Monday, September 16, 2019
Follow us on
 
Haryana

दुष्यंत का जवाब- चौटाला व बादल से मिलेंगे अजय, हम फैसला मानने को तैयार

September 10, 2019 05:46 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR SEPT 10
दुष्यंत का जवाब- चौटाला व बादल से मिलेंगे अजय, हम फैसला मानने को तैयार
चौटाला परिवार को एक करने में जुटीं खापें, दुष्यंत को पत्र लिख पूछा रुख
दिग्विजय ने की अजय से जेल में मुलाकात, दुष्यंत ने पदाधिकारियों से की बात
भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा
पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की ओर से चर्चा कर चौटाला परिवार के एकजुट होने की पहल करने के बाद शुरू हुई खापों की कोशिशें सिरे चढ़ सकती हैं। अभय चौटाला की ओर से पहले ही पारिवारिक और सियासी तौर पर एकजुट होने के लिए फैसला खापों पर छोड़ा जा चुका है। अब उनके भतीजे एवं जजपा नेता दुष्यंत चौटाला ने भी अपना रुख स्पष्ट कर दिया है।
उन्होंने सोमवार शाम चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि खापों की ओर से हरियाणा स्वाभिमान आंदोलन के अध्यक्ष रमेश दलाल की मिली चिट्‌ठी में पारिवारिक और राजनीति तौर पर एकजुट होने के लिए उनका रूख स्पष्ट करने के लिए पूछा गया है। पारिवारिक तौर पर पहले से हम एक हैं। राजनीति तौर पर फैसला हमने जजपा के संरक्षक अजय चौटाला पर छोड़ दिया है। सोमवार को ही दिग्विजय चौटाला ने उनसे जेल में मुलाकात की है। जिसमें कहा कि उन्होंने पैराल/फरलो के लिए एप्लीकेशन लगाई है। वे बाहर आकर परिवार के मुखिया ओमप्रकाश चौटाला और पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल से मिलेंगे। वे जैसा कहेंगे, वे करने के लिए तैयार हैं, जहां भी उन्हें और अभय को बुलाया जाएगा, वे जाने को तैयार हैं। दुष्यंत ने कहा कि इस मामले में जजपा की एग्जिक्यूटिव कमेटी के सदस्यों और सभी जिला पदाधिकारियों के साथ पानीपत में मीटिंग भी की गई, जिसमें सभी ने फैसला अजय चौटाला पर छोड़ा है। अभय के बाद दुष्यंत की ओर से अब बढ़ाए कदम से विधानसभा चुनाव से पहले चौटाला परिवार के सियासी तौर पर भी एकजुट होने की संभावनाएं ज्यादा बढ़ गई है। इधर, इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने भी पहली बार इस मसले पर कहा है कि खापों का फैसला उन्हें मान्य होगा।
खापों के फैसलों के साथ ओमप्रकाश चौटाला
पंचायतों की ओर से चौटाला परिवार और इनेलो के बीच पड़ी दरार को पाटने के लिए किए जा रहे प्रयासों के बीच पहली बार ओमप्रकाश चौटाला का बयान है। इनेलो कार्यालय से जारी बयान में चौटाला ने कहा है कि वह पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि उन्हें इन विवादों के संबंध में पंचायत का हर फैसला स्वीकार होगा। चौटाला ने कहा कि वे जब से सार्वजनिक जीवन में आए हैं, तभी से उन्होंने पंचायती फैसलों का सम्मान करते हुए उन्हें स्वीकार किया है। उन्होंने कहा कि यही उनके परिवार की परंपरा रही है और ऐसा ही पाठ उन्होंने अपने पिता स्व. जननायक चौधरी देवी लाल से सीखा था, क्योंकि वे भी पंचायती फैसलों को ही सर्वोपरि मानते थे। उन्हीं के पदचिह्नों पर चलते हुए मैं भी पंचायत के फैसलों को सर्वोपरि मानता हूं।
हमने दुष्यंत से आखिरी बार कहा, अपना फैसला बताएं: दलाल
हरियाणा स्वाभिमान आंदोलन के अध्यक्ष रमेश दलाल ने कहा कि उन्होंने दुष्यंत चौटाला को चिट्‌ठी भेजी है, जिसमें उनका रुख स्पष्ट करने को कहा है। क्योंकि सरदार प्रकाश सिंह बादल, ओमप्रकाश चौटाला, अजय चौटाला व अभय चौटाला पहले ही पंचायत को फैसला करने के लिए अधिकृत कर चुके है, वही दुष्यंत चौटाला की तरफ से कोई स्पष्ट जवाब ना मिलने के कारण पंचायत मामले को आगे नहीं बढ़ा पा रही है। दलाल का कहना है कि खाप पंचायतें सिर्फ उन्हीं मामलों में आगे बढ़कर समाधान निकाल सकती हैं, जब सभी पक्ष पंचायत को फैसला करने के लिए अधिकृत करें, फैसला पंचायत पर छोड़ दे। इसलिए दुष्यंत चौटाला से स्पष्ट जवाब मिलने के बाद ही हम इस मुहिम को आगे बढ़ा सकते है। इसलिए दुष्यंत को लिखा गया कि उन्होंने पंचायत को अभी तक कोई भी स्पष्ट जवाब नहीं दिया है। इस मामले में पंचायत आपके जवाब का इंतज़ार कर रही है। आप से सकारात्मक जवाब मिलने के बाद ही, पंचायत इस मामले में आगे बढ़ कर विचार-विमर्श कर कोई फैसला ले सकती है। यदि चौटाला परिवार के इस राजनीतिक और सामाजिक गठबंधन को लेकर इच्छुक नहीं है, तो भी हमें स्पष्ट जवाब दे कर सूचित करें। दलाल ने बताया कि इस चिट्‌ठी पर उनके अलावा चौधरी भूप सिंह दलाल, प्रधान दलाल खाप चौरासी, चौधरी सुरेंद्र दहिया, प्रधान दहिया खाप, चौधरी गौरधन सिंह प्रधान महरौली 360 (दिल्ली), चौधरी जय सिंह अहलावत अन्य के हस्ताक्षर हैं

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा क्लर्क के पदों के लिए 21को सायं,22 और 23 सितंबर को सुबह और शाम परीक्षा ली जाएगी
हरियाणा सरकार ने एक आईपीएस और चार एचपीएस का किया तबादला
हरियाणा पुलिस ने एक माह में 26 आपराधिक गिरोहों का किया पर्दाफाश
करनाल की जनता विधायक बदले: कुमारी सैलजा एचएसएससी / क्लर्क भर्ती परीक्षा तय समय पर ही होगी , स्थगित होने का झूठा लेटर हुआ वायरल-भारतभूषण भारती, चेयरमैन
सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में चार एआईपीआरओ किया तबादला
हरियाणा : सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में आठ एपीआरओ का हुआ तबादला यमुनानगर- फैक्ट्री में 400 किलो का गैस सिलेंडर फटा, कई लोग झुलसे
साढोरा हलके के गांव छोली साढोरा के सरपंच दलीप सिंह ने बीजेपी छोड़ी
जननायक जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सासंद छछरौली पहुंचे, सैकड़ो समर्थकों ने किया स्वागत