Wednesday, February 26, 2020
Follow us on
Haryana

नेशनल हाईवे पर राजनाथ और खट्‌टर की जन आशीर्वाद रैली के बाद अंधेरा कंप्लेंट पर भी हाईवे की हालत में नहीं हो रहा सुधार, अंधेरे में लोग कर रहे सफर

August 21, 2019 05:46 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR AUG 21

नेशनल हाईवे पर राजनाथ और खट्‌टर की जन आशीर्वाद रैली के बाद अंधेरा
कंप्लेंट पर भी हाईवे की हालत में नहीं हो रहा सुधार, अंधेरे में लोग कर रहे सफर

संदीप कौशिक | पंचकूला sandeep.kaushik@dhrsl.com
नेशनल हाईवे अथॉरटी ऑफ इंडिया की लापरवाही के कारण पंचकूला में लोगों को हाईवे पर अंधेरे में सफर करना पड़ रहा है। ठीक दो दिन पहले पंचकूला में भाजपा सरकार की जन आशीर्वाद रैली भी निकली, इसमें केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्‌टर और पंचकूला के विधायक ज्ञानचंद गुप्ता और कालका विधायक लतिका शर्मा के अलावा ओर भी कई नेता शामिल हुए। हैरानी की बात ये है कि जब यात्रा निकलनी थी तो हाईवे पर दो दिन पहले ही सभी लाइटें जलाई गई, लेकिन जिस दिन रैली निकली उसी दिन रात को पूरे हाईवे पर अंधेरा पसर गया। वहीं, अब डीसी पंचकूला मुकेश कुमार आहुजा की ओर से इस मामले में कार्रवाई के आदेश दे दिए गए है। डीसी मुकेश कुमार आहुजा ने बताया कि पंचकूला-कालका नेशनल हाईवे पर जहां भी लाइटें नहीं जल रही, उसके लिए एनएचएआई से जवाब मांगा जाएगा। हाईवे पर अंधेरा होना काफी गलत है अौर इस मैटर पर तुरंत कार्रवाई करवाई जाएगी। जिन प्वाइंट्स पर भी दिक्कत अा रही है वहां चेकिंग भी करवाई जाएगी। सेक्टर 12 लोक सर्वहितकारी सोसाइटी के चेयरमैन राकेश अग्रवाल ने इस मामले में पहले भी एनएचएआई से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों को कंप्लेंट देकर जांच करवाने के लिए शिकायत दी जा चुकी है।
एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर विशाल गाैतम ने कहा कि हाईवे पर तो लाइटें बंद ही नहीं होनी चाहिए, जहां भी रात को हाईवे पर लाइटें बंद रहती है उन प्वाइंट्स को चैक करवा लिया जाएगा। इसमें अगर कहीं टेक्नीकल फॉल्ट है उसे भी ठीक करवाएंगे। मैं इस बारे में इलेक्ट्रिकल विंग से भी बात करके एक्शन लेता हूं।
दो दिन पहले ही पंचकूला में भाजपा की जन आशीर्वाद रैली हुई थी, रैली से पहले हाईवे पर सभी लाइटें ठीक थी। जिस दिन कालका से पंचकूला हाईवे पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्‌टर की रैली निकली तो उसी दिन रात को हाईवे पर अंधेरा था। एनएचएआई की ओर से मंत्रियों के लिए नहीं बल्कि पब्लिक के लिए काम किया जाना चाहिए। इस मामले में पूरी जांच की जाए और जहां भी प्रोब्लम आ रही है उसे ठीक करवाया जाए। -राजीव गांधी, शॉप कीपर
संदीप कौशिक | पंचकूला sandeep.kaushik@dhrsl.com
नेशनल हाईवे अथॉरटी ऑफ इंडिया की लापरवाही के कारण पंचकूला में लोगों को हाईवे पर अंधेरे में सफर करना पड़ रहा है। ठीक दो दिन पहले पंचकूला में भाजपा सरकार की जन आशीर्वाद रैली भी निकली, इसमें केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्‌टर और पंचकूला के विधायक ज्ञानचंद गुप्ता और कालका विधायक लतिका शर्मा के अलावा ओर भी कई नेता शामिल हुए। हैरानी की बात ये है कि जब यात्रा निकलनी थी तो हाईवे पर दो दिन पहले ही सभी लाइटें जलाई गई, लेकिन जिस दिन रैली निकली उसी दिन रात को पूरे हाईवे पर अंधेरा पसर गया। वहीं, अब डीसी पंचकूला मुकेश कुमार आहुजा की ओर से इस मामले में कार्रवाई के आदेश दे दिए गए है। डीसी मुकेश कुमार आहुजा ने बताया कि पंचकूला-कालका नेशनल हाईवे पर जहां भी लाइटें नहीं जल रही, उसके लिए एनएचएआई से जवाब मांगा जाएगा। हाईवे पर अंधेरा होना काफी गलत है अौर इस मैटर पर तुरंत कार्रवाई करवाई जाएगी। जिन प्वाइंट्स पर भी दिक्कत अा रही है वहां चेकिंग भी करवाई जाएगी। सेक्टर 12 लोक सर्वहितकारी सोसाइटी के चेयरमैन राकेश अग्रवाल ने इस मामले में पहले भी एनएचएआई से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों को कंप्लेंट देकर जांच करवाने के लिए शिकायत दी जा चुकी है।
एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर विशाल गाैतम ने कहा कि हाईवे पर तो लाइटें बंद ही नहीं होनी चाहिए, जहां भी रात को हाईवे पर लाइटें बंद रहती है उन प्वाइंट्स को चैक करवा लिया जाएगा। इसमें अगर कहीं टेक्नीकल फॉल्ट है उसे भी ठीक करवाएंगे। मैं इस बारे में इलेक्ट्रिकल विंग से भी बात करके एक्शन लेता हूं।
मैं कई बार रात को पिंजौर से चंडीगढ़ के लिए अप-डाउन करता हूं। पंचकूला में कालका से आते वक्त भी सूरजपुर से लेकर चंडीमंदिर और ओल्ड पंचकूला लाइट प्वाइंट तक लाइटें बंद रहती है। हाईवे पर अदर स्टेट के व्हीकल भी काफी ज्यादा होते है और इस रूट पर टूरिस्ट भी शिमला या हील एरिया के लिए निकलते है। ऐसे में एनएचएआई की ओर से ऐसे प्रबंध जरूर किसी बड़े हादसे को न्योता दे रहे है। रात को हाईवे पर अंधेरे में सफर करना बडा मुश्किल है। -प्रवीन कुमार, बिजनेसमैन
पंचकूला-जीरकपुर और पिंजौर तक जो हाईवे बना हुआ है यहां पर पिछले करीब एक साल से लाइटें बंद रहने की प्रोब्लम से हम लोग परेशान है। एक-दो दिन तक लाइटें जलती है तो तीन-चार दिन तक दोबारा लाइटें खराब हो जाती है। कई बार सेक्टर 3 से ओल्ड पंचकूला तक लाइटें बंद रहती है तो ओल्ड पंचकूला से चंडीमंदिर तक लाइटें जलती है। जब चंडीमंदिर तक लाइटें बंद रहती है तो सेक्टर 3 की साइड वाली लाइटें जलती है। कई बार तो पूरे हाईवे पर ही अंधेरा रहता है। -दलीप अरोडा, पूर्व सरपंच
आप जिस मर्जी हाईवे को ले लो, हर कहीं कई ऐसे प्वाइंट है जहां हादसे ज्यादा होते है। ऐसे ही प्वाइंट पंचकूला-जीरकपुर और कालका हाईवे पर है। यहां पर सबसे ज्यादा हादसे ओल्ड पंचकूला लाइट प्वाइंट पर होते है, लेकिन अब हादसे हाेने के चांस तक ज्यादा होते है जब यहां हाईवे पर रात को लाइटें नहीं जलती। यहां पर जब भी हाईवे पर रात को अंधेरा होता है तब लोगों को सबसे ज्यादा खतरा रहता है। -नरेंद्र भल्ला, बिजनेसमैन

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
मोदी को जमकर सराहा, कहा- धार्मिक आजादी देते हैं पीएम CAA, दिल्ली में हिंसा पर ट्रंप ने साधी चुप्पी चीन की मंदी से चमक सकता है भारतीय कपड़ा उद्योग हम नहीं सुधरेंगे सीआईडी के एडीजीपी के चीफ सेक्रेटरी को लिखे पत्र में खुलासा, अफसरों पर लापरवाही बरतने का आरोप EWS एडमिशन : पहले दिन नहीं खुला ऑनलाइन पोर्टल दिल्ली में हालात बिगड़ने के बाद गुड़गांव पुलिस भी अलर्ट विधानसभा बजट सत्र में जेजेपी विधायक ईश्वर सिंह ने मानव तस्करी को बताया चिंतनीय बाढ़डा में जरूर बनेगा बाईपास - दुष्यंत चौटाला बजट सत्र;डिप्टी सीएम बोले- जल्द कानून आएगा, शराब तस्कर को 6 महीने तक नहीं मिलेगी बेल कांग्रेस सरकार से चली आ रही है घर में शराब रखने की नीति, हमने फीस बढ़ाई और कानून सख्त किए - डिप्टी सीएम पीकेआर जैन सीनियर सेकेण्डरी पब्लिक स्कूल में मातृभाषा दिवस मनाया गया