकारी के सामने एक युवक ने महिला का वोट खुद ही डाल दिया। अफसर उसे रोकने की बजाय खुद को असहाय बताता रहा
रिटोली (जींद). सफीदों विधानसभा तहत आने वाले गांव रिटोली के राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल में बने मतदान केन्द्र के भाग 94 में जबरन मतदान होते देखा गया। जब भास्कर टीम मौके पर पहुंची तो एक युवक मशीन के पास खड़ा हुआ था जब कि वहीं पास में पीठासीन अधिकारी भी बैठे हुए थे। जब एक महिला मतदान करने आई तो युवक ने जबरन मशीन का बटन दबा दिया। भास्कर टीम ने इस सारे प्रकरण को कैमरे में कैद कर लिया। कैमरा चलता देख पीठासीन अधिकारी जयदीप एकदम उठ खड़े हुए और कैमरे को रोकने लगे। जब उनसे मशीन के पास युवक की उपस्थिति को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि उनकी बात यहां कोई मान ही नहीं रहा। सभी ऐसा कर रहे हैं। इसके बावजूद उन्होंने प्रशासन को इस बारे में कोई जानकारी देना उचित नहीं समझा। सफीदों विधानसभा के रिटर्निंग आफिसर मंदीप कुमार को जब बारे में पूछा गया तो उन्होंने इस संबंध में उनके पास शिकायत नहीं है। अगर ऐसा हुआ है तो संबधित अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ जांच की जाएगी।
कैमरा देख उठा अफसर
इन्होंने वादा निभाया
 104 वर्षीय गंगा बेटे-पोते का सहारा लेकर पहुंची बूथ तक
ये हैं पानीपत की निवासी 104 वर्षीय गंगा। चलने-फिरने में असमर्थ हैं। लेकिन लोकतंत्र के अपने फर्ज को निभाने के लिए ये 87 साल के बेटे और पोते के सहारे बूथ पर पहुंची और मतदान किया।
 इस बेटी की हिम्मत और जिद शब्दों से बयां करना मुश्किल
यमुनानगर की रहने वाली मोनिका के हाथ-पैर काम नहीं करते। फिर भी वह बूथ पर पहुंची और मुंह से मतदान किया।
ये हैं वे प्रेरक चेहरे, जिन्होंने एक दिन पहले भास्कर से किया था वादा, दुख दर्द काे पीछे छोड़ वोट डाल जिताया लोकतंत्र
 पिता के देहांत का दर्द, फिर भी फर्ज अदा करके आए मांगेराम
सिरसा के ऐलनाबाद के गुड़ियाखेड़ा के निवासी मांगेराम छिंपा के पिता का दो दिन पहले निधन हो गया था। घर पर माहौल गमगीन है। इसके बावजूद वे खुद और दोनों परिवारों के भाइयों के साथ मतदान करने पहुंचे।
 हौसले के पांव पर चलकर पहुंचे वोट देने
ये हैं राेहतक के पवन कुमार, जिनके पैर एक हादसे में चले गए हैं। फिर भी पवन हौसले के पांव चलकर आए और मतदान किया

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
केस दर्ज कर सीसीटीवी फुटेज चेक कर रही है पुलिस धनकोट में मस्जिद के बाहर फायरिंग School closures may raise obesity among kids: Experts Ggm labour dept seeks industry opinions on operations post Apr 14 प्रधानमंत्री मोदी की अपील पर दीपावली के बाद अप्रेल में सिरसा में भी पहली बार हुआ दीपोत्सव
हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने चंडीगढ़ में अपने निवास पर मोमबत्ती जलाकर एकजुटता का दिया संदेश
मनोहर लाल ने मुकेश गर्ग द्वारा ‘हरियाणा कोरोना रिलीफ फंड’ में एक करोड़ रूपए का योगदान दिए जाने पर उनका धन्यवाद किया कोरोना:अम्बाला के उपायुक्त अशोक कुमार ने परिवार संग मनाया प्रकाश पर्व
कोरोना:अम्बाला सिटी में विधायक असीम गोयल ने परिवार संग मनाया प्रकाश पर्व
ऊर्जा मंत्री चौधरी रणजीत सिंह ने परिवार संग मनाया प्रकाश पर्व
हरियाणा के स्वास्थ्य व गृह मंत्री अनिल विज ने दीया और मोमबत्ती जलाकर कोरोना के खिलाफ एकता का दिया संदेश