Tuesday, April 23, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
भिवानी: कांग्रेस प्रत्याशी श्रुति चौधरी का नामाकांन के समय जाते हुएवरिष्ठ बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने गांधीनगर में मतदान कियावोट डालने के बाद अखिलेश की पत्नी डिंपल यादव बोलीं, ये चुनाव देश की दिशा तय करेगायूपी में सबसे ज्यादा सीटें गठबंधन की होंगी: अखिलेश यादवधर्मेंद्र यादव की शिकायत के बाद बदायूं में स्वामी प्रसाद मौर्य के घर पर छापेमारीBJP में शामिल हुए अभिनेता सनी देओल, पंजाब के गुरदासपुर से लड़ सकते हैं चुनावबीजेपी में शामिल होने के बाद सनी देओल ने कहा, हर वक्त काम करके दिखाऊंगापापा अटलजी के साथ जुड़े, मैं मोदी के साथ: बीजेपी में शामिल होने पर सनी देओल
Haryana

लाठी-गोलियों से लोगों की आवाज़ दबाने की आदी हो गई है हरियाणा सरकार - दिग्विजय चौटाला

April 13, 2019 07:15 PM
करनाल में शुक्रवार को आईटीआई के छात्रों पर हुई पुलिसिया कार्रवाई की छात्र संगठन इनसो ने कड़ी निंदा की है। इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने कहा कि मौजूदा खट्टर सरकार लोगों से बात करने की बजाय उन पर लाठी-गोली चलवाने में यकीन रखती है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि बीते 4 सालों में जब भी किसी बात को लेकर नाराज लोग सड़कों पर उतरे हैं, भाजपा सरकार ने उन्हें मनाने या समझाने की बजाय उन पर बल प्रयोग किया है। नेताओं और प्रशासनिक अधिकारी उनकी बात सुनने नहीं जाते, बल्कि लाठियां और बंदूक लेकर सीधे पुलिस भेजी जाती है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि करनाल में अपने साथी की मौत से दुखी 16-18 उम्र के बच्चों पर लाठियां चलवाते वक्त वहां से विधायक और प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी को जरा भी ख्याल नहीं आया क्योंकि उन्हें पता ही नहीं कि बच्चों में तो उनके माता-पिता की जान बसती है।
वहीं इनसो के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप देसवाल शनिवार सुबह करनाल पहुंचे और कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में भर्ती छात्रों का हालचाल जाना। प्रदीप देसवाल घायल छात्राओं से उनके घर जाकर भी मिले। छात्राओं ने उन्हें बताया कि बेशर्मी और बर्बरता की हद दिखाते हुए पुलिस के जवानों ने उन्हें गिरेबान पकड़कर पीटा और लाठियां मारी। छात्राओं ने बताया कि पुलिसकर्मियों ने उन्हें बुरी-भली बातें कही जैसे उन्होंने कोई बहुत बड़ा गलत काम कर दिया हो। देसवाल को अस्तपाल में भर्ती एक अपाहिज दलित छात्र ने बताया कि उसकी टांग में 3 जगह फ्रैक्चर है और वह चलने फिरने से लाचार हो गया है। इस छात्र ने ये तक बताया कि सरकार से जुड़े लोग अस्तपाल में उसे धमकाकर जा रहे हैं कि किसी को ज्यादा कुछ बताने की जरूरत नहीं है।धमकाने आए लोगों पर जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करने का आरोप भी इस छात्र ने लगाया है।
देसवाल ने आईटीआई का दौरा भी किया जहां उन्हें पता चला कि पुलिसकर्मियों ने संस्थान के प्रिंसीपल को भी लाठियां मारी है और बहुत तोड़फोड़ की है। देसवाल ने बताया कि पुलिस अधिकारी अपने साथ आईटीआई कैंपस के सीसीटीवी कैमरा की रिकॉर्डिंग वाली हार्ड डिस्क ले गए हैं ताकि उनकी करतूत किसी को पता ना चल सके। प्रदीप देसवाल ने कहा कि ऐसा लगता है भाजपा सरकार हरियाणा के हालात भी कश्मीर जैसे करना चाहती है। उन्होंने कहा कि ऐसी बर्बरता तो कोई दुश्मनों पर भी नहीं दिखाता जैसी करनाल पुलिस ने किशोर छात्र-छात्राओं पर दिखाई है। देसवाल ने कहा कि शनिवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल अपने काफिले के साथ करनाल पहुंचे थे लेकिन एक दिन पहले हुए तांडव और छात्राओं पर अत्याचार पर उन्होंने ध्यान देना जरूरी नहीं समझा।
इनसो प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि उनका संगठन इसके खिलाफ सोमवार को प्रदेशव्यापी प्रदर्शन करेगा और सभी जिला मुख्यालयों पर सरकार से दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेगा। इस मौके पर प्रदीप देसवाल के साथ इनसो जिलाध्यक्ष उत्तम घनघण समेत कई छात्र नेता मौजूद थे।
 
Have something to say? Post your comment