Monday, May 20, 2019
Follow us on
Haryana

HARYANA- अब राजकीय स्कूलों में भी बनेंगे कई सेक्शन, अध्यापकों की होगी नियुक्ति

May 16, 2019 05:50 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR MAY 16

अब राजकीय स्कूलों में भी बनेंगे कई सेक्शन, अध्यापकों की होगी नियुक्ति
परीक्षा परिणाम में सुधार : राजकीय स्कूलों के रिजल्ट में पिछले पांच साल में 20 फीसदी की बढ़ोत्तरी, 779 सरकारी स्कूलों का 100 फीसदी रहा परिणाम
भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा/भिवानी
प्रदेश के राजकीय स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। कई स्कूल ऐसे हैं जहां पर दो सेक्शन बनाने पड़े हैं। जिन राजकीय स्कूलों में अबकी बार विद्यार्थियों की संख्या बढ़ी है, यदि वहां पर जरूरत हुई तो और कमरों का निर्माण कराया जाएगा। इसके लिए विशेष ग्रांट भी विभाग की ओर से जारी की जाएगी। ताकि ऐसा करने वाली पंचायत या नगर पालिकाओं को प्रोत्साहन मिल सके। इधर राजकीय स्कूलों में शिक्षा का स्तर लगातार सुधर रहा है।
विभागीय अधिकारियों की माने तो साल 2015 से लेकर साल 2019 तक करीब 20 फीसदी परीक्षा परिणाम मे बढ़ोतरी हुई है जो कि शिक्षा विभाग की ओर से शिक्षा में गुणवत्ता के लिए किए गए विशेष प्रयासों का परिणाम हैं। इस बार सरकारी स्कूलों का परीक्षा परिणाम प्राइवेट स्कूलों की तुलना में करीब चार फीसदी अधिक रहा।
हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की मार्च 2019 की 12वी कक्षा के बेहतर परीक्षा परिणाम पर विभाग की ओर से शिक्षा में गुणवत्ता को लेकर किये गए बदलावों का असर अब दिखना शुरू हो गया है। अबकी बार सरकारी स्कूलों का परीक्षा परिणाम 76.39 रहा, जबकि प्राइवेट विद्यालयों का पास प्रतिशत 72.61 रहा। इस बार के परीक्षा परिणामों में ग्रामीण विद्यालयों ने शहरी स्कूलों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया। ग्रामीण स्कूलों के छात्रों का परीक्षा परिणाम 75.74फीसदी, जबकि शहरों स्कूलों के बच्चों की पास प्रतिशतता 71.83 रही। शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास ने बताया कि जिन स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या बढ़ी है, वहां पर अतिरिक्त टीचर्स नियुक्त होंगे। यही नहीं कमरों का निर्माण भी कराया जाएगा, इसके लिए विशेष ग्रांट उपलब्ध कराई जाएगी।
12वीं कक्षा का रिजल्ट प्राइवेट की अपेक्षा सरकारी स्कूलों में 4%अधिक
अंग्रेजी में सबसे ज्यादा बच्चे फेल
भिवानी | बोर्ड की 12वीं कक्षा के मुख्य विषयों में सबसे अधिक बच्चे हिंदी में पास हुए तो अंग्रेजी में सबसे कम। हिंदी कोर में 96.9% और अंग्रेजी में 88.48 % बच्चे पास हुए।
विषय कुल छात्र पास फेल कंपार्टमेंट प्रतिशतता
अंग्रेजी काेर 191524 169470 8881 13173 88.48
हिंदी कोर 174304 169056 4180 1066 96.99
संस्कृत 22642 22316 229 94 98.56
हिस्ट्री 70613 64942 3458 2209 91.97
पोल. साइंस 62256 59183 2183 884 95.06
इक्नोमिक्स 35504 33045 1044 399 95.77
जियोग्राफी 30852 29425 958 193 93.16
गणित 53811 47409 3637 1024 88.10
फिजिक्स 44171 34658 7040 2473 78.46
केमेस्ट्री 44171 33159 7631 3381 75.07
जीव विज्ञान 13598 11549 1531 318 84.93
अकाउंटेंसी 27823 23625 2107 2091 84.91
प्रदेश के 1140 स्कूलों का आया 100% रिजल्ट
हरियाणा के कुल 1140 स्कूलों का परिणाम सौ फीसदी आया है। प्राइवेट स्कूलों के मुकाबले दोगुना सरकारी स्कूलों का परिणाम सौ फीसदी रहा है।
जिला 100 % प्राइवेट
परिणाम वाले स्कूल
सरकारी स्कूल
अम्बाला 30 7
भिवानी 45 20
फरीदाबाद 11 12
फतेहाबाद 46 12
गुड़गांव 16 6
हिसार 63 45
झज्जर 76 20
जींद 45 26
करनाल 37 18
कैथल 48 26
कुरुक्षेत्र 16 19
महेंद्रगढ़ 48 9
पंचकुला 20 1
पानीपत 43 13
रेवाड़ी 32 17
रोहतक 58 13
सिरसा 32 17
सोनीपत 50 35
यमुनानगर 13 15
नूंह 21 4
पलवल 9 7
चरखी दादरी 20 19
कुल 779 361

 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
रोहतक में हुई भाजपा चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक, लोकसभा चुनाव को लेकर लिया फीडबैक HARYANA -विधानसभा चुनाव से पहले आएगी जाट आरक्षण आंदोलन के लिए गठित झा कमीशन की रिपोर्ट HARYANA सीएम बोले- 10 सीटें जीतेंगे, हुड्‌डा का 4 से 5 का अनुमान, अभय बाले- 23 तक इंतजार तो कर लो PANCHKULA-आईआईएम शुरू करेगा फाइव ईयर एमबीए इंटीग्रेटेड कोर्स, क्लासेज लगाने को मांगी जमीन
हरियाणा‌ पुलिस को‌ मिली बडी‌ कामयाबी,45 लाख रुपये की 450 ग्राम हैरोईन के साथ 3 युवक काबू
प्रदेश के विस चुनाव में महत्वपूर्ण होगा दिल्ली मेट्रो विस्तार का मुद्दा डेवलपमेंट : 24 मई को सीएम की अध्यक्षता वाली जीएमडीए कमेटी में होगी चर्चा HARYANA किलोमीटर स्कीम की सीबीआई से जांच की मांग, रोडवेज अधिकारी बोले- अभी स्कीम रद्द नहीं की तालमेल कमेटी ने 510 निजी बसें महंगे रेट पर ठेके पर लेने में जताई थी 500 करोड़ के घोटाले की आशंका राम रहीम से मिलने जेल में पहुंचे अनुयायी, 3 को हिरासत में लिया संगरूर का दंपती बेटी के साथ आया था सुनारिया PINJORE-पीएचसी का हाल: शाम 4 बजे के बाद नहीं मिलते डॉक्टर, मरीजों को कर देते हैं रेफर चुनाव आयोग में अनबन, CEC को देनी पड़ी सफाई