Monday, July 22, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग पर कांग्रेस ने लिया क्रेडिट, याद दिलाया नेहरू-मनमोहन का योगदानखाप पंचायत का फैसला, जाति व्यवस्था के खात्मे के लिए गांव के नाम को बनाएं सरनेममुंबई: बांद्रा में MTNL बिल्डिंग में लगी आग, छत पर फंसे 100 से ज्यादा लोगचंद्रयान- 2 की सफलता के लिए इसरो के वैज्ञानिकों और देशवासियों को बधाई:मनोहर लाल मुख्यमंत्री, हरियाणाचंद्रयान- 2 की सफलता के लिए ISRO के वैज्ञानिकों और देशवासियों को बधाई: सीएम कमलनाथचंद्रयान- 2 के प्रक्षेपण पर इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंहचंद्रयान- 2 का ऐतिहासिक प्रक्षेपण सभी भारतीयों के लिए गर्व का क्षण: राष्ट्रपति राम नाथ कोविंदपीएम मोदी चंद्रयान-2 की सफल लॉन्चिंग पर सेलिब्रेट करते हुए
 
Haryana

28 साल पुराने ड्रग-पेडलिंग केस में आरोपी गिरफतार एसटीएफ ने सिरसा से किया काबू

April 26, 2019 07:47 PM

पंचकूला-26 अप्रैल - हरियाणा पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) द्वारा लगभग 28 साल पुराने “चूरापोस्त” तस्करी के मामले में आरोपी नषा तस्कर को सिरसा जिले से काबू किया गया है।

पुलिस विभाग के प्रवक्ता ने आज इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि पकडे गए आरोपी की पहचान गांव जंडवाला जाटान निवासी 58 वर्षीय बलदेव सिंह उर्फ बल्ला के रूप में हुई है।
वर्ष 1990 में, सदर थाना पुलिस की टीम द्वारा आरोपी बल्ला को 33 बैग (1320 किलोग्राम) ‘‘चूरा पोस्त‘‘ सहित गिरफतार किया गया था। इस मामले में निचली अदालत द्वारा आरोपी के बरी होने के बाद, पुलिस ने उच्च न्यायालय में पैरवी की जहां से हाईकोर्ट ने बल्ला को दोषी मानते हुए उसे 10 साल कारावास की सजा सुनाई गई। शीर्ष अदालत ने भी उच्च न्यायालय के फैसले को बरकरार रखा।
प्रवक्ता ने बताया कि आरोपी एनडीपीएस और आर्म्स एक्ट के तहत अपराध के तीन अन्य मामलों में भी शामिल रहा है। 58 वर्षीय नषा तस्कर को पंजाब पुलिस ने वर्ष 1993 में 15 किलो अफीम के साथ गिरफ्तार किया था। इस मामले में कोर्ट ने उसे 10 साल कैद के साथ-साथ 1 लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई थी। करीब ढाई साल की सजा काटने के बाद से वह फरार चल रहा था। इसके अलावा, उसके खिलाफ वर्ष 1994 में कालांवाली पुलिस स्टेशन में शस्त्र अधिनियम के तहत दो मामले भी दर्ज किए गए थे। दोनों मामलों में दोषी ठहराए जाने के बाद सजा काट चुका है।
अभियुक्त को अदालत में पेश किया गया जिसके बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

000

19 लाख 16 हजार की नकदी व मादक पदार्थ बरामद

पंचकूला -26 अप्रैल - संसदीय आम चुनाव-2019 के मद्देनजर शुरू किए गए एक विशेष अभियान के तहत, हरियाणा पुलिस द्वारा गत दिवस गष्त व छापेमारी के दौरान विभिन्न जिलों से 19 लाख 16 हजार रुपये की नकदी, 16 ग्राम हेरोइन, 3 ग्राम 34 मिलीग्राम स्मैक, 1 किलो 30 ग्राम अफीम, 108 ग्राम चरस, 830 ग्राम डोडा पोस्त, अवैध शराब की 764 बोतलें, 5 अवैध पिस्तौल, 6 कारतूस को जब्त कर इस संबंध में 22 आरोपियों को काबू किया गया है।
पुलिस विभाग के प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि लंबे समय से फरार चल रहे तीन उद्घोषित अपराधियों को भी 25 अप्रैल को रोहतक से गिरफ्तार किया गया है।
उन्होंने कहा कि करनाल में पुलिस टीमों ने नाकाबंदी कर औचक निरीक्षण के दौरान तीन व्यक्तियों से 19 लाख 16 हजार रुपये की नकदी जब्त की। पुलिस ने संजय से 3 लाख रुपये, जसप्रीत से 66,000 व एक अन्य मामले में शमशेर से 15 लाख रुपये की नकदी जब्त की है। सभी के पास पैसे के स्रोत की व्याख्या करने के लिए आवश्यक दस्तावेज नहीं थे। जब्त किए गए पैसे को सरकारी खजाने में जमा किया गया है।
पुलिस की टीमों द्वारा सिरसा, दादरी और रेवाड़ी जिलों से 764 बोतल अवैध शराब भी जब्त की गई है। मादक पदार्थ पर कार्रवाई करते हुए अंबाला जिले से 16 ग्राम हेरोइन व 3 ग्राम 34 मिलिग्राम स्मैक, करनाल से 1.3 किलोग्राम अफीम, भिवानी जिले से 108 ग्राम चरस और 830 ग्राम डोडा पोस्ट जब्त किया गया है। इसके अलावा आठ लोगों को सोनीपत, फरीदाबाद और भिवानी जिलों से पांच अवैध पिस्तोल और छह कारतूस रखने के आरोप में पकडा गया है।
पुलिस द्वारा लोकसभा चुनावों के मद्वेनजर अलग-अलग स्थानों पर विषेष नाकाबंदी कर चैकसी बढा दी गई है।

Have something to say? Post your comment