Wednesday, June 19, 2019
Follow us on
National

सरकार अरहर का आयात दोगुना करेगी, कीमतों में बढ़ोतरी के बाद लिया फैसला

June 13, 2019 05:54 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR JUNE 13

सरकार अरहर का आयात दोगुना करेगी, कीमतों में बढ़ोतरी के बाद लिया फैसला
फैसला : आयात की मौजूदा सीमा 2 लाख टन, इसे बढ़ाकर 4 लाख टन किया जाएगा

केंद्र सरकार ने अरहर दाल के आयात की 2 लाख टन की मौजूदा सीमा को बढ़ाकर 4 लाख टन करने का फैसला किया। दो लाख टन अतिरिक्त दाल के आयात के लिए कारोबारियों को 10 दिन के भीतर लाइसेंस जारी कर दिए जाएंगे। यह निर्णय केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने उपभोक्ता मामलों के सचिव, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण एवं सचिव कृषि और किसान कल्याण विभाग और संयुक्त सचिव के साथ बैठक के बाद लिया गया। इसमें बफर स्टॉक से 2 लाख टन अरहर दाल को खुले बाजार में जल्दी जारी करने का फैसला किया गया। दो लाख टन अरहर दाल के इंपोर्ट के लिए प्राप्त आवेदनों पर 10 दिनों के अंदर लाइसेंस जारी कर दिए जाएंगे। नेफेड के पास 27.32 लाख टन का भंडार
भारत-मोजाम्बिक के बीच करार के तहत इस साल 1.75 लाख टन अरहर दाल का आयात होगा. सरकार के पास दालों का 11.53 लाख टन बफर स्टॉक है। इसके अलावा 27.32 लाख टन दालों का भंडार नेफेड के पास पीएसएस योजना के तहत है। कुल मिलाकर 39 लाख टन दालें सरकार के पास उपलब्ध हैं। जमाखोरों और सट्टेबाजों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए पासवान जल्दी ही सभी राज्यों के उपभोक्ता मामलों के मंत्रियों को पत्र लिखेंगे।
दो लाख टन अरहर दाल के आयात के लिए 10 दिनों के अंदर लाइसेंस
मौजूदा स्टॉक: अरहर दाल की कीमत 40% तक बढ़ी है, खुदरा बाजार में 120 रुपए प्रति किलो में उपलब्ध है
मानसून में देरी से दाम न बढ़ें इसलिए सरकार ने जल्दी फैसला लिया
इन उपायों से अरहर दाल की उपलब्धता बढ़ाने और कीमतों पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी. कीमतों में वृद्धि मनोवैज्ञानिक आधार पर है. मानसून में देरी की आशंका से उत्पादन में गिरावट के अनुमान आधारित है.'' -रामविलास पासवान, खाद्य मंत्री, भारत सरकार
थोक भाव अब भी 90 रुपए प्रति किलो से कम
पूरे देश में इस वक्त अरहर की दाल समेत अन्य दालों की कीमतों में 40 फीसदी का इजाफा देखने को मिला है। फिलहाल फुटकर बाजार में अरहर दाल 120 रुपए में मिल रही है। हालांकि देश में दालों का बफर स्टॉक है, लेकिन इसके बाद भी कीमतों में तेजी जारी है। हालांकि मंडियों में फिलहाल थोक भाव 90 रुपए से नीचे चल रहा है। ऐसे में कीमतों का बढ़ना काफी आश्चर्य लगता है। हालांकि इस साल देश में दालों का उत्पादन कम हुआ है, जिस वजह से कीमतों में उछाल जारी है। हालांकि उपभोक्ता मामलों के विभाग के अनुसार बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में अरहर के दाम 96 रुपए ही बताए गए।
दाम 100 रुपए हो गए हैं, बेहतर होता सरकार कुछ समय पहले निर्णय लेती
अरहर दाल की थोक कीमतों में लगातार इजाफा हो रहा है। किसान एमएसपी से अधिक मूल्य पर दालों की बिक्री कर पा रहे हैं। लेकिन खुदरा बाजार में दाम 100 से ऊपर जाना चिंताजनक है। सरकार को यह कदम कुछ समय पहले उठा लेना चाहिए था। -सुरेश अग्रवाल, अध्यक्ष, ऑल इंडिया दाल मिलर्स

 
Have something to say? Post your comment