Sunday, November 17, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
मुंबईः शिवसेना-कांग्रेस-NCP की राज्यपाल के साथ संयुक्त बैठक स्थगितकेरलः आज शाम खुलेंगे सबरीमाला मंदिर के पट, काफी संख्या में पहुंचे रहे श्रद्धालुगृह मंत्री अनिल विज⁩ ने अचानक पानीपत के पुलिस स्टेशन पर मारा छापा, एसएचओ समेत कई कर्मी मौके पर न मिलने पर दो को किया सस्पेंडजम्मू-कश्मीरः बारामूला के सोपोर इलाके में सुरक्षा बलों ने 5 संदिग्ध आतंकियों को दबोचाडिप्टी सीएम दुष्यन्त चौटाला को हाई कोर्ट से मिली राहत,डिप्टी सीएम मामले में दायर याचिका हाई कोर्ट ने खारिज कीदिल्ली: आर्थिक मंदी के खिलाफ 30 नवंबर को रामलीला मैदान में कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन दिल्ली: आर्थिक मंदी के खिलाफ 30 नवंबर को रामलीला मैदान में कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन बीजेपी नेता विजय गोयल बोले-दिल्ली में ऑड-ईवन पर दिल्ली सरकार नाटक कर रही थी
 
Haryana

एक करोड़ रुपए का टर्नओवर दिखा जीएसटी में फर्म कर रही हेराफेरी, 9 जिलों की 110 फर्म एंटी एवेजन टीम के राडार पर

October 18, 2019 06:19 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR OCT 18

छोटे रेस्टोरेंट व दुकानों पर अब सेंट्रल जीएसटी की नजर, टैक्स भुगतान के लिए जारी करेंगे नोटिस
फेस्टिव सीजन होने की वजह से अभी नहीं की जाएगी छापामारी की कार्रवाई
विवेक मिश्र | रोहतक
प्रदेश के नौ जिले सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, भिवानी, चरखी दादरी, जींद, रोहतक, झज्जर व सोनीपत में शहर के नामचीन रेस्टोरेंट, पिज्जा आउटलेट्स व ब्रांड बन चुकी दुकानें सेंट्रल जीएसटी के राडार पर हैं। इन जिलों की 110 फर्म ऐसी हैं जो 1 करोड़ से कम का टर्नओवर दिखा टैक्स में हेराफेरी कर रहे हैं। इन सभी को सेंट्रल जीएसटी की एंटी एवेजन स्क्वायड नोटिस जारी कर टैक्स भुगतान के लिए नोटिस देने की तैयारी कर रही है। फर्म से जुड़े रिकार्ड की टीम लगातार मॉनिटरिंग कर रही है। इस जांच में सामने आया है कि ये संचालक हैं एक करोड़ से कम टर्नओवर दिखाकर टैक्स चोरी कर रहे हैं। जबकि उन फर्म व शॉप संचालकों की वार्षिक टर्नओवर एक करोड़ से कहीं ज्यादा हैं। दो माह से एंटी एवेजन शाखा के अधिकारियों ने ऐसे 110 व्यापारियों को चिह्नित कर उनकी ओर से भरी जाने वाली रिटर्न और प्रतिदिन की सेल का आंकड़ा तैयार करने में जुट गए हैं। आयुक्तालय के अधिकारियों का कहना है कि फेस्टिव सीजन होने की वजह से अभी छापामारी की कार्रवाई नहीं की जाएगी। फिलहाल सभी को नोटिस जारी कर टैक्स चोरी की राशि जमा कराने की चेतावनी देगी। जांच में ये भी सामने आया है कि ये फर्म सेल रिकार्ड के डेटा में हेराफेरी और ग्राहकों को प्रिंट बिल न देकर इस गड़बड़ी को अंजाम दे रहे हैं।
राेहतक में दो फर्म पर हो चुकी है कार्रवाई
वहीं पिछले 10 दिन में एंटी एवेजन की टीम ने रोहतक शहर में एक चाट भंडार की शॉप और बेकरी शॉप पर छापेमारी की कार्रवाई की है। टीम के अधिकारियों ने चाट भंडार संचालक पर जीएसटी चोरी का आरोप तय करते हुए 20 लाख रुपए का जुर्माना लगाया। जबकि बेकरी शॉप संचालक पर एक करोड़ से कम टर्नओवर दिखाने पर कंपोजेटरी कैटेगरी के तहत साढ़े नौ लाख रुपए का जुर्माना लगाने का नोटिस थमाया। एंटी एवेजन टीम के अधिकारियों का कहना है कि अभी भी शहर में 35 से अधिक फर्म व शॉप संचालक ऐसे हैं जो कारोबार में कर्म टर्नओवर दिखाकर टैक्स चोरी कर रहे हैं। ऐसे सभी कारोबारियों को टैक्स चोरी न करने और निर्धारित टैक्स की राशि जमा कराने के लिए आगाह किया जाएगा।
ऐसे सभी मामलों में ब्याज एवं जुर्माना से तथा अभियोग से मिलेगी छूट
सुनिश्चित बकाया कर के मामले, जहां अपील लंबित न हो, उनमें 60 फीसदी तक छूट देने का स्लैब तैयार किया गया है जिसमें बकाया कर की रकम 50 लाख या उससे कम हो। यदि बकाया कर की रकम 50 लाख से अधिक हो तो 40 फीसदी की छूट मिलेगी। स्वैच्छिक रूप से घोषित किए गए बकाया टैक्स की पूरी रकम का भुगतान करना होगा। ऐसे सभी मामलों में ब्याज एवं जुर्माना से तथा अभियोग से छूट मिलेगी। इसके अतिरिक्त बकाया जुर्माने के मामले भी इस योजना के अंतर्गत आएंगे जिनमें कर का दायित्व न हो, बशर्ते कि उनकी घोषणा इस योजना के तहत की गई थी। घोषणा 31 दिसंबर 2019 से पहले सीबीईसी जीएसटी की वेबसाइट पर फार्म एसवीएलडीआरएस-1 में इलेक्ट्रॉनिक रूप से करनी होगी।
कम टर्नओवर दिखाकर टैक्स चोरी करने वाले किए चिह्नित: विजय मोहन
आयुक्तालय के अंतर्गत आने वाले नौ जिलों में एंटी एवेजन शाखा के अधिकारियों ने बड़ी संख्या में ऐसे फर्म व शॉप संचालकों को चिह्नित किया है जो एक करोड़ से कम टर्नओवर टैक्स चोरी कर रहे हैं। फिलहाल फेस्टिव सीजन में छापेमारी की बजाय ऐसे कारोबारियों काे नोटिस देकर निर्धारित टैक्स का भुगतान करने के लिए चेताया जाएगा। यदि फिर भी वे टैक्स भरने के लिए आगे नहीं आते हैं तो जीएसटी पंजीयन रद्द करने की कार्रवाई की जाएगी। -विजय मोहन जैन, आयुक्त, सेंट्रल जीएसटी आयुक्तालय, रोहतक।
50 करदाताओं ने सबका विश्वास योजना पर जताया भरोसा
माल और सेवा कर आयुक्तालय, रोहतक के एडिशनल कमिश्नर महेंद्र सिंह ने बताया कि एक सितंबर 2019 को केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड ने सबका विश्वास स्कीम लांच कर पुराने कर विवाद समाधान के तहत निर्धारित स्लैब के तहत बकाया टैक्स की राशि में छूट देने की सहूलियत दी है। 31 दिसंबर तक चलने वाली योजना के तहत अब तक 50 से ज्यादा करदाता जिनके ऊपर कर राशि बकाया थी, वो योजना में शामिल होने के लिए आगे आए हैं। 10 अक्टूबर तक वो 42 करदाता जिनके ऊपर दो करोड़ 15 लाख रुपए का टैक्स बकाया था। वे अब योजना में शामिल होकर सिर्फ 82 लाख रुपए ही जमा करा सकेंगे

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
गृह मंत्री अनिल विज⁩ ने अचानक पानीपत के पुलिस स्टेशन पर मारा छापा, एसएचओ समेत कई कर्मी मौके पर न मिलने पर दो को किया सस्पेंड Dushyant Chautala fails to appear in court HARYANA-Past record Home minister is known for creating controversies with his outburst GURGAON-Residents angry: ‘It is like a gas chamber’ अब संडे को चलेगी चंडीगढ़-नई दिल्ली शताब्दी, बुधवार को बंद रहेगी हरियाणा एचसीएस-एलाइड सर्विस के 166 पदों पर इंटरव्यू की प्रक्रिया पूरी, 2-3 दिन में आ सकता है रिजल्ट जीरो एफआईआर वॉट्सएप ग्रुप से चलेगा तंत्र, विज इसी से लेते हैं रोजाना की रिपोर्ट नए बने सभी 7 मंत्रियों को कोठियां अलॉट; शुभ-अशुभ के चक्कर में फंसे, विज के पास गृह विभाग के साथ सीआईडी भी, गोपनीय सूचनाएं सीएम को पहुंचाएंगे मूलचंद शर्मा ने पहले की पूजा, फिर ग्रहण की सीट
हरियाणा के कैबिनेट मंत्रियों को मिले उनके सरकारी निवास स्थान