Monday, April 06, 2020
Follow us on
Haryana

HR CM CITY KARNAL- साढ़े 12 करोड़ रुपए का एलईडी लाइट का टेंडर कैंसिल, 3 महीने नहीं हो सकेगा काम

September 12, 2019 05:47 AM

CURTESY DAINIK BHASKR SEP 12
साढ़े 12 करोड़ रुपए का एलईडी लाइट का टेंडर कैंसिल, 3 महीने नहीं हो सकेगा काम
इस दिवाली से पहले चेंज नहीं हो सकेंगी एलईडी लाइटें, सड़कों पर नहीं फैलेगी दूधिया रोशनी

शहर की सोडियम लाइटों को एलईडी लाइटों में बदलने के प्रोजेक्ट पर अगले तीन महीनों के लिए ब्रेक लगने जा रहे हैं, क्योंकि जल्द ही विधानसभा चुनाव को लेकर दो महीने के लिए आचार संहिता लगने वाली है। नई सरकार के गठन के बाद ही शहर में एलईडी लाइटें बदलने का प्रोजेक्ट सिरे चढ़ पाएगा। नगर निगम की ओर से दोबारा से इसके टेंडर लगाए जाएंगे, जिसमें तकरीबन एक माह का समय तो लगेगा ही। इस तरह 3 माह से पहले इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू नहीं हो पाएगा।
इस बार की दिवाली पर जो सड़कें दूधिया रोशनी से स्नान करती होती वे ऐसे ही रह जाएंगी। पता चला कि इस टेंडर को विड्रा करने के लिए तत्कालीन कमिश्नर ने ही चीफ इंजीनियर को पत्र लिखा। इसमें टेंडर से पहले प्री बिड मीटिंग करने के लिए कहा गया। जबकि यह टेंडर स्मार्ट सिटी टीम से कंडीशन लेकर ही लगाया गया था। प्री बिड मीटिंग की खास जरूरत नहीं थी बावजूद इसके 6 सितंबर को कैंसिल कर दिया गया। एलईडी लाइटों का टेंडर कैंसिल होने का प्रभाव पूरे शहर पर पड़ रहा है, क्योंकि यह लाइटें पूरे शहर के प्रत्येक वार्ड में बदली जानी थी, लेकिन अब आचार संहिता के चलते दो महीने तक ये नहीं हो सकेगा। इसके बाद इस कार्य के टेंडर लगाए जाएंगे, जिसमें भी एक महीने का समय लगेगा। इस तरह से दो की जगह 3 माह से पहले इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू होने वाला नहीं है।
सोडियम लाइटों की जगह लगनी हैं एलईडी लाइटें : शहर में सोडियम लाइटों को हटाकर एलईडी लाइटों को लगाया जाना है, क्योंकि यह लाइटें सोडियम लाइटों की तुलना में बिजली की आधी खपत लेती हैं और इनकी रोशनी भी अच्छी है। यह लाइटें आंखों में नहीं लगती है। जबकि सोडियम लाइटें पीली होने के कारण आंखों में लगती हैं।
शहर में बदली जाएंगी 16500 लाइटें : नगर निगम की ओर से शहर में तकरीबन 20 हजार स्ट्रीट लाइट्स पॉइंट हैं। इनमें से करीबन 16500 स्ट्रीट लाइटें सोडियम हैं, जिनको एलईडी लाइटों में तब्दील किया जाएगा। जबकि बकाया 3500 पॉइंट पर निगम पहले ही एलईडी लाइटें लगवा चुका है।
1 करोड़ रुपए से पुराने शहर व एससी बस्तियाें में लगेंगी लाइटें
विधानसभा चुनाव से पहले एक करोड़ रुपए की लाइटें निगम की ओर से लगाने की तैयारी कर ली गई है। जहां साढ़े 12 करोड़ रुपए के टेंडर कैंसिल हुए हैं, वहीं एक करोड़ रुपए के टेंडर हो चुके हैं। इन पैसों से जो भी एलईडी लाइटें लगेंगी वह सब पुराने शहर और एससी बस्तियाें लगाई जाएंगी।
कमिश्नर ने प्री बिड मीटिंग के लिए लिखा था
एलईडी लाइटों के साढ़े 12 करोड़ रुपए के टेंडर के लिए कमिश्नर की तरफ से प्री बिड मीटिंग के लिए लिखा गया था, जबकि इसमें प्री बिड मीटिंग कोई जरूरी नहीं थी। कमिश्नर ने टेंडर विड्रा के लिए पत्र लिखा, जिसके चलते 6 सितंबर को टेंडर को विड्रा किया गया है। हालांकि अभी इस विषय पर डिस्कस चल रही है। -टीएल शर्मा, चीफ इंजीनियर नगर निगम, करनाल।
प्रोजेक्ट के टेंडर हुए कैंसिल
कुछ टेक्निकल फॉल्ट के चलते साढ़े 12 करोड़ रुपए के एलईडी लाइटाें के प्रोजेक्ट के टेंडर कैंसिल हो गए हैं। पूरे शहर की सोडियम लाइटों को चेंज कर एलईडी लाइटें लगाई जानी हैं, क्योंकि इन लाइटों की जहां रोशनी अच्छी है, वहीं बिजली खर्च भी आधा है। एक करोड़ रुपए लाइट का टेंडर हो गया है, जिसके तहत पुराने शहर व एससी बस्तियों में एलईडी लाइटें लगाई जाएंगी। -रेणु बाला गुप्ता, मेयर नगर निगम करनाल।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
केस दर्ज कर सीसीटीवी फुटेज चेक कर रही है पुलिस धनकोट में मस्जिद के बाहर फायरिंग School closures may raise obesity among kids: Experts Ggm labour dept seeks industry opinions on operations post Apr 14 प्रधानमंत्री मोदी की अपील पर दीपावली के बाद अप्रेल में सिरसा में भी पहली बार हुआ दीपोत्सव
हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने चंडीगढ़ में अपने निवास पर मोमबत्ती जलाकर एकजुटता का दिया संदेश
मनोहर लाल ने मुकेश गर्ग द्वारा ‘हरियाणा कोरोना रिलीफ फंड’ में एक करोड़ रूपए का योगदान दिए जाने पर उनका धन्यवाद किया कोरोना:अम्बाला के उपायुक्त अशोक कुमार ने परिवार संग मनाया प्रकाश पर्व
कोरोना:अम्बाला सिटी में विधायक असीम गोयल ने परिवार संग मनाया प्रकाश पर्व
ऊर्जा मंत्री चौधरी रणजीत सिंह ने परिवार संग मनाया प्रकाश पर्व
हरियाणा के स्वास्थ्य व गृह मंत्री अनिल विज ने दीया और मोमबत्ती जलाकर कोरोना के खिलाफ एकता का दिया संदेश