Tuesday, April 23, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
भिवानी: कांग्रेस प्रत्याशी श्रुति चौधरी का नामाकांन के समय जाते हुएवरिष्ठ बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने गांधीनगर में मतदान कियावोट डालने के बाद अखिलेश की पत्नी डिंपल यादव बोलीं, ये चुनाव देश की दिशा तय करेगायूपी में सबसे ज्यादा सीटें गठबंधन की होंगी: अखिलेश यादवधर्मेंद्र यादव की शिकायत के बाद बदायूं में स्वामी प्रसाद मौर्य के घर पर छापेमारीBJP में शामिल हुए अभिनेता सनी देओल, पंजाब के गुरदासपुर से लड़ सकते हैं चुनावबीजेपी में शामिल होने के बाद सनी देओल ने कहा, हर वक्त काम करके दिखाऊंगापापा अटलजी के साथ जुड़े, मैं मोदी के साथ: बीजेपी में शामिल होने पर सनी देओल
Haryana

सीएम फ्लाइंग की जांच से जुड़े दस्तावेज नष्ट करने जा रहे बहादुरगढ़ आरटीए ऑफिस के 2 टीएसअाई गिर‌फ्तार, ओवरलोड वाहनों के चालान न करने के एवज में मंथली वसूली के 30 लाख रुपए भी बरामद

April 14, 2019 07:30 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR APRIL14

सीएम फ्लाइंग की जांच से जुड़े दस्तावेज नष्ट करने जा रहे बहादुरगढ़ आरटीए ऑफिस के 2 टीएसअाई गिर‌फ्तार, ओवरलोड वाहनों के चालान न करने के एवज में मंथली वसूली के 30 लाख रुपए भी बरामद
सीएम फ्लाइंग ने पानीपत पुलिस को कार का नंबर दे टोल प्लाजा पर पकड़वाया, 2 दिन के रिमांड पर भेजा; रिश्वत में किस-किसका हिस्सा, जांच में पता चलेगा

सीएम फ्लाइंग की जांच से जुड़े दस्तावेजाें काे नष्ट करने जा रहे बहादुरगढ़ अारटीए ऑफिस के दाे ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर (टीएसअाई) काे शुक्रवार रात सीएम फ्लाइंग टीम ने पानीपत में गिरफ्तार किया है। उनकी कार से दस्तावेजाें के अलावा मंथली वसूली के 30 लाख 30 हजार 500 रु. भी बरामद हुए हैं। यह वसूली ट्रांसपाेर्टराें से अाेवरलाेड वाहनाें के चालान न करने के एवज में की गई। सीएम फ्लाइंग राेहतक के डीएसपी अजीत सिंह ने पानीपत के सेक्टर 13/17 थाने में दोनों के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा 13(1) अाैर 13 (डी) के तहत केस दर्ज कराया है। शनिवार काे उन्हें काेर्ट में पेश किया गया, जहां से दाे दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा है। मामले की जांच कर रही सीएम फ्लाइंग दाेनाें आराेपियों काे अपने साथ ले गई है। वसूली गई राशि में किन-किन अफसरों काे हिस्सा जाना था, इस बारे में अाराेपियाें से पूछताछ की जा रही है।
टीएसआई जसबीर व राजेश पुलिस गिरफ्त में।
आरोपी जसबीर कुरुक्षेत्र और राजेश करनाल का
पुलिस के अनुसार डीएसपी अजीत काे गुप्त सूचना मिली थी कि अारटीए विभाग के बहादुरगढ़ ऑफिस में तैनात टीएसअाई जसबीर सिंह व राजेश नारंग सीएम फ्लाइंग के रोहतक कार्यालय में चल रही अारटीए की जांच से संबंधित दस्तावेज खुर्द-बुर्द करने के लिए स्विफ्ट डिजायर में जा रहे हैं। इस पर इंस्पेक्टर संदीप कुमार के नेतृत्व में एक टीम बहादुरगढ़ रवाना की गई। बाद में पता चला कि अाराेपियाें की कार पानीपत की तरफ गई है। इस पर डीएसपी अजीत सिंह पानीपत के लिए चल पड़े। उन्होंने पानीपत पुलिस काे कार का नंबर देकर उसे राेकने को कहा। सेक्टर-13/17 पुलिस ने रात 9:30 बजे कार काे टाेल प्लाजा के पास राेक लिया। पुलिस ने कार से कुरुक्षेत्र के दामली निवासी जसबीर पुत्र गुरचरण निवासी व करनाल के सेक्टर-13 निवासी राजेश नारंग पुत्र हरिचन्द काे गिरफ्तार किया। रात करीब 12:30 बजे उनके खिलाफ केस दर्ज कराया गया।
एक थैले में 20 लाख, दूसरे में 10.30 लाख मिले
कार की तलाशी लेने पर अारटीए कार्यालय के दस्तावेज, लैपटाॅप बरामद हुए। जसबीर की सीट के पास से थैले में 20 लाख रु. व राजेश नारंग की सीट के पास थैले में 10 लाख 30 हजार 500 रु. बरामद हुए। दाेनाें ने कबूला कि वे अलग-अलग ट्रांसपाेर्ट की अाेवरलाेड गाड़ियाें के चालान न करने के एवज में मासिक वसूली करते हैं। वे ट्रांसपाेर्टराें से रुपए एकत्र करके ले जा रहे थे।
सरकार काे कराेड़ाें का चूना लगा रहे आरटीए अफसर
राेजाना हजाराें की संख्या में अाेवरलाेड वाहन दिल्ली व चंडीगढ़ की तरफ अाते-जाते हैं। हर वाहन बहादुरगढ़ में चैक हाेता है। अारटीए के अधिकारी ट्रांसपाेर्टराें से सांठगांठ कर अाेवरलाेड वाहनाें के चालान नहीं करते हैं। इसके एवज में ट्रांसपाेर्टर माेटी रकम हर माह अारटीए अधिकारियाें काे पहुंचाते

 
Have something to say? Post your comment