Sunday, May 31, 2020
Follow us on
BREAKING NEWS
देश में 1 से 30 जून तक रहेगा लॉकडाउन, गृह मंत्रालय ने जारी की नई गाइडलाइंसकोरोना संक्रमण की वजह से 40 करोड़ भारतीय रोजगार खो चुके हैं। कारखाने आदि बंद पड़े हैं: अभय चौटालापिहोवा के बीचो बीच गुजरने वाली अंबाला-हिसार सडक़ के नवीनीकरण का काम शुरू कर दिया गया: संदीप सिंह हरियाणा के खेल व युवा मंत्रीहरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने हिन्दी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर प्रदेश के लोगों विशेष पर मीडिया से जुड़े लोगों को बधाई एवं शुभकामनाएं दीमनोहर लाल ने हिन्दी पत्रकारिता के दिवस पर सभी मीडियाकर्मियों को बधाई एवं शुभकामनाएँ दीहरियाणा पुलिस द्वारा अपराधियों पर लगातार कसा जा रहा शिकंजा पलवल से तीन वांछित अपराधी गिरफ्तार दो पर है 20-20 हजार का ईनामहिमाचल प्रदेश: कोरोना के 297 मरीज, अब तक 86 हुए ठीक, 5 की मौतगृहमंत्री अमित शाह ने पीएम मोदी से 7 लोक कल्याण मार्ग पर की मुलाकात की
Bihar

नीतीश सरकार का फैसला, माता-पिता की देखभाल नहीं करने वालों को होगी जेल

June 12, 2019 06:07 AM

COURTESY NBT JUNE 12

Narendra.Mishra@timesgroup.com
•नई दिल्ली : बिहार की नीतीश सरकार ने एक अहम फैसला लेते हुए कहा है कि अगर कोई संतान अपने माता-पिता की देखभाल नहीं करेगी तो उसे जेल जाना पड़ेगा। मंगलवार को नीतीश कुमार की अगुआई में राज्य की कैबिनेट ने इससे जुड़े कानून को मंजूरी दी। अब इस कानून के लागू होने के बाद अगर कोई माता-पिता अपने संतान की शिकायत करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। कानून के अनुसार माता-पिता की सेवा करना संतान के लिए अनिवार्य होगा। बिहार के सीएम ने कहा है कि आज के बदले सामाजिक परिवेश में अपने बच्चों को परवरिश देने वाले माता-पिता को सामाजिक सम्मान के साथ-साथ कानूनी संरक्षण देना सरकार का भी कर्तव्य है। पूरे देश में बिहार शायद ऐसा पहला राज्य होगा जहां यह कानून लागू किया जा रहा है। बिहार सरकार के सूत्रों के अनुसार इस कानून को बनाने की पहल सर्वे रिपोर्ट के बाद की गई जिसमें बूढ़े माता-पिता की बदतर हालात सामने आई थी।

हाल के दिनों में सामाजिक सुधार को राजनीति और गवर्नेंस की मुख्यधारा में शामिल करने का दांव नीतीश कुमार ने खेला है। इससे पहले नीतीश कुमार ने फैसला लिया था कि अगर बिहार में किसी शादी में बाल विवाह या दहेज लेने-देने जैसी घटना होती है तो उस शादी से जुड़े ‘बैंड बाजा बारात’ सभी को जेल के अंदर जाना होगा। बिहार में नीतीश सरकार ने पिछले साल गांधी जयंती के मौके पर दोनों सामाजिक कुप्रथा के खिलाफ अभियान की शुरुआत की थी।

Have something to say? Post your comment