Saturday, September 21, 2019
Follow us on
 
Haryana

रेवाड़ी:श्रम एवं रोजगार मंत्री ने किया ध्वजारोहण, मार्च पास्ट का निरीक्षण

January 26, 2019 03:56 PM
रेवाड़ी के राव तुलाराम स्टेडियम में शनिवार को 70वां गणतंत्रता दिवस समारोह बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर हरियाणा के श्रम एवं रोजगार मंत्री नायब सिंह ने राष्ट्रीय ध्वज फहराकर परेड की सलामी ली एवं मार्च पास्ट का निरीक्षण किया।
 श्रम एवं रोजगार मंत्री ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि रेवाड़ी की ऐतिहासिक एवं वीर-सैनिकों की नगरी में तिरंगा फहराकर मुझे बड़े गर्व एवं खुशी की अनुभुति हो रही है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के लिए अपने प्राणों को न्योछावर करने वाले सभी ज्ञात व अज्ञात शहीदों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ। उन बहादुर सैनिकों को भी नमन करता हूँ, जिन्होंने आजादी के बाद देश की एकता व अखण्डता को बनाए रखने और देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए अपने प्राण न्योछावर कर दिए। 
उन्होंने कहा कि हमें अपने महान स्वतंत्रता सेनानियों, सेवारत व भूतपूर्व सैनिकों व अर्ध-सैनिक बलों के जवानों पर नाज है। राव तुलाराम व गोपाल राव के नेतृत्व में रेवाड़ी क्षेत्र के लोगों ने स्वतंत्रता आंदोलन में  बढ़चढ़ कर भाग लिया और आज़ाद हिन्द फौज में नेता जी सुभाष चंद्र बोस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर जापान व बर्मा तक लड़ाइयां लड़ी। 
उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने देश के इतिहास में पहली बार अभूतपूर्व स्वास्थ्य सेवा ‘आयुष्मान भारत योजना’ शुरू की है। इससे देश के 11 करोड़ परिवारों के करीब 55 करोड़ लोग लाभान्वित हो रहे हैं। हरियाणा के करीब 15 लाख 50 हजार परिवारों के लगभग 75 लाख लोगों को इसका फायदा मिलेगा। अब कोई भी व्यक्ति हरियाणा व केन्द्र सरकार के पैनल में पंजीकृत किसी भी उत्कृष्ट निजी अस्पताल में फ्री ईलाज करवा सकता है। इसके तहत मरीजों को 5 लाख रुपए तक की वार्षिक नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा दी जाती है।
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने किसानों की खुशहाली के लिए ‘सॉयल हैल्थ कार्ड’, ‘प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई’ तथा ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ शुरू की है। फसल बीमा योजना के तहत राज्य के 5 लाख 98 हजार किसानों को करीब 1141 करोड़ रुपये मुआवजे के तौर पर बांटे गए हैं। इसके अलावा धान, ज्वार, बाजरा, दलहन सहित 14 फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य को लागत मूल्य से डेढ़ गुणा से अधिक की बढ़ोतरी की है। इससे हरियाणा के करीब 16 लाख से अधिक किसानों को प्रतिवर्ष 1,500 करोड़ रुपए का लाभ होगा। 
श्री सिंह ने कहा कि हमारी सरकार ने 31 दिसंबर, 2005 के बाद सरकारी नौकरी मेंआए कर्मचारियों का नेशनल पैंशन स्कीम (एनपीएस) में सरकारी अंशदान 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 14 प्रतिशत कर दिया है। इससे राज्य के हजारों सरकारी कर्मचारी लाभांवित होंगे। प्रधानमंत्री ने जन-धन योजना के बाद लोगों को उनके ही गांवों में स्थित पोस्ट ऑफिस को भारतीय पोस्ट पेमैंट बैंक बना दिया है। इससे अब हरियाणा के लोगों को उनके घरों के आसपास ही बैंक की सभी सुविधाएं डाकघरों में मिलने लगी हैं। 
उन्होंने कहा कि देश एवं प्रदेश को भ्रष्ट्राचार के दलदल से निकालने के लिए हमने प्रदेश की 485 सेवाओं कोऑनलाइन किया है। हमारी सरकार ने आम जनता को अनेक टैक्सों के चक्रव्यूह से निकालने के लिए केवल एक जीएसटी टैक्स प्रणाली लागू की है। इससे देशभर में ‘एक राष्ट्र, एक बाजार, एक टैक्स’ व्यवस्था लागू होने से महंगाई दर में कमी आई है। हमारी सरकार ने साफ जल, सस्ती ऊर्जा, किफायती मकान तथा औद्योगिक विकास पर विशेष बल दिया हैं।
श्रम मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हमारी सरकार ने ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मंत्र पर चलते हुए हरियाणा को एक श्रेष्ठ राज्य बनाने का संकल्प लिया है। इसके लिए सरकार ने खेल, शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, कानून व्यवस्था, समाज कल्याण, उद्योग, रोजगार तथा आधारभूत संरचना सहित अन्य क्षेत्रों में अनेक जनहितैषी निर्णय लिये हैं।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त रखने और महिला अपराधों को नियंत्रित करने के लिए ब्लॉक स्तर पर महिला पुलिस थाने, ऑनलाइन एफआईआर दर्ज की सुविधा, दुर्गा रैपिड एक्शन फोर्स, दुर्गा शक्ति वाहिनी तथा दुर्गा शक्ति  एप की शुरूआत की है। इसके अलावा, देश में सबसे पहले हमारी सरकार ने हरियाणा में 12 वर्ष से कम आयु की लड़कियों के साथ यौन अपराध करने वाले दोषियों को मृत्यु दंड देने का प्रावधान किया है।
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने अध्यापकों की ऑनलाइन स्थानांतरण नीति लागू की है, जिसे देश के अन्य 9 राज्यों द्वारा अनुसरण किया जा रहा है। राज्य में 44 नये राजकीय महाविद्यालय खोले गए हैं तथा लड़कियों को 150 किलोमीटर तक फ्री बस पास सुविधा दी गई है। हमने प्रदेश के बुजुर्गों का सम्मान भत्ता बढ़ाकर 2000 रुपये कर अपने संकल्प को पूरा किया है। इसके अतिरिक्त, नगर निकाय की दुकानों या रिहायशी प्रोपर्टी की रजिस्ट्री अब निर्धारित अवधि के किरायदारों के नाम करने का प्रावधान किया गया हैं। 
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने प्रदेश में ‘समान अवसर, समान विकास’ की अवधारणा को पूरा करते हुएसरकारी नौकरियों में भाई-भतीजावाद तथा क्षेत्रवाद रूपी कलंक को हरियाणा की धरती से मिटाने का काम किया है। हमारी सरकार ने प्रदेश के इतिहास में पहली बार करीब 1 लाख 50 हजार युवाओं को सरकारी एवं निजी क्षेत्रों में रोजगार देने का काम किया है। 
सरकार ने पारदर्शी, साक्षात्कार मुक्त एवं मैरिट आधार पर करीब 55 हजार युवाओं को सरकारीमंत्री ने कहा कि नौकरी दी है। इसके अलावा, सक्षम युवा योजना के तहत 53,611 युवाओं को काम दिया गया है, जिनपर इस सरकार ने 336 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। इसी प्रकार, रोजगार मेलों के माध्यम से 26 हजार 537 युवाओं को निजी क्षेत्रों में भी रोजगार दिलवाया है। यही नहीं, हमने इस वर्ष के दौरान रोजगार मेलों द्वारा 25 हजार युवाओं को और समायोजित करवाने का लक्ष्य रखा है। 
श्री नायब सिंह ने हमारी सरकार ने मान्यता प्राप्त पत्रकारों एवं हिन्दी सत्याग्रहियों को 10 हजार रुपये मासिक पैंशन देनी शुरू कर दी है। शहीदों के परिवारों की आर्थिक सहायता राशि 20 लाख से बढ़ाकर 50 लाख रुपये की है तथा विभिन्न युद्घों के 257 शहीदों के आश्रितों को विभिन्न विभागों में सरकारी नौकरियां दी हैं। श्रमिकों तथा नियोक्ताओ की व्यवहारिक परेशानियों को दूर कर उनके न्यूनतम वेतनमान में 52 से 72 प्रतिशत तक की वृद्घि की है। हमने अभी तक 5 लाख 74 हजार श्रमिकों के उत्थान पर करीब 460 करोड़ की राशि खर्च की है। 
उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिला में एक मेडिकल कॉलेज खोलने का लक्ष्य को पूरा करने के लिए झज्जर के बाढ़सा में राष्ट्रीय कैंसर संस्थान एवं 2 नए मेडिकल कॉलेज शुरू कर दिए हैं। हमारी सरकार ने ‘खेल सबके लिए’ के उद्घोष को पूरा करने के लिए प्रदेशभर में 437 ‘व्यायाम एवं योगशालाएं’ बनाई जा चुकी हैं, जबकि 161 पर काम चल रहा है। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने हरियाणा को देश का पहला ‘कैरोसीन मुक्त, एलपीजी युक्त’ राज्य बनाया है। इसके तहत प्रदेश के 7 लाख 85 हजार 324 परिवारों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन वितरित किये जा चुके हैं।
श्री सिंह ने कहा कि हरियाणा में एक बेहतरीन ग्रीन टैक्नोलॉजी युक्त सडक़ तंत्र विकसित किया गया है। इसके अलावा, कुंडली-पलवल-मानेसर एक्सप्रैस-वे, दिल्ली मुकरबा चौक से पानीपत तक 12 मार्गी सडक़ तथा सोनीपत से गोहाना-जीन्द रेलवे मार्ग निमार्ण सहित अन्य कार्यों पर करीब 8500 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं।
रोजगार मंत्री ने कहा कि मुझे यह कहते हुए बड़ा हर्ष हो रहा है कि इतने विकास कार्यों के उपरान्त भी श्री मोदी जी के नेतृत्व में हमारी केन्द्रीय तथा राज्य सरकार पर कोई भी भ्रष्ट्चार का दाग नहीं लगा सका। इस दौरान ‘हरियाणा एक, हरियाणवी एक’ की अवधारणा को पूरा करने के लिए प्रदेश की अढ़ाई करोड़ जनता को एक सूत्र में बांधने का सफल प्रयास किया गया।
सांस्कृतिक कार्यक्रम:
समारोह में सूरज स्कूल रेवाड़ी ने राष्ट्र वंदना, ऋषि पद्ब्रिलक स्कूल ने अलगोचा नृत्य, यूरो इंटरनेशनल स्कूल ने 26 ग्यारह थीम डांस, स्वामी उमा भारती स्कूल ने हरियाणवी नृत्य, होली चाईल्ड ने पंजाबी भंगड़ा, आरपीएस ने काल बेलिया नृत्य तथा राकवमावि रेवाड़ी ने बेटी बचाओ लोक नृत्य, जैन कन्या स्कूल ने राष्ट्रीय गान की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर केन्द्रीय विद्यालय की छात्राओं ने लेजियम की शानदार प्रस्तुति दी।
मार्च पास्ट:
मार्च पास्ट में हरियाणा पुलिस का नेतृत्व एसआई रजनीश कुमार, महिला पुलिस का नेतृत्व एसआई बालवती, होम गार्डस का नेतृत्व प्लाटून कमांडर सुधीर कुमार, सैनिक स्कूल का कैडेट सचिन चौधरी, केएलपी कालेज का कैडेट हितेष, राजकीय महिला कालेज की कैडेट दीपिका, टैगौर पद्ब्रिलक स्कूल का स्काउट दीपक, जेएनवी नैचाना का स्काउट, गल्र्स गाईड संजना, प्रजातंत्र के प्रहरी का नेतृत्व छात्रा सरिता ने किया। परेड के इंचार्ज डीएसपी अनिल कुमार थे।
झांकिया:
इस अवसर पर 17 भव्य झांकिया भी निकाली गईं, जिनमें हरियाणा राज्य परिवहन, वन विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, समाज कल्याण विभाग, शिक्षा विभाग, उद्यान विभाग, आयुर्वेद विभाग, स्वास्थ्य विभाग, डीआरडीए, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा, कृषि, सिंचाई, महिला आईटीआई, एलडीएम तथा हीरो मोटोकॉर्प की झांकिया शामिल रहीं। इन झांकियों में डीआरडीए विभाग प्रथम, स्वास्थ्य विभाग द्वितीय तथा डीएसडद्ब्रल्यूओ अंत्योदय की झांकी तृतीय स्थान पर रही।
मुख्य अतिथि ने इस अवसर पर स्वतंत्रता सैनानियों, युद्ध वीरांगणाओं, जिला के मेद्यावी छात्र-छात्राओं, सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले बच्चों, विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों व समाज सेवियों को पुरस्कृत किया। 
इस अवसर पर श्रम एवं रोजगार मंत्री ने सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रतिभागी बच्चों के लिए 5 लाख रुपए देने की घोषणा की। 
इस अवसर पर एलएलए रेवाड़ी रणधीर सिंह कापड़ीवास, एमएलए कोसली बिक्रम सिंह यादव, एडीजीपी साऊथ रेंज श्रीकांत जाधव, उपायुक्त अशोक कमार शर्मा, एसडीसी प्रदीप दहिया, जिला एवं सत्र न्यायाधीश दिनेश कुमार मितल, सिविल जज मोहित अग्रवाल, सीजेएम कीर्ति जैन, एडीजे अंबर दीप, सविल जज मोहम्मद इम्तयाज खान, जिला भाजपा अध्यक्ष योगेन्द्र पालीवाल, सफाई कर्मचारी आयोग के उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार, व्यवसायिक प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक सतीश खोला, लक्ष्मण यादव, प्रीतम चौहान, जितेन्द्र, रामपाल यादव सहित  जिले के विभिन्न विभागों के अधिकारीगण, स्वतंत्रता सेनानी, युद्ध वीरांगनाएं एवं प्रतिष्ठित व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। 
इससे पूर्व हरियाणा के श्रम एवं रोजगार मंत्री नायब सिंह ने बावल रोड स्थित युद्घ स्मारक पर पहुंचकर शहीदों को अपनी श्रद्घांजलि अर्पित की। 
Have something to say? Post your comment