Wednesday, June 19, 2019
Follow us on
Bihar

नीतीश सरकार का फैसला, माता-पिता की देखभाल नहीं करने वालों को होगी जेल

June 12, 2019 06:07 AM

COURTESY NBT JUNE 12

Narendra.Mishra@timesgroup.com
•नई दिल्ली : बिहार की नीतीश सरकार ने एक अहम फैसला लेते हुए कहा है कि अगर कोई संतान अपने माता-पिता की देखभाल नहीं करेगी तो उसे जेल जाना पड़ेगा। मंगलवार को नीतीश कुमार की अगुआई में राज्य की कैबिनेट ने इससे जुड़े कानून को मंजूरी दी। अब इस कानून के लागू होने के बाद अगर कोई माता-पिता अपने संतान की शिकायत करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। कानून के अनुसार माता-पिता की सेवा करना संतान के लिए अनिवार्य होगा। बिहार के सीएम ने कहा है कि आज के बदले सामाजिक परिवेश में अपने बच्चों को परवरिश देने वाले माता-पिता को सामाजिक सम्मान के साथ-साथ कानूनी संरक्षण देना सरकार का भी कर्तव्य है। पूरे देश में बिहार शायद ऐसा पहला राज्य होगा जहां यह कानून लागू किया जा रहा है। बिहार सरकार के सूत्रों के अनुसार इस कानून को बनाने की पहल सर्वे रिपोर्ट के बाद की गई जिसमें बूढ़े माता-पिता की बदतर हालात सामने आई थी।

हाल के दिनों में सामाजिक सुधार को राजनीति और गवर्नेंस की मुख्यधारा में शामिल करने का दांव नीतीश कुमार ने खेला है। इससे पहले नीतीश कुमार ने फैसला लिया था कि अगर बिहार में किसी शादी में बाल विवाह या दहेज लेने-देने जैसी घटना होती है तो उस शादी से जुड़े ‘बैंड बाजा बारात’ सभी को जेल के अंदर जाना होगा। बिहार में नीतीश सरकार ने पिछले साल गांधी जयंती के मौके पर दोनों सामाजिक कुप्रथा के खिलाफ अभियान की शुरुआत की थी।

 
Have something to say? Post your comment
 
More Bihar News
बिहार में चमकी बुखार का कहर, झारखंड सरकार ने अस्पतालों में जारी किया हाई अलर्ट बिहार के मुख्य सचिव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा-अस्पताल में बेड की संख्या बढ़ाई गई बिहार: दोपहर 2 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार: मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट, अगले 2 दिन ज्यादा गर्मी का अनुमान NATINAL HUMAN RIGHT COMMISSION दिमागी बुखार से मरने वाले बच्‍चों की बढ़ती संख्‍या पर केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय और बिहार सरकार को नोटिस जारी किया बिहार: औरंगाबाद में लू से मौतें, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को दिखाए गए काले झंडे बिहार के मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से मरने वालों की गिनती 103 पहुंची बिहार में भीषण गर्मी को देखते हुए सभी सरकारी स्कूल 22 जून तक बंद रहेंगे। बिहार में जान लेने पर तुली भयंकर गर्मी, गया में मौसम के चलते धारा 144 लागू बिहार में हीट वेव का कहर, औरंगाबाद में मरने वालों की संख्या हुई 47