Tuesday, March 26, 2019
Follow us on
Haryana

आचार संहिता का उल्लंघन करने वालों की 1950 नंबर पर कर सकेंगे शिकायत

March 13, 2019 07:07 AM

COURTESY DAINIK BHASKAR MARCH 13

आचार संहिता का उल्लंघन करने वालों की 1950 नंबर पर कर सकेंगे शिकायत
डीसी ने प्रशासनिक अफसरों को जिम्मेदारियां बांटी, रखेंगे नजर
डीसी एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डाॅ. बलकार सिंह ने लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लागू करने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों को जिम्मेदारियां बांट दी हैं। एडीसी उत्तम सिंह को नोडल अफसर बनाया गया है और उनके साथ कालका विधानसभा क्षेत्र के लिए जिला राजस्व अधिकारी रामफल कटारिया व पंचकूला विधानसभा क्षेत्र के लिए जिला विकास व पंचायत अधिकारी कंवर दमनपाल की ड्यूटी लगाई गई है।
सरकारी और निजी संपत्ती पर चुनाव प्रचार सामग्री लगाने संबंधी चुनाव आयोग के अधिनियम प्रिवेंसिव आॅफ डिफेंसमेंट आॅफ प्रॉपर्टी एक्ट की अनुपालना के लिए भी शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में अधिकारी तैनात किए गए हैं। शहरी क्षेत्र में निगम के ईओ जरनैल सिंह की अगुवाई में टीम बनाई है। ग्रामीण क्षेत्र की प्रचार सामग्री चस्पाने संबंधी गतिविधियों पर नजर रखने की जिम्मेदारी जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी कंवर दमनपाल को दी गई है। उनके साथ टीम में कई अफसर हैं।
होगी मॉनिटरिंग: लोकसभा चुनावों के दौरान विभिन्न राजनीतिक पार्टियों द्वारा दिए जाने वाले विज्ञापनों की मॉनिटरिंग के लिए मीडिया सर्टिफिकेशन एवं मॉनिटरिंग कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी के अध्यक्ष डीसी एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डाॅ. बलकार सिंह होंगे। इस कमेटी के सदस्य के तौर पर एसडीए पंचकूला पंकज कुमार सेतिया, एसडीएम कालका मनीता मलिक व गैर सरकारी सदस्य को शामिल किया गया है। जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी हरदीप सिंह इस कमेटी के सदस्य सचिव होंगे। इस समिति के नोडल अधिकारी व समन्वय अधिकारी सिटी मजिस्ट्रेट गगनदीप सिंह होंगे।
: कमरा नंबर 111 में बनाया कंट्रोल रूम
डीसी ने बताया कि चुनाव संबंधी शिकायतों की मॉनिटरिंग के लिए डीसी ऑफिस के कमरा नंबर 111 में कंट्रोल रूम बनाया गया है। इसके लिए सिटी मजिस्ट्रेट गगनदीप सिंह को नोडल अफसर बनाया गया है और डीसी ऑफिस की सुपरिंटेंडेंट अनीता कुमारी व क्लर्क मनमोहन धमीजा को उनके साथ तैनात किया गया है। कंट्रोल रूम का नंबर 1950 होगा। इस नंबर पर शिकायत देने के साथ साथ मतदाता सूचियों व मतदान केंद्रों के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
: प्रिंटिंग प्रेस संचालकों को निर्देश
सभी प्रिंटिंग प्रेस संचालकों को निर्देश जारी किया है कि उन्हें किसी भी प्रकार की चुनाव सामग्री प्रकाशित करते समय सामग्री के नीचे प्रकाशक का नाम स्पष्ट रूप से लिखना होगा। प्रिंटिंग प्रेस संचालक को चुनाव संबंधित छापी गई प्रत्येक सामग्री की एक प्रति डीसी व जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय में उपलब्ध करवानी होगी। इन आदेशों की अवेहलना करने पर संबंधित प्रिंटिंग प्रेस संचालक के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी और उसका लाइसेंस भी रद्द किया जा सकता है।

 
Have something to say? Post your comment