Tuesday, July 07, 2020
Follow us on
Haryana

पूर्व कमिश्नर ने उच्चाधिकारियों को भेजी शिकायत, और शाम को जब भास्कर ने बात करनी चाही तो दोनों के फोन बंद मिले

September 21, 2019 06:59 AM

courtesy dainik bhaskar sept 21



पूर्व कमिश्नर ने उच्चाधिकारियों को भेजी शिकायत, और शाम को जब भास्कर ने बात करनी चाही तो दोनों के फोन बंद मिले
अनीता यादव

शहर में अलग-अलग विभागों में नियुक्त दो महिला आईएएस अधिकारियों के बीच सरकारी आवास को लेकर विवाद पैदा हो गया है। पूर्व निगम कमिश्नर अनीता यादव की फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए) का अतिरिक्त सीईओ बन वापसी होते ही सरकारी आवास को लेकर यह हाईप्रोफाइल ड्रामा शुरू हो गया है। नवनियुक्त निगम कमिश्नर सोनल गोयल गुरुवार दोपहर सरकारी आवास पर पहुंचीं और कैंप कार्यालय खुलवाकर उसमें घुस गईं। एफएमडीए की सीईओ अनीता यादव ने गोयल को फोन कर ऐसा न करने का सुझाव दिया लेकिन वह नहीं मानीं। इसके बाद अनीता यादव ने चीफ सेक्रेटरी, समेत अन्य अधिकारियों को पत्र लिख पूरे मामले की जानकारी देकर गोयल को रोकने की गुजारिश की। अब यह मामला डिवीजनल कमिश्नर के पास पहुंच गया है। मामला दो आईएएस अधिकारियों का होने से कोई अधिकारी इस बारे में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।
एनजीटी की फटकार के बाद सरकार ने अनीता यादव का निगम कमिश्नर पद से 14 सितंबर को तबादला कर उन्हें डायरेक्टर हरियाणा टूरिज्म बना दिया था। उन्होंने 16 सितंबर को निगम कमिश्नर का चार्ज भी छोड़ दिया था। तीन दिन बाद ही सरकार ने उन्हें फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण के अतिरिक्त सीईओ के पद पर तबादला कर दिया। निगम सूत्रों की मानें तो अनीता यादव की फरीदाबाद वापसी की खबर मिलते ही निगम कमिश्नर सोनल गोयल शुक्रवार दोपहर बाद कमिश्नर के सरकारी आवास पर पहुंच गईं। उन्होंने कर्मचारियों को फटकार लगाते हुए कैंप आफिस खुलवाया और बैठ गईं। जबकि कर्मचारियों ने कहा कि अभी पूर्व निगम कमिश्नर ने आवास खाली नहीं किया है। उनका सामान यहीं रखा है। लेकिन गोयल नहीं मानीं। वह शाम तक कैंप आफिस में बैठी रहीं। इस दौरान अनीता यादव ने गोयल को फोन कर उन्हें ऐसा न करने का सुझाव दिया लेकिन वे नहीं मानीं।
सरकारी आवास को लेकर दो महिला आईएएस अधिकारियों के बीच हाई वोल्टेज ड्रामा
पूर्व कमिश्नर अनीता यादव के बंगले मेंे निगम कमिश्नर सोनल गाेयल जबरन घुस गईं
फरीदाबाद, शनिवार 21 सितंबर, 2019

यही है वह बंगला जिस पर दोनों अधिकारी भिड़ गए
पत्र लिख उच्चाधिकारियों को दी जानकारी
एफएमडीए की अतिरिक्त सीईओ अनीता यादव ने इस मामले को लेकर चीफ सेक्रेटरी, प्रिंसिपल सेक्रेटरी शहरी स्थानीय निकाय, प्रिंसिपल सेक्रेटरी मुख्यमंत्री, डिवीजनल कमिश्नर समेत अन्य अधिकारियों को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने गोयल द्वारा किए गए व्यवहार की पूरी जानकारी दी है। उन्होंने पत्र में सोनल गोयल को भी सुझाव दिया है कि जब तक एफएमडीए के आफिस की व्यवस्था नहीं हो जाती तब तक वह कैंप कार्यालय में ही बैठकर काम करंेगी। चंूकि उन्होंने अभी चार्ज नहीं छोड़ा है। निगम सूत्रों का कहना है कि हरियाणा सर्विस रूल्स के मुताबिक विधिक रूप से दो महीने तक पूर्व अधिकारी अपने सरकारी आवास पर रह सकता है। चूंकि आवास और कैंप कार्यालय अटैच है। ऐसे में कैंप कार्यालय आवास का हिस्सा माना जाता है। जबकि खुद निगम कमिश्नर सोनल गोयल ने अभी अपना हुडा प्रशासक का आवास नहीं छोड़ा है। गुरुवार शाम करीब साढ़े पांच बजे तक यह हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा।

Have something to say? Post your comment