Saturday, August 24, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
अरुण जेटली के निधन के बाद हैदराबाद से दिल्ली लौट रहे हैं गृह मंत्री अमित शाहदिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अरुण जेटली का एम्स में निधनअर्थव्यवस्था नहीं है स्टाक मार्केटपूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम को ईडी मामले में राहत, SC ने लगाई सोमवार तक गिरफ्तारी पर रोकफ्रांस के मंदिरों में जन्माष्टमी की धूम, पेरिस के इस्कॉन में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़जन्माष्टमी के अवसर पर सभी देशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं : राष्ट्रपति राम नाथ कोविंदसभी देशवासियों को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं, जय श्रीकृष्ण : PM मोदीआतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत-यूएई साथ-साथः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
 
Haryana

नायब तहसीलदार के लिए आवेदन के 5 साल बाद हुई परीक्षा, 2.38 लाख में से 70 हजार ही पहुंचे, समालखा में 2 घंटे हंगामा

May 27, 2019 06:09 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR MAY 27

नायब तहसीलदार के लिए आवेदन के 5 साल बाद हुई परीक्षा, 2.38 लाख में से 70 हजार ही पहुंचे, समालखा में 2 घंटे हंगामा
लेटलतीफी : राजस्व विभाग में नायब तहसीलदार (ग्रुप-बी) के 70 पदों के लिए हुई लिखित परीक्षा

राजस्व विभाग में नायब तहसीलदार (ग्रुप-बी) के 70 पदों के लिए प्रदेशभर में रविवार को लिखित परीक्षा हुई। इस भर्ती की प्रक्रिया को पूरा करने में पिछली और मौजूदा सरकारों में से किसी ने कोई रुचि नहीं दिखाई। इसके चलते अब आवेदन करने के 5 साल बाद हुई परीक्षा में 2.38 लाख अभ्यर्थियों में करीब 70 हजार ही परीक्षा केंद्रों तक पहुंच पाए। प्रदेश भर के 1.68 लाख युवाओं ने परीक्षा केंद्रों से दूरी बनाई।
गौरतलब है कि हरियाणा पब्लिक सर्विस कमीशन की ओर से नायब तहसीलदारों की भर्ती पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा की सरकार के कार्यकाल में शुरू हुई थी। 25 सितंबर 2013 को नायब तहसीलदारों के 37 पदों के लिए विज्ञापन जारी किया गया था। काफी संख्या में लोगों ने अप्लाई भी कर दिया था, लेकिन कुछ समय बाद अचानक सरकार ने इस प्रक्रिया से हाथ खींच लिया। इसके बाद वर्ष 2014 चुनावों में बीत गया और भाजपा की सरकार सत्ता में आ गई। मनोहर सरकार ने 23 जुलाई 2015 को फिर से नायब तहसीलदारों के रिक्त पदों के लिए विज्ञापन जारी कर प्रक्रिया शुरू की। इस बार 37 की बजाए 70 पदों के लिए विज्ञापन जारी किया गया। इनमें 35 सीटें जनरल, 13 सीटें एससी और शेष सीटें ओबीसी व अन्य कैटेगरी के लिए थी, लेकिन फिर भर्ती पक्रिया 3 साल तक लटकी रही।
बायोमैट्रिक हाजिरी पर बवाल : पेपर खत्म हाेेने के 2 घंटे तक रुकने पर हाजिरी नहीं लगी तो परीक्षार्थियों ने जताया रोष
पानीपत | समालखा जाेन में 3 सेंटराें पर रविवार काे परीक्षा खत्म हाेने के 2 घंटे बाद भी परीक्षार्थियों काे बाहर नहीं निकलने दिया गया, क्योंकि मशीन नहीं चलने के कारण उनकी बॉयोमैट्रिक हाजिरी नहीं लग पाई थी। इस पर परीक्षार्थियों ने धांधली का अाराेप लगाते हुए हंगामा कर दिया।
: परीक्षा लेट होने के कारण
5 साल में भर्ती प्रक्रिया में 3 बार हो चुका बदलाव
जुलाई, 2015 में यह भर्ती निकाली गई थी, लेकिन मई, 2018 में इसमें दो बार बदलाव किया गया। इससे पहले बदलवा कर मनोहर सरकार ने सीटें बढ़ाई थीं।
कम आवेदक पहुंचने के कारण : 5 साल बाद हुई परीक्षा की तारीख 9 मई तय की गई थी। भर्ती निकले लंबा समय होने की वजह से अनेक आवेदकों को इसकी जानकारी नहीं मिल पाई तो कुछ के भर्ती आवेदन संबंधी कागज गुम हो चुके हैं। अक्सर इस भर्ती में 40 से 45 फीसदी अभ्यर्थी शामिल होते हैं, लेकिन इस बार 25 फीसदी से भी कम रहे।
सभी जगह शांतिपूर्वक हुई परीक्षा: मनवीर सिंह
परीक्षा सभी जगह शांतिपूर्ण तरीके से हो गई। समालखा में बड़ी दिक्कत नहीं थी, उसे निपटा दिया गया है। बीच में पदों की संख्या बढ़ाने से परीक्षा के आयोजन में समय लगा है। मनवीर भड़ाना, चेयरमैन, एचपीएससी।
रेवाड़ी | परीक्षा के दौरान गर्मी के मौसम में परीक्षार्थियों को रूमाल तक अंदर नहीं ले जाने दिया गया। परीक्षार्थी रुमालों को जेबों से निकालकर दीवार पर रखते या झाड़ियों में फेंकते नजर आए। महिला परीक्षार्थियों ने कानों में सोने की बालियां पहनी हुई थीं तो कुछ के हाथ में कलावा बंधा हुआ था। गेट पर तैनात कर्मियों ने उन्हें भी अंदर प्रवेश नहीं करने दिया।
पानीपत में परीक्षा दे पिता संग महम लौट रही युवती, हादसे में दोनों घायल
नायब तहसीलदार की परीक्षा देकर वापस लौट रही गांव बड़सी की मीनू और उनके पिता ईश्वर सिंह सड़क हादसे में घायल हो गए। पानीपत से मीनू अपने पिता ईश्वर सिंह के साथ बाइक पर सवार होकर वापस अपने गांव लौट रही थी। निंदाना गांव के गोहाना मोड़ पर उनकी बाइक को कार ने टक्कर मार दी। हादसे में बाप-बेटी घायल हो गए। घायलों को सामान्य अस्पताल में पहुंचाया, जहां से पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
Badal’s advice to feuding Chautalas ahead of polls may be too late पुलिस ने विपासना को मोस्टवांटेड सूची से बाहर किया, आदित्य 2 साल से फरार पंचकूला हिंसा : सीबीआई कोर्ट में गुरमीत को पेश करने के दौरान हुआ था बवाल पहली बार हुई लिखित परीक्षा ताे मास्टर बन गए एचसीएस, 18 में से 16 पदों पर ग्रुप सी के शिक्षकाें ने जमाया कब्जा घग्गर नदी में पानी के तेज बहाव से हर्बल पार्क से लेकर खाली एरिया की जमीन नदी में बही पंचकूला एक्सटेंशन सेक्टरों के लोगों ने पिछले साल सेफ्टी वॉल टूटने की दी थी कंप्लेंट, नहीं हुई कार्रवाई एचएसवीपी ड्राफ्ट की एन्हांसमेंट पॉलिसी पर तीन जजों की रिपोर्ट होगी लागू...
ADGP श्रीकांत जाधव के ट्रांसफर पर विदाई पार्टी, तमाम अफसर पहुंचे
हरियाणा लोक सेवा आयोग ने एचसीएस ग्रुप सी का रिजल्ट घोषित किया
अर्जुन अवार्डी मुक्केबाज पी/एस.आई. कविता चहल ने वर्ल्ड पुलिस गेम में हासिल किया स्वर्ण पदक
हरियाणा पुलिस फिक्की स्मार्ट पुलिसिंग अवार्ड से सम्मानित
हरियाणा में जीएसटी अपिलेट ट्रिब्युनल के बैंच के गठन का ऐलान:कैप्टन अभिमन्यु