Saturday, September 21, 2019
Follow us on
 
Haryana

मनी लॉन्ड्रिंग के शक में कुलदीप के घर-प्रतिष्ठानों पर 40 घंटे से ज्यादा समय से जारी आईटी रेड, मैनहोल तक खंगाले

July 25, 2019 09:07 AM

पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल के बेटे व अादमपुर से कांग्रेस विधायक कुलदीप बिश्नाेई के हिसार के सेक्टर-15 स्थित अावास व सिरसा राेड स्थित कार शाेरूम पर बुधवार काे दूसरे दिन भी अायकर विभाग की कार्रवाई जारी रही। अायकर विभाग के अफसरों ने घर की छत पर रखी टंकियाें, पार्क व मेनहाेल तक को खंगाला गया।

सूत्राें की मानें ताे अायकर विभाग काे विधायक के दिल्ली में डायमंड काराेबार में मनी लाॅड्रिंग से जुड़े इनपुट मिले थे। इसके साक्ष्य विधायक के ठिकानाें पर छिपाने की बात कही गई थी। हालांकि, छापे में अब तक क्या-क्या मिला है, इसका खुलासा नहीं किया गया है। मंगलवार सुबह करीब 8 बजे से आयकर विभाग की टीमें जांच कर रही हैं। आदमपुर के प्रतिष्ठान से मंगलवार रात 11:40 पर भव्य काे हिसार लाने के बाद से लगातार सर्च जारी है। इस बीच अधिकारियाें ने भव्य से उन करीबियाें के बारे में भी पता किया, जाे बिश्नाेई परिवार के कारोबार में अकसर साथ रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि 150 से अधिक सवाल-जवाब किए गए हैं। खबर लिखे जाने तक टीम सर्चिंग अभियान में लगी थी।

बुधवार सुबह करीब 11 बजे अायकर विभाग के अधिकारियों ने बिश्नाेई अावास के बाहर खड़ी अपनी गाड़ियाें से कुछ बैग मंगवाए। बैग आदि काे देख काेठी के पास मौजूद विधायक के समर्थक भड़क गए। उन्हाेंने पहले ताे अधिकारियाें काे भव्य काे रातभर बैठाने पर आपत्ति जताई। फिर उन्हाेंने अधिकारियाें से सामान अंदर ले जाने काे लेकर ऐतराज किया। अायकर विभाग के अधिकारियाें ने बताया कि इसमें उनका लैपटाॅप अाैर सामान है। लेकिन फिर भी लोग नहीं माने। उन्होंने कहा कि बाहर से दस्तावेज या नकदी लाकर विधायक के परिवार को फंसाया जा सकता है। इसके बाद अधिकारियाें और पुलिस ने लोगों को शांत करने के लिए बैग में रखा सामान दिखाया, तब मामला शांत हुआ।

भजनलाल परिवार के करीबियाें पर नजर

अायकर विभाग के अधिकारियाें ने घर व प्रतिष्ठानों में रखी हर अलमारी, दस्तावेज, इलेक्ट्राॅनिक सामान तक की जांच कर ली है। अब जांच भजनलाल परिवार के करीबियाें अाैर कामकाज काे संभालने वालाें पर टिकी है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि पूर्व सीएम के समय से काैन से व्यापार चल रहे हैं।

1997 में पहली बार सीबीअाई ने की थी रेड

अायकर विभाग ने पहली बार पूर्व सीएम भजनलाल के यहां रेड की है। इससे पहले जुलाई 1997 में सीबीअाई ने मंडी अादमपुर स्थित अावास व दुकान पर छापा मारा था। तब मात्र एक शराब की बाेतल मिली थी। जिसे जब्त कर मुनीम के खिलाफ केस दर्ज किया गया था, क्याेंकि उन दिनाें चाैधरी बंसीलाल की सरकार में शराबबंदी लागू की गई थी।

Have something to say? Post your comment