Sunday, April 21, 2019
Follow us on
International

फेसबुक ने कहा- 24 घंटे की मेहनत, हटाए 15 लाख विडियो

March 18, 2019 07:07 AM

COURTESY NBT MARCH 18

फेसबुक ने कहा- 24 घंटे की मेहनत, हटाए 15 लाख विडियो


मुस्लिम समुदाय के लिए फंड जुटा रहा यहूदी समूह
आतंकी हमले में बीवी को खोने वाले फरीद अहमद ने हमलावर ब्रैंटन को माफ करने की अपील की है। कहा कि उन्हें हमलावर से कोई नफरत नहीं है। उनकी बीवी ने हमले के दौरान महिलाओं और बच्चों को बचाने में अपनी जान गंवा दी थी।• पाकिस्तान सरकार ने मस्जिद में हमलावर से भिड़ने वाले ऐबटाबाद के रािशद को मरणोपरांत नैशनल अवॉर्ड देने का फैसला किया है। वह हमलावर से भिड़ गए थे, जिस दौरान उन्हें गोली मार दी गई थी। हमले में उनके बेटे की भी जान चली गई।• एएफपी, वेलिंगटन

 

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने रविवार को कहा कि वह फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया कंपनियों से इस बात का जवाब चाहती हैं कि उनकी सोशल साइट पर मस्जिदों में लोगों पर हुए हमले का सीधा प्रसारण कैसे हुआ। प्रधानमंत्री ने कहा कि इन दिग्गज सोशल मीडिया कंपनियों को कई सवालों का जवाब देना होगा। फेसबुक की मुख्य ऑपरेटिंग अधिकारी शेरिल सैंडबर्ग उनके संपर्क में हैं। मस्जिदों पर हमला करने वाले बंदूकधारी द्वारा बनाया गया भयानक विडियो फेसबुक पर लाइव चला था। हालांकि बाद में इसे कंपनी ने हटा लिया, लेकिन 17 मिनट का यह विडियो यूट्यूब और ट्विटर सहित अन्य इंटरनेट प्लेटफॉर्म पर लगातार साझा किया जाता रहा और ये कंपनियां इन विडियो को हटाने के लिए संघर्ष करती रहीं। अर्डर्न ने कहा, ‘हमने विडियो हटवाने के लिए हर संभव कोशिश की।’ फेसबुक न्यूजीलैंड की मिया गार्लिक ने रविवार को एक बयान में कहा कि पहले 24 घंटे में हमने दुनियाभर से 15 लाख विडियो हटाए जिनमें से 12 लाख को अपलोड करते समय ब्लॉक किया गया है।'

हमले से 9 मिनट पहले मिला था हमलावर का मेनिफेस्टो : अर्डर्न ने बताया कि उन्हें क्राइस्टचर्च में हुए हमलों से महज 9 मिनट पहले हमलावर का मेनिफेस्टो मिला था। बताया कि हमलावर को 36 मिनट में काबू में कर लिया गया था। अर्डर्न ने कहा कि देश में बंदूक कानून को भी सख्त बनाने पर काम किया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हमलावर ब्रैंटन के पास 5 लाइसेंसी हथियार थे।
न्यूजीलैंड की पीएम ने पूछा, फेसबुक ने लाइव क्यों दिखाया कत्लेआम
न्यूजीलैंड पीएम जेसिंडा अर्डर्न
पेन्सिलवेनिया के पिट्सबर्ग का एक यहूदी समूह न्यूजीलैंड की दो मस्जिदों में हुई गोलीबारी के पीड़ितों के लिए फंड जुटा रहा है। ये समूह मुस्लिम समुदाय की उदारता का शुक्रिया अदा करने के लिए यह काम कर रहा है।

 
Have something to say? Post your comment
 
More International News
California almonds at the heart of illegal LoC trade नॉर्थ कोरिया के नेता किम जोंग उन अप्रैल के अंत में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलेंगे पूर्वी ताइवान में ​​6.1 तीव्रता का भूकंप, राजधानी ताइपे में इमारतों को खासा नुकसान विजय माल्या: सरकारी बैंकों का पूरा कर्ज चुकाना चाहता हूं Sanders’ tax returns show he became millionaire after 2016 White House run फ्रांस के राष्ट्रपति ने नोट्र-डाम चर्च पर लगी आग पर दुख जताया अमेरिकी सेना का दावा, सोमालिया में मारा गया ISIS नेता अब्दुल हाकिम पाकिस्तान: क्वेटा में हुए विस्फोट में मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 20 हुआ UAE का ऐलान- भारत होगा अबू धाबी इंटरनेशनल बुक फेयर का गेस्ट ऑफ ऑनर विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे को ब्रिटिश पुलिस ने किया गिरफ्तार