Thursday, January 17, 2019
Follow us on
National

CBSE के 10वीं में 2020 से होंगे मैथ्स के दो पेपर 11वीं में चाहिए मैथ्स तो पास करना होगा कठिन पेपर

January 12, 2019 05:29 AM

COURTESY NBT JAN 12

CBSE के 10वीं में 2020 से होंगे मैथ्स के दो पेपर
11वीं में चाहिए मैथ्स तो पास करना होगा कठिन पेपर

 

nविस, नई दिल्ली : सीबीएसई ने 10वीं कक्षा की परीक्षा को लेकर कुछ बड़े बदलाव किए हैं जिसके लिए बोर्ड ने सर्कुलर जारी किया है। स्टूडेंट्स अब 2020 में मैथ्स के दो अलग अलग पेपर में बैठेंगे। हालांकि, इंटरनल असेसमेंट में यह नहीं लागू होगा। साथ ही, क्लास 9 में भी दो लेवल का एग्जाम और असेसमेंट नहीं होंगे। मैथ्स का पहला लेवल – मैथमैटिक्स - स्टैंडर्ड, वही होगा जो अभी चल रहा है लेकिन दूसरा लेवल मैथमैटिक्स – बेसिक आसान होगा। स्टैंडर्ड के कठिनाई का लेवल ज्यादा होगा, वहीं बेसिक आसान। दोनों पेपर का सिलेबस और क्लासरूम में पढ़ाई एक ही रहेगी ताकि छात्र पूरे साल सभी टॉपिक को अच्छी तरह समझें। स्टैंडर्ड लेवल उन स्टूडेंट्स के लिए होगा जो कि 10वीं पास करने के बाद आगे भी मैथ्स सब्जेक्ट लेना चाहते हैं और बेसिक मैथ्स उनके लिए होगा जो आगे मैथ्स नहीं पढ़ना चाहते हैं। सीबीएसई ने कहा कि जब स्कूल कैंडिडेट्स की लिस्ट बोर्ड को ऑनलाइन देगा, उस वक्त स्टूडेंट को दोनों लेवल के एग्जाम में से एक को चुनने का मौका मिलेगा। अगर मैथ्स के स्टैंडर्ड लेवल वाला स्टूडेंट बोर्ड एग्जाम में मैथ्स में फेल होता है, तो वो कंपार्टमेंट एग्जाम के दौरान मैथ्स - बेसिक का एग्जाम भी दे सकता है। स्टैंडर्ड का ऑप्शन भी उसके लिए खुला रहेगा। अगर मैथ्स– बेसिक वाला स्टूडेंट बोर्ड एग्जाम में पास हो जाता है और तब उसे लगता है कि वो आगे भी मैथ्स पढ़ना चाहता है, तो वो भी मैथ्स – स्टैंडर्ड का कंपार्टमेंट एग्जाम देकर कोशिश कर सकता है। 11वीं में मैथ्स लेने के लिए स्टैंडर्ड एग्जाम पास करना ही जरूरी है

 
Have something to say? Post your comment