Tuesday, July 23, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
HRD, culture ministries should be merged, suggests RSS body मंत्री मजाक में बोलते थे- आओ कभी दिल्ली मिलने; रोज 150 लाेग पहुंचने लगे तो अपनों से परेशान होकर गेट पर चौकीदार बैठाया  : मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल के ऑफिस के बाहर पहली बार प्राइवेट गार्ड तैनातHARYANA-House sittings: BJP scores better than Cong, INLD LAST SESSION OF 13TH VIDHAN SABHA BEGINS FROM AUGUST 2कर्नाटक विधानसभा में हंगामा, कांग्रेस-जेडीएस ने संविधान बचाओ के लगाए नारेकोलकाता: BSNL बिल्डिंग में लगी आग, दमकल की 6 गाड़ियां मौके परभारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के संसदीय दल की बैठक कलडोनाल्ड ट्रंप और इमरान खान के बीच व्हाइट हाउस में हुई मुलाकातCM कुमारस्वामी की सफाई-राज्यपाल से मिलने का कार्यक्रम नहीं
 
Haryana

खिलाड़ियों को बर्बाद करने पर तुली खट्टर सरकार – जयहिन्द

June 26, 2019 02:31 PM

आम आदमी पार्टी प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिन्द ने खट्टर सरकार की खेल नीतियों पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि एक खिलाड़ी अपना सब कुछ दावं पर लगा कर देश व प्रदेश का परचम  पुरे विश्व में लहराता है | लेकिन भाजपा सरकार इनाम में उसका मनोबल बढ़ाने की बजाये तोड़ने का काम कर रही है |  प्रदेशाध्यक्ष ने चण्डीगढ़ से जारी एक बयान में कहा कि खट्टर सरकार खिलाडियों को बर्बाद करने की नीति पर काम कर रही है | आज सबसे ज्यादा ख़िलाड़ी  हरियाणा की मिट्टी देती है | एक खिलाड़ी  को तैयार करने में उसका पूरा परिवार सब कुछ त्याग कर उसके साथ दिन – रात मेहनत करता है | ऐसे में खट्टर सरकार का पहले उनके इनाम में कटौती करना और फिर उनके सम्मान में कटौती करना न सिर्फ एक खिलाड़ी  का अपमान है बल्कि उन सभी खिलाडियों का अपमान जो देश का परचम लहराने के लिए दिन – रात मेहनत कर रहे है | एक खिलाड़ी को पैसा नही सम्मान चाहिए जो सरकार को उस खिलाड़ी को देना चाहिए |

वही जयहिन्द ने खेल एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज पर कटाक्ष करते हुए कहा कि विज साहब ने तो खिलाडियों को अपमान करने की ट्रेनिंग ले रखी है | विज कटोरा लेकर निकले पैसे तो खिलाड़ी  ही देदेंगे |  विज साहब बताएं कि आज तक कितनी व्यायामशालाएं खुलवाई और कितने स्टेडियम आधुनिक तकनीकी सुविधाओं से युक्त है ? एक खिलाड़ी  होने के नाते सरकार की नीति जिसमे खिलाड़ी  न सम्मान है विकास है का विरोध करता हूँ और आम आदमी पार्टी खिलाडियों के साथ खड़ी  है |

Have something to say? Post your comment