Monday, July 22, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग पर कांग्रेस ने लिया क्रेडिट, याद दिलाया नेहरू-मनमोहन का योगदानखाप पंचायत का फैसला, जाति व्यवस्था के खात्मे के लिए गांव के नाम को बनाएं सरनेममुंबई: बांद्रा में MTNL बिल्डिंग में लगी आग, छत पर फंसे 100 से ज्यादा लोगचंद्रयान- 2 की सफलता के लिए इसरो के वैज्ञानिकों और देशवासियों को बधाई:मनोहर लाल मुख्यमंत्री, हरियाणाचंद्रयान- 2 की सफलता के लिए ISRO के वैज्ञानिकों और देशवासियों को बधाई: सीएम कमलनाथचंद्रयान- 2 के प्रक्षेपण पर इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंहचंद्रयान- 2 का ऐतिहासिक प्रक्षेपण सभी भारतीयों के लिए गर्व का क्षण: राष्ट्रपति राम नाथ कोविंदपीएम मोदी चंद्रयान-2 की सफल लॉन्चिंग पर सेलिब्रेट करते हुए
 
Haryana

भाजपा राज में संविधान को बड़ा खतरा:हुड्डा

April 26, 2019 07:38 PM
पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिहं हुड्डा आज जींद के कांगे्रस भवन में जींद, जुलाना,सफीदों हलकों के कार्यकर्ताओं से रूबरू हुए। कार्यक्रम में तीन घंटे देरी से पहुंचे हुड्डा कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि आपने आज जो पसीना लिया है,वो खाली नहीं जाएगा और न केवल सोनीपत लोकसभा क्षेत्र में बल्कि पूरे हरियाणा प्रदेश में रंग लाने का काम करेगा। आज देश व प्रदेश की राजनीति करवट ले रही है। आज लोकसभा का चुनाव देश व प्रदेश के लिए असाधारण चुनाव है। डा.भीमराव अंबेडकर ने जो संविधान दिया था,वो खतरे में है। आपके समक्ष यह ऐतिहासिक मौका आया है कि आप इसमें एक बड़ी भूमिका अदा करें। मैं सोनीपत लोकसभा क्षेत्र से कांगे्रस का उम्मीदवार हूं,समझिये मेरा लक्ष्य सांसद बनना नहीं है,बल्कि जींद से सोनीपत,सोनीपत से दिल्ली और फिर दिल्ली से चंडीगढ पहुंचना है,ताकी मेंं आपके लिए कुछ बड़ा कर संकू। हुड्डा ने कहा कि जब 2005 में प्रदेश में कांगे्रस की सरकार बनी,जिसमें जींद जिला से तीन केबिनेट मंत्री बने। उन्होंने जो जींद के लिए कहा मैंने वही किया,फिर भी काफी कसर बाकी है,अब मैं सीधे तौर पर जींद का प्रतिनिधित्व करते हुए उस कसर को पूरा करूंगा और मेरी मां की भूमि जींद का कर्ज भी उतारूंगा।
 हुड्डा ने कहा कि चौटाला सरकार के समय जब कंडेला में किसानों को गोलियों से उड़ाया जा रहा था, तो मैंने ही सबसे पहले यहां आकर छाती अड़ाई थी और यहां से पद यात्रा करके दिल्ली पहुंचा था। जिससे तत्कालीन सरकार के जुल्मों पर ब्रेक लगे थे। मुझे बुजुर्गों ने बताया कि बिजली बिलों का बकाया इतना भारी है कि यदि जमीन को भी बेच देंं तो भर नहीं सकते। सरकार बनने के बाद मैंने अधिकारियों को बुलाया और कहा कि मैंने किसानों के बिजली बिल माफ करना चाहूंता हूं। अधिकारियों ने वित्तिय स्थिति का हवाला देते हुए आनाकानी की। लेकिन उसके बाद भी मैंने 1600 करोड़ रुपये के बिजली बिल माफ किये। आज मैं फिर आपसे यह कहकर जा रहा हूं कि कांगे्रस की सरकार आने पर किसानों को कर्जा काफी को कर्जमुक्त तक लेकर जाएंगे एवं हर गरीब परिवार को 72 हजार रुपये सालाना देकर उनकी आर्थिक स्थिति को मजबूत किया जाएगा। हमने अपने समय में भी किसानों के फसली ऋण के ब्यान को जीरो प्रतिशत किया व बीपीएल परिवारों को 3,82000 मुफ्त आवासीय प्लाट दिये। लेकिन भाजपा सरकार ने अपने पांच वर्ष के शासनकाल में एक इंच जमीन भी किसी गरीब को नहीं दी। इसके इलावा भाजपा सरकार के गरीब छात्रों के वजीफे रोक दिये और दालरोटी की स्कीम से दाल को निकाल दिया। 
पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि उसकी नीतियों कभी भी किसान और गरीब हितेषी नहीं हो सकती। यही कारण कि हमारे समय में खाद,कीटनाशक,स्पेयर पार्टस पर कोई टैक्स नहीं था और पैट्रो पदार्थ के मुल्य देश में सबसे कम थे,परन्तु वहीं भाजपा ने इन सब पर भारी टैक्स थौंप दिये। नोटबंदी और जीएसटी ने प्रदेश के व्यापार को चौपट कर दिया और कानून व्यवस्था इतनी बदहाल हो गई कि कोई दिन ऐसा नहीं जाता जब प्रदेश में लूट,छेंदमारी,डाका और बलात्कारी जैसे घटनाएं ना हो रही हों। हुड्डा ने भाजपा सरकार से सवाल करते हुए कि देश के लोग यह जानना चाहते हैं कि देश के 10 धनाड्य लोगों को अढाई लाख हजार करोड़ रुपये माफ हो सकता है तो किसानों का क्यों नहीं? 
पूर्व सीएम हुड्डा ने कहा कि जींद के लोगों को सरकार में सीधा सांझा करने का समय आया है। इस लिए मैं चुनाव की सारी जिम्मेवारियां आपके जिम्मे कर रहा हूं,क्योंकि पार्टी में मेरी जिम्मेदारी हरियाणा प्रदेश के साथ साथ अन्य पड़ौसी प्रदेशों में भी चुनाव प्रचार के लिए लगाई हुई है। समय कम है,आप इस चुनाव को अपना चुनाव समझे और स्वयं भूपेंद्र सिहं हुड्डा बनकर शहर,गांव,मौहल्लों,गलियों,घरों में जाएं और एक एक वोट के लिए लोगों से संपर्क करें। मैं सिर्फ यह कहकर जा रहा हूं क्योंकि मैं सब जगह नहीं पहुंच सकता,परन्तु चुनाव जीतने के बाद प्रत्येक गांव में धन्यवाद करने जरूर पहुंचूगां। 
----------
हुड्डा के नेतृत्व में प्रदीप गिल ने थामा कांगे्रस का हाथ
जननायक जनता पार्टी के पंचायती प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष रहे प्रदीप गिल ने शुक्रवार को अपने समर्थकों के साथ पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र ङ्क्षसह हुड्डा के नेतृत्व में कांगे्रस का हाथ थाम लिया। गिल ने बृहस्पतिवार को ही जजपा छोडऩे का ऐलान किया था। जजपा के गठन से पहले प्रदीप गिल युवा इनैलो के प्रदेश अध्यक्ष एवं प्रभारी समेत कई पदों पर काम कर चुके हैं। जींद विधानसभा के उपचुनाव में भी प्रदीप गिल जजपा टिकट के प्रबल दावेदारों में शामिल थे। शुक्रवार को पूर्व सीएम हुड्डा की उपस्थिति में प्रदीप गिल ने कहा कि जींद लोकदल का गढ रहा है,लेकिन इस बार इस जींद का कांगे्रस की जीत निश्चित करेंगे। गिल ने कहा कि  जजपा नेता कभी बीजेपी तो कभी कांग्रेस तो कभी इनेलो की रड़क निकालने की बात करते हैं। इसी नकारात्मक सोच के चलते जेजेपी से विकास की उम्मीद नहीं कर सकते। वहीं,पूर्व सीएम हुड्डा ने कहा कि प्रदीप गिल और अन्य सभी दूसरे साथियों का कांगे्रस पार्टी में पूरा मान सम्मान रखा जाएगा। हुड्डा के नेतृत्व में आज सैंकड़ों लोगों ने जजपा,इनैलो और भाजपा छोड़कर कांगे्रस में शामिल होने की घोषणा की।
--------
जींद बार ने दिया समर्थन 
कार्यकर्ता बैठक से पहले पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा जींद बार में पहुंचे और वकीलो से समर्थन मांगा। उन्होंने वकीलों से कहा कि आप बुद्धिजीवी वर्ग से आते हैं और आप अच्छे से संकेत भी समझते हैं और अच्छे से संदेश भी देना जानते हैं। सोनीपत जींद के इस सियासी संघर्ष में वे मजबूती से उनका साथ दें। वकीलों ने हुड्डा का समर्थन देने का वादा किया और बार एसो. के प्रधान राजेश गोयत ने कार्यकर्ता बैठक में इसकी विधिवत्त घोषणा भी की। 
-------
ये रहे मौजूद
कायकर्ता बैठक में विधायक जगबीर मलिक,विधायक श्रीकृष्ण हुड्डा,पूर्व सांसद शादीलाल बतरा,पूर्व मंत्री कृष्ण मूर्ति हुड्डा, पूर्वमंत्री बचन सिंह आर्य,पूर्व मंत्री रणसिहं मान,पूर्व विधायक आईजी शेर सिंह, पूर्व विधायक संत कुमार,पूर्व मंत्री रामभज लोधर,सुमित्रा चौहान,कर्मवीर सैनी,बलजीत रेढू,अंशुल सिंगला,जगबीर ढिगाना,दीपक पिंडारा,वीना देशवाल,सतपाल ढांडा,राजबीर कटारिया,प्रकाश बोहतवाला,रणबीर पहलवान,प्रमोद सहवाग,मनोज कुमारी अहलावत,चांदवीर हुड्डा,धमेंद्र ढुल,ऋषिपाल प्रधान,रविंद देशवाल,नवनीत,कृष्ण भारद्वाज,रघुवीर चौहान समेत काफी कार्यकर्ता मौजूद थे।
Have something to say? Post your comment