Tuesday, April 23, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
भिवानी: कांग्रेस प्रत्याशी श्रुति चौधरी का नामाकांन के समय जाते हुएवरिष्ठ बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने गांधीनगर में मतदान कियावोट डालने के बाद अखिलेश की पत्नी डिंपल यादव बोलीं, ये चुनाव देश की दिशा तय करेगायूपी में सबसे ज्यादा सीटें गठबंधन की होंगी: अखिलेश यादवधर्मेंद्र यादव की शिकायत के बाद बदायूं में स्वामी प्रसाद मौर्य के घर पर छापेमारीBJP में शामिल हुए अभिनेता सनी देओल, पंजाब के गुरदासपुर से लड़ सकते हैं चुनावबीजेपी में शामिल होने के बाद सनी देओल ने कहा, हर वक्त काम करके दिखाऊंगापापा अटलजी के साथ जुड़े, मैं मोदी के साथ: बीजेपी में शामिल होने पर सनी देओल
Haryana

कानूनन नामांकन भरने की अंतिम तिथि तक  मतदाता सूची में नाम डाला जा सकता है - हेमंत

April 09, 2019 02:15 PM

Vg*हरियाणा में नए वोटरों को केवल 12 अप्रैल तक रजिस्टर करने पर एडवोकेट की चुनाव आयोग में आर.टी.आई.* *कानूनन नामांकन भरने की अंतिम तिथि तक  मतदाता सूची में नाम डाला जा सकता है - हेमंत*  चंडीगढ़ -   आगामी 12  मई  2019  को देश की 17 वी लोक सभा के लिए  हरियाणा की सभी 10  सीटों पर होने वाले चुनावो के दृष्टिगत बीते जनवरी माह की 31 तारिख को  प्रकाशित मतदाता सूचियों  के अनुसार हरियाणा में  मतदाताओं की  कुल संख्या 1  करोड़ 73  लाख 55  हज़ार 247  है. गत 10 मार्च 2019  को भारतीय चुनाव आयोग द्वारा पूरे देश में लोक सभा चुनावो के कार्यक्रम की घोषणा करने के बाद प्रश्न यह उठता है  क्या अब भी  मतदाता सूची   में अब भी नए मतदाताओं  का  नाम डाला जा सकता है या नहीं ? गत मार्च माह से   हरियाणा के मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय द्वारा अपनी आधिकारिक वेबसाइट एवं  ट्विटर हैंडल पर इस सम्बन्ध में  एक  विज्ञापन जारी कर अपील की रही  है  कि राज्य में नए वोटर आगामी 12 अप्रैल 2019 दोपहर तीन बजे तक अपने आपको रजिस्टर करवा सकते है. पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के एडवोकेट हेमंत कुमार ने बताया कि  लोक प्रतिनिधित्व कानून   के अंतर्गत  किसी प्रदेश में चुनावो की अधिसूचना जारी होने के उपरान्त उम्मीदवारों द्वारा नामांकन भरने की प्रक्रिया प्रारम्भ हो जाती है एवं यह लगभग एक सप्ताह तक चलती है. इसी प्रक्रिया में  अंतिम दिन जिस प्रकार दोपहर तीन बजे तक उम्मीदवारों द्वारा नामांकन दाखिल किये जा सकते हैं, ठीक उसी समय तक मतदाता सूचियों में भी  संशोधन किया जा सकता है अर्थात नए नाम डाले जा सकते है. ऐसा लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1950   की धारा 23 (3 ) के अनुसार किया जा सकता है. एडवोकेट हेमंत ने इस सम्बन्ध में माननीय सुप्रीम कोर्ट के जुलाई, 1977 के एक  निर्णय- नरेंद्र माड़ीवालापा खेनी बनाम माणिकराव पाटिल  का हवाला भी दिया जिसमें कोर्ट द्वारा इस  कानूनी व्यवस्था को  दोहराया गया था. उन्होंने  बताया की किसी क्षेत्र में  मतदाता सूची में नाम डलवाने के किये उस क्षेत्र के सामान्य निवासी  की आयु उस वर्ष एक जनवरी को कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए. जब कुछ दिनों पहले हेमंत ने  हरियाणा के  मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय में लिखकर पूछा  की  राज्य में नए वोटर की रूप में रजिस्टर होने की लिए 12 अप्रैल 2019 दोपहर तीन बजे तक का समय किस आधार पर तय किया है जबकि प्रदेश में नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि 23 अप्रैल 2019 है, तो उन्हें जवाब दिया गया की ऐसा भारतीय चुनाव आयोग द्वारा इस वर्ष 14 फरवरी 2019 को देश के सभी राज्यों के  मुख्य चुनाव अधिकारियों को जारी किये गए एक पत्र की अनुपालना में किया जा रहा है. जब हेमंत ने उक्त पत्र को पड़ा को उन्हें इसमें कुछ विसंगति नज़र आयी क्योंकि इसके एक पारा में तो नए मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में डालने के लिए नामांकन भरने की अंतिम तिथि उल्लेखित है परन्तु दूसरी जगह इस सम्बन्ध में निर्धारित फॉर्म 6 भर कर  सौंपने के लिए नामांकन से दस दिन पहले का ही समय समय दिया गया है. इसी सम्बन्ध में हेमंत ने आज भारतीय  चुनाव आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर एक  आर.टी.आई दायर कर यह सूचना मांगी है आयोग द्वारा यह 10  दिनों का  अंतराल किस आधार पर  रखा गया है ?  ज्ञात रहे कि अभी बीते कल ही हरियाणा के मुख्य चुनाव अधिकारी राजीव रंजन ने बताया है की 31 जनवरी 2019 से लेकर अब तक हरियाणा में 5.21 लाख नए मतदाता अब तक अपने को रजिस्टर करवा चुके है एवं यह संख्या आगामी 12 अप्रैल तक 30 से 35 हज़ार तक और बढ़ सकती है. हालांकि एडवोकेट हेमंत का मानना है कि कानूनन नए मतदाताओं के नाम हरियाणा में  23 अप्रैल दोपहर तीन बजे तक अर्थात प्रदेश में नामांकन दायर करने के निर्धारित समय तक मतदाता सूची में डाले जा सकते हैं.  

 
Have something to say? Post your comment