Saturday, April 20, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
कांग्रेस ने पंजाब लोकसभा चुनाव के लिए 2 उम्मीदवारों की सूची जारी कीलोकसभा आम चुनाव 2019 के लिए हरियाणा की 10 लोकसभा क्षेत्रों से 20 अप्रैल को 39 उम्मीदवारों ने 41 नामांकन पत्र दाखिल कियेकांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए तय किए दिल्ली की सातों सीटों पर अपने उम्मीदवार- सूत्र NIA ने हैदराबाद के 3 और वर्धा में एक जगह पर ISIS मॉड्यूल मामले में की सर्चिंगचुनाव आयोग ने मालदा के SP का तीसरे चरण के मतदान से पहले किया तबादलागुजरात: मंत्री गनपत वसावा के ब‍िगड़े बोल- राहुल गांधी को कुत्ते का पिल्ला कहाIPL: मुंबई इंडियंस को दूसरा झटका, सूर्य कुमार यादव लौटेअमेठी में राहुल गांधी के बाद अब स्मृति ईरानी के नामांकन पत्र पर आपत्ति
International

डेनमार्क में तलाक बढ़े तो कानून बनाया- ऑनलाइन कोर्स करना होगा,

April 06, 2019 05:58 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR APRIL 6



डेनमार्क में तलाक बढ़े तो कानून बनाया- ऑनलाइन कोर्स करना होगा, इधर झुंझुनूं में 'तीन तलाक' का विज्ञापन दिया, रिश्ता खत्म
 : झुंझुनूं में कार नहीं मिलने पर विवाहिता को घर से निकाला, फिर दिया तीन तलाक

कोपेनहेगन/झुंझुनूं | यूरोपीय देश डेनमार्क में छोटी-छोटी बातों पर तलाक लेने वालों के खिलाफ सरकार ने सख्ती दिखाते हुए एक नया कानून बनाया है। इसके तहत दंपती को तलाक लेने से पहले 30 मिनट का एक ऑनलाइन कोर्स करना जरूरी होगा। इसमें कई अहम बुनियादी सवाल हैं, जिन्हें लोग तलाक से पहले अनदेखा करते हैं। यह कोर्स ऑनलाइन और मोबाइल एप पर उपलब्ध करा दिया गया है। इसके लिए सिर्फ 60 डॉलर जमा करने होते हैं।
वहीं, दूसरी ओर राजस्थान के झुंझुनूं में शादी में कार की मांग पूरी नहीं हुई तो पति ने पहले पत्नी को घर से निकाला। फिर अखबार में विज्ञापन के जरिए तीन बार तलाक कहकर संबंध तोड़ दिया है। हैरानी की बात है कि तलाक की बात पत्नी व उसके मायके वालों को काफी दिन बाद दूसरे लोगों से पता चली। पीड़िता ने महिला थाने में दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज करवाया है।
थानाधिकारी कंवरपाल सिंह के अनुसार इस्लामपुर निवासी नाजरा बानो ने रिपोर्ट देकर बताया कि उसका निकाह राजगढ़(सादुलपुर) निवासी मोहम्मद अल्ताफ न्यारिया से हुई थी। 29 मार्च 2018 को उसका मुकलावा किया गया। इसमें जेवरात व सामान समेत 51 हजार रु. नकद दिए गए, लेकिन ससुराल वाले संतुष्ट नहीं हुए। वे कार व एक लाख रु. नकदी की मांग करने लगे। नाजरा के पिता इमामुद्दीन न्यारिया ने बाद में एक लाख रु. दे दिए तो ससुर इशाक न्यारिया, सास मदीना, जेठानी रुबीना कार के लिए परेशान करने लगे। इसके बाद उन्होंने नाजरा को घर से निकाल दिया। मांग पूरी नहीं होते देख पति अल्ताफ ने अखबार के माध्यम से तलाक दे दिया।
उधर, डेनमार्क की बता करें तो यहां ऑनलाइन आवेदन से हफ्तेभर में तलाक मिल जाता है। इसलिए यहां तलाक दर 46.5% है। यानी 100 शादियों में से करीब 46 टूट रही हैं। यह यूरोप में सबसे ज्यादा है। अब तलाक के दौरान 3 माह का समय आपसी सुलह-सफाई के लिए भी दिया जाएगा। अगर दंपती ने यह कोर्स पूरा नहीं किया, तो उनका तलाक अवैध माना जाएगा। कानून 1 अप्रैल से प्रभावी है।
झुंझुनूं : नोटिस भेजा, पत्नी ने नहीं लिया तो विज्ञापन छपवाया
झुंझुनूं पुलिस को पीड़िता नाजारा ने बताया कि विज्ञापन में तीन बार तलाक लिखा गया है। तलाक 2 जनवरी 2019 को देने की बात कही है। जो 2 अप्रैल से प्रभावी माना गया है। इसमें बताया गया है कि इस संबंध में 5 जनवरी को विवाहिता को नोटिस से सूचना भी भेजी गई थी, लेकिन उसने लेने से इंकार कर दिया। इसलिए विज्ञापन छपवाया गया है।

 
Have something to say? Post your comment
 
More International News
California almonds at the heart of illegal LoC trade नॉर्थ कोरिया के नेता किम जोंग उन अप्रैल के अंत में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलेंगे पूर्वी ताइवान में ​​6.1 तीव्रता का भूकंप, राजधानी ताइपे में इमारतों को खासा नुकसान विजय माल्या: सरकारी बैंकों का पूरा कर्ज चुकाना चाहता हूं Sanders’ tax returns show he became millionaire after 2016 White House run फ्रांस के राष्ट्रपति ने नोट्र-डाम चर्च पर लगी आग पर दुख जताया अमेरिकी सेना का दावा, सोमालिया में मारा गया ISIS नेता अब्दुल हाकिम पाकिस्तान: क्वेटा में हुए विस्फोट में मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 20 हुआ UAE का ऐलान- भारत होगा अबू धाबी इंटरनेशनल बुक फेयर का गेस्ट ऑफ ऑनर विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे को ब्रिटिश पुलिस ने किया गिरफ्तार