Monday, May 20, 2019
Follow us on
International

फिलीपींस के बिनालोनान में गपबाजी पर पाबंदी, नियम तोड़ा तो 725 रुपए जुर्माना और 3 घंटे शहर की सफाई करनी होगी

May 07, 2019 06:05 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR MAY 7

फिलीपींस के बिनालोनान में गपबाजी पर पाबंदी, नियम तोड़ा तो 725 रुपए जुर्माना और 3 घंटे शहर की सफाई करनी होगी
 : गपबाजी से फैलने वाली अफवाहों के चलते शहर में अपराध बढ़ रहे थे, इसलिए कानून बनाया

फिलीपींस की राजधानी मनीला से 200 किमी दूर छोटे से शहर बिनालोनान में प्रशासन ने गपबाजी पर पाबंदी लगा दी है। अगर यहां गप मारते हुए पकड़े गए तो न सिर्फ 725 रुपए का जुर्माना देना पड़ेगा बल्कि तीन घंटों तक सड़क पर पड़े कचरे को साफ भी करना पड़ेगा। प्रशासन ने यह फैसला इसलिए लिया है, क्योंकि यहां गपबाजी के कारण अफवाहें फैल रही थीं। और इसकी वजह से मारपीट और हत्या जैसे अपराध बढ़ रहे थे। यह कानून 1 मई से लागू हो गया है। हालांकि रात 10 बजे के बाद गपशप करने पर पाबंदी नहीं हाेगी।
दरअसल, इस कानून को बिनालोनन के मेयर रेमन गुइको ने पारित करवाया है। उनका मानना है कि गर्मियों में सबसे अधिक अफवाह फैलती है, जब लोग पेड़ों के नीचे एक-दूसरों के अफेयर और पैसों के बारे में बात करते हैं। यहां लोग संपत्ति विवाद, पैसा, रिलेशनशिप और इस तरह के विषयों के बारे में बेमतलब की बातें कर अपना समय बर्बाद करते हैं। पाबंदी लगाकर हमने लोगों को उनकी जिंदगी बेहतर करने का मौका दिया है। मेयर गुइको बताते हैं कि जुर्माना इसलिए लगाया गया है, ताकि लोग इस कानून की गंभीरता को समझें। अगर कोई शख्स दूसरी बार गपबाजी करते पकड़ा गया तो जुर्माने की रकम बढ़ाकर 1350 रुपए होगी और 8 घंटे तक साफ-सफाई जैसा काम करना पड़ेगा। मेयर के मुताबिक नए कानून को लागू किए जाने से विवादों और अपराधों की संख्या में कमी आएगी। पिछले 6 दिनों में कई लोगों को दंडित किया जा चुका है। नया कानून केवल बिनालोनन तक सीमित नहीं है। इसे सात गांवों में और लागू किया गया है। हालांकि शहर को सभ्य बनाए रखने के लिए रात 10 बजे बाद लोगों को गप्पें मारने की आजादी दी गई है।
रात 10 बजे के बाद गपशप पर पाबंदी नहीं, 1 मई से कानून लागू
दिनभर में 52 मिनट गपबाजी करते हुए बिताते हैं लोग: रिसर्च
कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी की एक रिसर्च के मुताबिक लोग दिन में आैसतन 52 मिनट गपशप करते हुए बिताते हैं। कम आय वाले लोग ज्यादा कमाई करने वालों के मुकाबले कम बातें करते हैं जबकि युवा, बुजुर्गों के मुकाबले ज्यादा गपबाजी करते हैं और उनकी बातों में दूसरों के बारे में ज्यादा निगेटिविटी होती है। यानी वे दूसरों की चुगली करने में ज्यादा मजे लेते हैं।

 
Have something to say? Post your comment