Wednesday, December 11, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
पुलिस कर रही सबसे ज्यादा मानवाधिकारों का उल्लंघन धान की कथित गड़बड़ी मामले में पीवी के फैसले को लेकर मिलर्स की आज कुरुक्षेत्र में प्रदेशस्तरीय बैठकदुष्कर्म प्रयास मामले में आर्केस्ट्रा कलाकार ने ऑडियो जारी कर कहा- पुलिस बना रही समझौते का दबाव, फिर खाया जहरपंचकूला हिंसा मामले में दाखिल याचिका पर हाईकोर्ट में हुई सुनवाई, कोर्ट ने प्रदेश सरकार से पूछाHARYANA-तबादले का अधिकार; मंत्रियों के पास बचे 5 दिन, सचिवालय में कर्मचारियों का जमघट, लोकसभा में भाटिया बोले- पानीपत में दुनिया का ऐसा पुल, जिसे बिना उपयोग किए वसूला जा रहा टोलसाेनिया की नाराजगी के बाद नागरिकता बिल पर शिवसेना का यू-टर्न, जदयू में भी िवरोध के सुर; पर भाजपा अाश्वस्तKARNAL DISTT- सफाई कर्मचारी करते हैं ड्रेसिंग, रात की ड्यूटी में नहीं कोई डॉक्टर
Haryana

7672 कराेड़ के फर्जी बिलों पर 660 कराेड़ का फ्रॉड, सिरसा का मास्टरमाइंड अनुपम गिरफ्तार -हरियाणा में कॉटन के नाम पर सबसे बड़े जीएसटी फर्जीवाड़े का पर्दाफाश

July 20, 2019 06:04 AM


COURTESY DAINIK BHASKAR JULY 20

7672 कराेड़ के फर्जी बिलों पर 660 कराेड़ का फ्रॉड, सिरसा का मास्टरमाइंड अनुपम गिरफ्तार
हरियाणा में कॉटन के नाम पर सबसे बड़े जीएसटी फर्जीवाड़े का पर्दाफाश
जीएसटी इंटेलीजेंस ने दिल्ली में की कार्रवाई

डीजीजीएसटी इंटेलीजेंस टीम ने हरियाणा में अब तक के सबसे बड़े जीएसटी फ्रॉड करने वाले रैकेट का पर्दाफाश किया है। इंटेलीजेंस टीम ने मास्टर माइंड सिरसा वासी अनुपम सिंगला काे दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है। इंटेलीजेंस की जांच के मुताबिक अनुपम ने प्रदेश में 7672 कराेड़ रुपए के फर्जी इनवाॅइस यानी बिल जारी करके 660 कराेड़ रुपए का जीएसटी का फ्रॉड किया है। इन फर्जी बिलाें के जरिए इनपुट टैक्स क्रेडिट हासिल किया। डायरेक्टरेट जनरल अाॅफ जीएसटी इंटेलीजेंस के जॉइंट डायरेक्टर नीरंजन सीसी के नेतृत्व में हुई इस कार्रवाई में 32.60 कराेड़ रुपए की रिकवरी कर ली गई है। शेष | पेज 11 पर
अनुपम, फाइल फोटो
देखिए... फतेहाबाद की यह झोपड़ी, इस पते पर रजिस्टर्ड है मनीष काॅटन इंडस्ट्री
यह है फतेहाबाद के भूना राेड माेड़ स्थित झाेपड़ी। इसी पते पर है कराेड़ाें का फ्राॅड करने वाले संचालक की मनीष काॅटन इंडस्ट्री।
एेसे पकड़ा गया 6 महीने से फरार अनुपम, 24 दिसंबर 2018 काे हुई थी एफआईआर
24 दिसंबर 2018 काे फतेहाबाद में अनुपम सिंगला की फर्म मनीष काॅटन इंडस्ट्री पर सेल टैक्स के डीईटीसी वीके शास्त्री ने रेड कर एफअाईअार दर्ज कराई थी। तब से लेकर अभी तक अनुपम फरार चल रहा था। मगर जीएसटी इंटेलीजेंस की टीम जांच में जुट गईं। यह संचालक सिरसा का रहने वाला था ताे दिल्ली के बारे में पता चला। जहां कार्रवाई की गई।
इस तरह से किया कराेड़ाें का टैक्स फ्राॅड
बाेगस फर्मों ने स्थापित काॅटन स्पिनिंग मिलाें काे जारी किए गए बाेगस बिलाें के जरिए अाउटवर्ड टैक्स लाइविलटी मिलाें काे स्थानांतरित किया, जिससे उन मिलाें काे सरकार के खजाने में बिना टैक्स जमा कराए ही इनपुट टैक्स क्रेडिट की हकदारी मिल गई।
राज्य के शहरों में 90 बोगस फर्म
इस फर्म संचालक ने हरियाणा के एक दाे जिलाें काे छाेड़ दिया जाए ताे हिसार, सिरसा, पानीपत, राेहतक, गुरुग्राम अादि जिलाें में काेई एेसा जिला नहीं है जहां इसने फर्जी फर्म न बनाई हाे। इतना बड़ा जीएसटी फ्राॅड करने के लिए संचालक 90 फर्माें काे अलग-अलग नाम से चलाता था। जिनके नाम से कराेड़ाें रुपए के बिल काटकर इनपुट टैक्स क्रेडिट लिया जाता रहा।
110 डेबिट कार्ड अाैर 173 बैंक अकाउंट मिले अनुपम के दिल्ली स्थित अावास से 110 डेबिट अाैर क्रेडिट कार्ड, बैंकाें के 173 खाते, कई ट्रांसपाेर्टराें से जुड़ी खाली बिल्टी बुक, ब्लैंक साइन की चेकबुक, सिम कार्ड व पहचान पत्र मिले।
माल बेचा नहीं, सरकार से पैसे ले लिए
सारा खेल कागजों में चलता है। किसी ने माल खरीदा और विक्रेता काे टैक्स दिया। यह खरीदार किसी काे माल लाभ जाेड़कर बेचता है ताे उस लाभ पर ताे टैक्स दे देता है, मगर जाे माल की मूल राशि हाेती है, उस पर टैक्स नहीं देता।
90 फर्माें में से कुछ ये हैं
प्रिया इंडस्ट्री, महम
प्रीति इंडस्ट्रीज, गुरुग्राम
पूनम इंडस्ट्रीज, कनीना
श्री बालाजी ट्रेडर्स एंड
सप्लायर्स, रेवाड़ी
वैशाली इंडस्ट्री, चरखी दादरी
विनायक इंडस्ट्री, पानीपत
विशाल इंडस्ट्री, राेहतक
प्रवीन इंडस्ट्री, रेवाड़ी
जय इंडस्ट्री, भिवानी
राघव इंडस्ट्री, हांसी
विशाल इंडस्ट्री, अादमपुर
गाेपीराम इंडस्ट्री, फतेहाबाद
मनीष काॅटन इंडस्ट्री, फतेहाबाद
ठाकुर इंडस्ट्री, एलानाबाद
तस्मय ट्रेडर्स, एलानाबाद
बाबा इंडस्ट्री, सिरसा
डीटी ट्रेडर्स, सिरसा
अारके ट्रेडर्स, सिरसा

 
Have something to say? Post your comment
 
 
More Haryana News
FARIDABAD-विकास पर प्रदूषण का ब्रेक : 1 महीने से बंद हैं काम, करीब 10 हजार से अधिक श्रमिक लौट गए अपने घर पुलिस कर रही सबसे ज्यादा मानवाधिकारों का उल्लंघन धान की कथित गड़बड़ी मामले में पीवी के फैसले को लेकर मिलर्स की आज कुरुक्षेत्र में प्रदेशस्तरीय बैठक दुष्कर्म प्रयास मामले में आर्केस्ट्रा कलाकार ने ऑडियो जारी कर कहा- पुलिस बना रही समझौते का दबाव, फिर खाया जहर पंचकूला हिंसा मामले में दाखिल याचिका पर हाईकोर्ट में हुई सुनवाई, कोर्ट ने प्रदेश सरकार से पूछा HARYANA-तबादले का अधिकार; मंत्रियों के पास बचे 5 दिन, सचिवालय में कर्मचारियों का जमघट, लोकसभा में भाटिया बोले- पानीपत में दुनिया का ऐसा पुल, जिसे बिना उपयोग किए वसूला जा रहा टोल KARNAL DISTT- सफाई कर्मचारी करते हैं ड्रेसिंग, रात की ड्यूटी में नहीं कोई डॉक्टर HR CM CITY KARNAL-कागजों में हो रहा स्मार्ट सिटी का विकास, क्या काम हुआ न मैनेजर को पता, न सीईओ और न ही मेयर को 'पानीपत' विवाद पर बोले हुड्डा- महाराजा सूरजमल को लालची आदमी दिखाने वाला सीन हटना चाहिए