Friday, February 28, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
एक बार फिर पेश हुआ हरियाणा का जुमला बजट : योगेश्वर शर्मादिल्ली हिंसाः अंकुर शर्मा बोले- मेरे भाई अंकित शर्मा को मिले शहीद का दर्जाचंडीगढ़:हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र ने कहा कि 2020 का बजट बहुत निराशापूवर्क हैदिल्लीः केजरीवाल सरकार ने कन्हैया कुमार के खिलाफ राजद्रोह का केस चलाने की दी मंजूरीपुलवामा के आत्मघाती हमलावर आदिल अहमद डार को मदद पहुंचाने वाला शकील बशीर मगरे गिरफ्तारJNUSU के प्रोटेस्ट से गुस्सा होकर केजरीवाल ने कन्हैया पर केस चलाने की मंजूरी दीः कपिल मिश्राहरियाणा के सीएम मनोहर लाल बजट पेश करने के बाद पत्रकारों को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए1561.80 नगर एवं ग्रामयोजना के लिए:मनोहर लाल
Haryana

HARYANA POLICE-पिता की अस्थियां बहाकर हरिद्वार से लौट रहा था परिवार, लोगों ने बच्चा चोर समझकर पकड़ा, डेढ़ घंटे के ड्रामे के बाद छोड़ा

August 14, 2019 06:00 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR AUG 14

पिता की अस्थियां बहाकर हरिद्वार से लौट रहा था परिवार, लोगों ने बच्चा चोर समझकर पकड़ा, डेढ़ घंटे के ड्रामे के बाद छोड़ा
गलतफहमी में बवाल : बच्चों को बिठाया हुआ था कार की डिग्गी में, शक होने पर बाइक सवारों ने पीछा कर पकड़ा

भास्कर न्यूज | कुरुक्षेत्र/लाडवा
पिछले कई दिनों से जिले में बच्चा चोर गिरोह के सक्रिय होने की चर्चाएं चल रही हैं। हालांकि अभी तक ये अफवाहें ही साबित हुई। लेकिन गिरोह के शक में कई निर्दोष लोगों के आक्रोश का शिकार हो चुके हैं। कईयों को इस शक में लेने के देने पड़ गए।
अब एक बार फिर सिरसा वासी एक परिवार को लोगों ने बच्चा चोर गिरोह समझ कर पकड़ लिया। अपने निर्दोष होने की दुहाई देते रहे। पर लोग नहीं माने। आक्रोशित लोगों ने परिवार के साथ धक्का मुक्की शुरू कर दी। लेकिन गनीमत रही कि इसी बीच पुलिस पहुंच गई। परिवार को थाने ले गई। करीब डेढ घंटे बाद जाकर उनका पिंड छुटा। कार सवार सिरसा के सुरेंद्र कुमार ने बताया कि वे किसी गिरोह के सदस्य नहीं हैं। कार में उनका परिवार है। उनके पिता रामनिवास का कुछ दिन पहले निधन हुआ था। उनकी अस्थियां लेकर सोमवार सुबह सिरसा से हरिद्वार गए थे। अस्थियां विसर्जित कर मंगलवार तड़के पांच बजे वापस चले पड़े। साथ में सिरसा से ही पंडित सुनील शास्त्री हरिद्वार गए थे। बताया कि कार में जगह कम थी। बच्चों को पीछे घर पर अकेला नहीं छोड़ सकते थे। वे भी साथ जाने की जिद पर अड़े थे। जगहकम होने के चलते तीन बच्चे पीछे डिग्गी में बैठ गए। डिग्गी से चुन्नी खिड़की से बांधी थी। ताकि बच्चे नीचे ना गिरें।
गाड़ी की डिग्गी में बैठे थे बच्चे, लोगों ने पीछा कर पकड़े
कार में डिग्गी में बैठे छोटे बच्चे।
लाडवा-पिपली मार्ग पर मंगलवार सुबह लगभग 10 बजे कार सवार कुरुक्षेत्र की तरफ जा रहे थे। कार की डिग्गी कुछ खुली थी। जिसे चुन्नी की मदद से खिड़की से बांधा हुआ था। राहगीरों की नजर डिग्गी पर गई तो उसमें तीन चार बच्चे नजर आए। लोगों ने यही समझा कि बच्चा चोर गिरोह इस कार में सवार है। बच्चों को अगवा कर ले जा रहा है। जिस पर कुछ बाइक सवार कार के पीछे लगे। रिलायंस पेट्रोल पंप के नजदीक लोगों ने कार को रोक लिया। कार में दो पुरुष, तीन महिलाएं और पांच बच्चे थे।
वीडियो बनाकर दिया वायरल
बच्चा चोर पकड़ने की बात आग की तरह फैली। देखते ही देखते कुरुक्षेत्र रोड पर मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। लोगों ने मोबाइल से वीडियो बना कर बच्चा चोर गिरोह पकड़ने की कहते हुए वायरल भी कर दी। बाद में पुलिस ने उनके बारे में वेरीफिकेशन की। सिरसा में परिचितों से बातचीत की। साथ ही उनके आईकार्ड व आधारकार्ड आदि की सत्यता जांची। करीब डेढ घंटे बाद जाकर उनका पीछा छूटा। डीएसपी भारत भूषण के मुताबिक बच्चा चोर गिरोह के शक में लोगों ने कार सवारों को रोका था। उनके बारे में पूरी पड़ताल की। निर्दोष मिलने पर उन्हें सिरसा जाने दिया

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News