Monday, May 20, 2019
Follow us on
Haryana

अम्बाला लोक सभा हलके के साढौरा विधानसभा क्षेत्र में सर्वाधिक 79.62 प्रतिशत वोटिंग

May 13, 2019 06:42 PM

चंडीगढ़ - बीते कल 12 मई को हरियाणा प्रदेश में 17 वी लोकसभा के लिए सभी 10 सीटों पर हुए चुनावो में  प्राप्त सरकारी आंकड़ों के अनुसार मतदान का प्रतिशत 70.29  रहा है जिसमे सबसे ऊपर सिरसा संसदीय क्षेत्र है जहाँ यह 75.97  प्रतिशत रहा एवं सबसे कम फरीदाबाद लोक सभा सीट पर केवल 64.13  प्रतिशत रहा. पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के एडवोकेट हेमंत कुमार ने चुनाव आयोग से प्राप्त  आंकड़ों का अवलोकन करने के बाद बताया कि अम्बाला (आरक्षित) लोक सभा सीट  में मतदान का प्रतिशत 71.15 प्रतिशत, कुरुक्षेत्र में 74.32 , हिसार में 72.16 , करनाल में 68.54 प्रतिशत, सोनीपत में 70.72 प्रतिशत,  रोहतक में 70.74  ,भिवानी-महेंद्रगढ़ में 69.84  एवं गुडगाँव में 67.37 प्रतिशत रहा.  जहाँ तक प्रदेश की हर 10  लोक सभा सीटों के  नीचे आने वाले नौ -नौ विधानसभा हलकों का प्रश्न है तो इनमे से अम्बाला (आरक्षित) लोक सभा की अंतर्गत आने वाले यमुनानगर ज़िले के साढौरा (आरक्षित) हलके में मतदान का प्रतिशत  79 .62 प्रतिशत रहा जो की पूरे प्रदेश में सबसे अधिक है एवं सबसे कम फरीदाबाद हलके का  बडख़ल विधान सभा हल्का रहा.

 
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
रोहतक में हुई भाजपा चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक, लोकसभा चुनाव को लेकर लिया फीडबैक HARYANA -विधानसभा चुनाव से पहले आएगी जाट आरक्षण आंदोलन के लिए गठित झा कमीशन की रिपोर्ट HARYANA सीएम बोले- 10 सीटें जीतेंगे, हुड्‌डा का 4 से 5 का अनुमान, अभय बाले- 23 तक इंतजार तो कर लो PANCHKULA-आईआईएम शुरू करेगा फाइव ईयर एमबीए इंटीग्रेटेड कोर्स, क्लासेज लगाने को मांगी जमीन
हरियाणा‌ पुलिस को‌ मिली बडी‌ कामयाबी,45 लाख रुपये की 450 ग्राम हैरोईन के साथ 3 युवक काबू
प्रदेश के विस चुनाव में महत्वपूर्ण होगा दिल्ली मेट्रो विस्तार का मुद्दा डेवलपमेंट : 24 मई को सीएम की अध्यक्षता वाली जीएमडीए कमेटी में होगी चर्चा HARYANA किलोमीटर स्कीम की सीबीआई से जांच की मांग, रोडवेज अधिकारी बोले- अभी स्कीम रद्द नहीं की तालमेल कमेटी ने 510 निजी बसें महंगे रेट पर ठेके पर लेने में जताई थी 500 करोड़ के घोटाले की आशंका राम रहीम से मिलने जेल में पहुंचे अनुयायी, 3 को हिरासत में लिया संगरूर का दंपती बेटी के साथ आया था सुनारिया PINJORE-पीएचसी का हाल: शाम 4 बजे के बाद नहीं मिलते डॉक्टर, मरीजों को कर देते हैं रेफर चुनाव आयोग में अनबन, CEC को देनी पड़ी सफाई