Thursday, April 18, 2019
Follow us on
BREAKING NEWS
अमित शाह ने कहा-महाराष्ट्र में कांग्रेस का सूपड़ा साफ करके ही दम लेगी बीजेपीहरियाणा पुलिस गुरूग़्राम सोहना की अपराध शाखा ने वाहन चोरी की वारदातों को अन्जाम देने वाले 02 शातिर आरोपियों को काबू करके 6 मोटर साईकल बरामद करने में सफलता हासिल कीनॉर्थ कोरिया के नेता किम जोंग उन अप्रैल के अंत में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलेंगे राहुल गांधी ने कहा-अगर अंबानी को न्याय मिलेगा तो फिर किसान को भी मिलेगा मणिपुर के इंफाल ईस्ट जिले में पोलिंग बूथ पर हवाई फायरिंगजेजेपी आप गठबंधन ने चार प्रत्याशियों के नाम घोषित किए, दुष्यंत चौटाला फिर हिसार से मैदान मेंहरियाणा पुलिस फतेहाबाद ने क्रिकेट सट्टा बुकी करने वालो पर शिकजां कसते हुए छापा मारी करके दो व्यक्तियों को काबू करने मे सफलता हासिल कीअम्बाला के छात्रों ने बनाया स्मार्ट डस्टबिन रोबोट: कचरा देख खुलेगा ढक्कन, भरने पर भेजेगा मैसेज
Business

जल्द 35 हजारी हो सकता है गोल्ड

February 21, 2019 06:08 AM

COURTESY NBT FEB 21

बल इनवेस्टर्स सेफ इनवेस्टमेंट के तहत गोल्ड पर पैसा लगा रहे हैं

इंडस्ट्री की तरफ से डिमांड बढ़ने से सिल्वर भी 450 रुपये छलांग लगाकर आठ माह के उच्चतम स्तर 41,800 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गया
जल्द 35 हजारी हो सकता है गोल्ड
[ विशेष संवाददाता | नई दिल्ली ]

गोल्ड की कीमत आगामी कुछ दिनों में 35 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम से अधिक हो सकती है। हालांकि, बुधवार को घरेलू मांग कम होने से दिल्ली सर्राफा मार्केट में गोल्ड 210 रुपये गिरकर 34,470 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया। हालांकि दूसरी तरफ इंडस्ट्री की तरफ से डिमांड बढ़ने से सिल्वर 450 रुपये छलांग लगाकर आठ माह के उच्चतम स्तर 41,800 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गया। पी पी ज्वैलर्स के वाइस चेयरमैन पवन गुप्ता के अनुसार, ग्लोबल लेवल पर गोल्ड की डिमांड बढ़ रही है। कई इंटरनेशनल कारणों से शेयर मार्केट ढलान पर हैं। ऐसे में ग्लोबल इनवेस्टर्स सेफ इनवेस्टमेंट के तहत गोल्ड पर पैसा लगा रहे हैं। बेशक अभी कुछ समय तक गोल्ड में उतार-चढ़ाव का रुझान रहेगा। अगर ग्लोबल मार्केट में गोल्ड के दाम बढ़ेंगे तो फिर घरेलू मार्केट में इनका बढ़ना तय है, क्योंकि इंपोर्ट भी तो इंटरनेशनल मार्केट प्राइस पर होगा। ऐसे में गोल्ड जल्द ही 35 हजारी भी बन सकता है।

क्या है कारण

लंदन के मेटल मार्केट में गोल्ड के दाम 4.20 डॉलर की बढ़त के साथ 1,343.40 डॉलर प्रति औंस बोला गया। अप्रैल का अमेरिकी गोल्ड फ्यूचर भी 0.60 डॉलर की मजबूती के साथ 1,345.40 डॉलर प्रति औंस पर जा पहुंचा। एक्सपर्ट का कहना है कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक के मिनट्स जारी होने से पहले निवेशकों ने सतर्कता बरतते हुए पीली धातु में निवेश को अधिक तरजीह दी। इसके अलावा, अमेरिका के सरकारी बांड यील्ड में आई गिरावट के कारण दुनिया की अन्य छह प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के कमजोर पड़ने से भी गोल्ड की चमक बढ़ी है।

 
Have something to say? Post your comment