Thursday, December 12, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
National

मंत्री मजाक में बोलते थे- आओ कभी दिल्ली मिलने; रोज 150 लाेग पहुंचने लगे तो अपनों से परेशान होकर गेट पर चौकीदार बैठाया  : मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल के ऑफिस के बाहर पहली बार प्राइवेट गार्ड तैनात

July 23, 2019 06:34 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR JULY 23
मंत्री मजाक में बोलते थे- आओ कभी दिल्ली मिलने; रोज 150 लाेग पहुंचने लगे तो अपनों से परेशान होकर गेट पर चौकीदार बैठाया
 : मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल के ऑफिस के बाहर पहली बार प्राइवेट गार्ड तैनात

अमित कुमार निरंजन | नई दिल्ली
ज्यादा मिलनसार हाेना भी परेशानी का सबब बन जाता है। इन दिनाें एेसी ही परेशानी से जूझ रहे हैं मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक'। देहरादून से दिल्ली की दूरी महज 250 किमी होने के कारण उनसे मिलने हर रोज सौ से डेढ़ सौ लोग पहुंच रहे हैं। मिलनसार स्वभाव हाेने के कारण वह किसी को मना भी नहीं कर पाते हैं, लेकिन इससे काम में खलल पड़ने लगा है। इससे बचने के लिए उन्हाेंने शास्त्री भवन में अपने ऑफिस के बाहर प्राइवेट गार्ड तैनात कर दिया। यह गार्ड अंदर जाने वाले लोगों का पूरा ब्याेरा लेता है और मंत्री से मिलने का पास होने पर ही अंदर जाने देता है। जिस व्यक्ति के पास अन्य अधिकारी के नाम का पास होता है उसे बाहर ही रोक देता है। चूंकि सरकारी सुरक्षा कर्मियों की जिम्मेदारी सिर्फ बिल्डिंग के भीतर जाने वाले गेट पर होती है, भवन के अंदर नहीं होती, इसलिए प्राइवेट गार्ड की ड्यूटी भवन के अंदर लगाई गई है। यह निजी गार्ड तिकड़म लगाकर मंत्री से मिलने की कोशिश करने वालों को भी बाहर ही रोक देता है। चूंकि दिल्ली से देहरादून की दूरी कम है, अगर मंत्री किसी प्रशंसक को मजाक में ही सुबह बोलते हैं कि आप दिल्ली आ जाइए चाय पीने, तो लोग दोपहर तक दिल्ली पहुंच जाते हैं। कई प्रशंसक तो मंत्री से मिलने के लिए पास बनवाने के लिए यह संदेशा भिजवाते हैं कि उन्होंने बचपन में मंत्री के साथ पढ़ाई की है और उनके मित्र हैं, इसलिए मिलना चाहते हैं। स्टाफ के सदस्य ने बताया कि मंत्री चाहकर भी इन्हें मना नहीं कर पाते हैं, लेकिन काम प्रभावित होने लगता है।
देहरादून से दिल्ली की दूरी कम होने से रोजाना बहुत लोग आते हैं
ओएसडी बोले- सुरक्षा के मद्देनजर गार्ड तैनात किया गया
मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल के ओएसडी अजय बिष्ट ने बताया कि कई लोग शास्त्री भवन के किसी और ब्लॉक या अधिकारी का पास बनवा लेते हैं और मंत्री से मिलने आ जाते हैं, जिससे काम प्रभावित होता है। सुरक्षा काे ध्यान में रखते हुए निजी गार्ड तैनात किया गया है। शास्त्री भवन की सुरक्षा सीआईएसएफ के पास है। यहां विशेष आईडी के साथ ही लोगों काे प्रवेश दिया जाता

 
Have something to say? Post your comment
 
 
More National News
उत्तरकाशी: भारी बर्फबारी के चलते सरकारी और प्राइवेट स्कूल कल रहेंगे बंद असम: एक्टर और बीजेपी नेता जतिन बोरा ने पार्टी से दिया इस्तीफा नागरिकता बिल के खिलाफ पीस पार्टी भी सुप्रीम कोर्ट में दाखिल करेगी याचिका पंकजा मुंडे बीजेपी से इस्तीफा नहीं देंगी लेकिन मैं अपने बारे में नहीं कह सकता: एकनाथ खड़से नागरिकता बिल के खिलाफ प्रदर्शन, असम में अगले 48 घंटे बंद रहेगा मोबाइल इंटरनेट इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) ने आज सुप्रीम कोर्ट में CitizenshipAmendmentBill2019 के खिलाफ एक रिट याचिका दायर की सुप्रीम कोर्ट में कपिल सिब्बल IUML ने अपनी याचिका में SC से # नागरिकता कानून संशोधन 2017 को अवैध और शून्य घोषित करने का अनुरोध किया Railways to run 150 pvt trains on busiest routes
Adaptation of Laws (Amendment) Order, 2019
हैदराबाद एनकाउंटर मामले में आज भी सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई